प्रसव पीड़ा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
प्रसव पीड़ा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 6 जुलाई 2017

प्रसव पीड़ा को खत्म करने का रामबाण नुस्खा |

प्रसव पीड़ा को खत्म करने का रामबाण नुस्खा |


माँ बनना स्त्री के लिए सबसे बड़ा सुख है पहली बार अपने बच्चे की सूरत देख कर माता प्रसव के समय होने वाली वेदना भी भुला देती है किन्तु फिर भी प्रसव वेदना महिलाओं के लिए एक श्राप के समान है खासकर जब पहला बच्चा पैदा होता है तो यह वेदना प्रसूता के लिए असहनीय हो जाती कभी-कभी तो प्रसूता भी बेहोश हो जाती है प्रसव की इसी वेदना को कम करने की लिए मैं आपको कुछ उपचार बता रही हूँ

उपचार :-

1. तुलसी पत्र का रस पिलाने से या तो प्रसव पीड़ा नहीं होती या कम हो जाती है

2. तुलसी के बीज पानी में भिगो दे जब पानी में बीजों का लुआब अच्छी प्रकार से घुल जाये तो उसमे मिश्री घोलकर प्रसूता को पिला दे प्रसव पीड़ा में कमी हो जाती है

3. यदि प्रसव के समय प्रसूता लहसुन की कच्ची कलिया चबा ले तो प्रसव वेदना आधे से भी कम हो जाती है दर्द से मूर्छा भी नहीं आती दांतों से जीभ व् होंठ काटने से प्रसूता बच जाती है दांतों तले लहसुन की कलियाँ चबाते रहने से प्रसव शीघ्र व् सरलता से हो जाता है

4. नीम की छोटी सी जड़ लेकर प्रसूता की कमर के साथ बांध दे प्रसव हो जाने पर इसे फेंक दे

5. जब प्रसव के दर्द शुरू हो जाये तो नीम के पत्तो का रस गुनगुना करके प्रसूता को पिला दे इससे गर्भाशय में संकुचन होगा और प्रसव जल्दी से हो जाएगा