गुरुवार, 28 दिसंबर 2017

पूरे साल तरक्की और पैसा के लिए नए साल से पहले घर की तिजोरी में रख लें ये चीजें


हर इंसान अमीर होने के सपने देखता है. कुछ लोग दिन रात मेहनत करके अमीर हो जाते हैं वहीँ कुछ लोग किस्मत के भरोसे अमीर होने की आशा करते हैं. बहुत से लोगों को आपने अमीर होने के लिए उपाय करते हुए भी देखा होगा. आज हम आपको कुछ ऐसे छोटे-छोटे उपाय बताने जा रहे हैं जो आपको साल खत्म होने से पहले-पहले करने हैं. ये ऊपर आपको नए साल से पहले अमीर बना देंगे.

घर में यंत्रों को स्थापित करने का तरीका 
आपको सबसे पहले किसी पंडित से मिलकर अपने काम को करने के लिए शुभ मुहूर्त निकलवाना है. सबसे पहले मुरली मनोहर एकादशी को श्री महालक्ष्मी जी की पूजा अर्चना करें. इसके बाद अपने घर के सभी हिस्सों में गंगाजल का छिड़काव करके अपने घर के मंदिर को अच्छी तरह से साफ कर लें. फिर एक चौकी पर लाल रंग का कपड़ा बिछाकर उस पर लक्ष्मी माता की तस्वीर रखकर धूप दीप और फूल चढ़ा दें. इसके बाद लक्ष्मी माता की तस्वीर के सामने 11 कौड़ी, 7 गोमती चक्र और महालक्ष्मी यंत्र को रखें और इस मंत्र का 108 बार जप करें- ॐ श्री महालक्ष्म्यै नमः
1. लाल कपड़े में लपेटकर श्री यंत्र को रखें तिजोरी में  
इस पूजा को करने के बाद भगवान का आशीर्वाद समझकर चौकी में बिछाएं हुए कपडें को भगवान का आशीर्वाद समझ लें. इसके बाद इस लाल कपडें में  श्री यंत्र को लपेटकर अपनी तिजोरी में रख दें. ऐसा करने से धीरे-धीरे करके आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो जायेगी. इसके साथ ही आपके घर में माँ लक्ष्मी भी वास करने लग जायेंगी.
2. गोमती चक्र 
ये बात तो सभी को अच्छी तरह से ही पता है कि गोमती चक्र को माँ लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है. गोमती चक्र एक तरफ से उठा हुआ होता है और दूसरी तरफ चक्र बना होता है. ऐसा माना जाता है कि गोमती चक्र की पूजा करने से घर से सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं और घर में खुशियां आती हैं.
3. महालक्ष्मी को प्रिय कौड़ियां 
हमारे पौराणिक शास्त्रों में कुछ ऐसी वस्तुओं के बारे में बताया गया है जिनकी पूजा करने से हम पर सदैव महालक्ष्मी की कृपा बनी रहती है. इन सभी वस्तुओं में सबसे ज्यादा खास है माँ लक्ष्मी को पसंद आने वाली कौड़ियां. पुराणों में बताया गया है कि माँ लक्ष्मी का जन्म समुद्र मंथन से हुआ था. समुद्र में बहुत से रतन पाए जाते हैं. इसलिए किसी भी पूजा में कौड़ी को रखने से माता लक्ष्मी खुश हो जाती हैं.


SHARE THIS
loading...

0 Comments: