कद बढ़ाने के लिए लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
कद बढ़ाने के लिए लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 9 फ़रवरी 2017

बच्चों की हाइट बढ़ाना चाहते है तो करें ये उपाय

बच्चों की हाइट बढ़ाना चाहते है तो करें ये उपाय


आजकल माता पिता चाहते हैं की उनके बच्चों की हाइट सब कुछ खिलाने पिलाने के बाद भी उतनी हाइट नहीं बढती जितनी वो लोग उम्मीद करते हैं इसके लिए शायद ही कोई माता पिता होंगे जो अच्छे से अच्छे खाने पीना अपने बच्चों को न देते हों । इसके लिए माएं क्या- क्या जतन नहीं करती। अगर आप भी चाहती हैं कि आपके बच्चे की हाइट अच्छे बढ़े तो आपको अपने बच्चे के लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करना होगा ताकि आपका बच्चा खूब बढ़े और साथ ही खूब सेहतमंद भी हो।


नट्स - बादाम, अखरोट और पिस्ता जैसे नट्स बच्चों की डाइट में जरूर शामिल करें। इन नट्स में प्रोटीन, मिनरल्स और फाइबर अच्छी मात्रा में होता है जिससे बच्चों को हाइट बढ़ने में मदद मिलती है।

दूध – दूध में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है। जो हाइट बढ़ाने में मदद करता है। इसलिए रोजान बच्चे को एक से दो गिलास दूध पीने को दें।

सोया – बॉडी की ग्रोथ के लिए सोया बहुत जरूरी है। इसमें मौजूद अमीनो एसिड आपकी बॉडी को ग्रोथ देते हैं।

केला – केले में मैंगनीज, पोटैशियम और कैल्शियम होता है जो हड्डियों को मजबूत तो बनाता ही है साथ ही हाइट बढ़ाने में भी मदद करता है।

अंडा – अंडे में कैल्शियम, विटामिन बी, डी, प्रोटीन और रिबोफ्लेविन होता है। यह सभी कंटेंट हड्डियों को मजबूती देने के साथ उन्हें बढ़ाते  भी हैं।

फिश – फिश प्रोटीन का अच्छा सोर्स है। फिश में जरूरी कैल्शियम और विटामिन डी होता है जो मसल्स को तो स्ट्रॉन्ग बनाता ही है साथ  में हड्डियों की ग्रोथ में भी मदद करता है।

हरी सब्जियां,पालक, भिंडी, मटर जैसी सब्जियों में विटामिन ए, बी, सी, कैल्शियम, आयरन और मैग्नीशियम होता है जो हाइट बढ़ाने में काफी मददगार होता है।

इसके अलावा इन चीजों का भी रखें ध्यान-

कैल्शियम, मिनरल और विटामिन की कमी को करें दूर :

शरीर के विकास में बाधा आने का सबसे मुख्य कारण खान-पान में कमी है। सही समय पर भोजन न करने से या पौष्टिक आहार ना लेने के कारण हमारे शरीर को आवश्यक विटामिन, प्रोटीन और अन्य पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं जिसके कारण ग्रंथियां सही ढ़ंग से कार्य नहीं कर पाती हैं। इसलिए कैल्शियम, मिनरल और विटामिन युक्त आहार को अपने भोजन में जरूर शामिल करें। मछली, दूध, चीज़, बींस, मीट, मूगंफली, दालें, दही, गाजर, सेब, पालक, चुकदंर, गाजर आदि लंबाई बढ़ाने में मदद करते हैं।

नींद भी है जरुरी :

भरपूर नींद अच्छी सेहत के लिए बहुत जरुरी है परंतु कुछ लोग इसे आलस्य के रुप में देखते हैं। हालांकि ऐसा बिल्कुल नहीं है, नींद इसलिए आवश्यक है क्योंकि इस दौरान ही हमारा शरीर ऊतकों (Tissues) का पुन: निर्माण करता है और इसकी सहायता से ही हम तेजी से बढ़ते हैं। इसलिए किशोर अवस्था में 8 से 10 घंटे की नींद अवश्य लेनी चाहिए।

रविवार, 25 सितंबर 2016

किसी भी उम्र में ऐसे बढ़ाएं कद

किसी भी उम्र में ऐसे बढ़ाएं कद

सामान्य से कम लम्बाई होना बहुत से लोगों के लिए समस्या बन जाती है। लोग सोचते हैं कद किशोरावस्था में ही बढ़ता है। लेकिन ऐसा नहीं है 18 की उम्र के बाद भी कद बढ़ाया जा सकता है।
1.18 के बाद भी बढ़ सकता है कद

    कद हमारी शख्सियत का बहुत खास हिस्सा माना जाता है। जिन लोगों का कद ऊंचा होता है वे न केवल आकर्षक दिखते हैं बल्कि उनके अंदर  अधिक आत्मविश्वास भी होता है। यहां तक कि कई क्षेत्रों में करियर बनाने के लिए ऊंचे कद की जरूरत होती है। इसलिए हर कोई चाहता है कि उसका कद ऊंचा हो। लेकिन कुछ लोगों का कद हार्मोनल, कुपोषण या अन्य दूसरी वजहों के कारण बढ़ नहीं पाता है। आमतौर पर कद 18 साल तक ही बढ़ता है लेकिन आप कुछ खास टिप्स को आजमाकर 25 की उम्र तक कद बढ़ा सकते हैं। आगे की स्‍लाड में जानें यह कैसे संभव है।
2.योग

    ताड़ासन कर शरीर की लम्बाई बड़ाई जा सकती है। छोटे बच्चे और टीनेजर ताड़आसन का नियमित अभ्यास कर अपनी लम्बाई 6 फुट तक भी बढ़ा सकते हैं| ताड़ासन करने के लिए दोनों हाथ ऊपर करके सीधे खड़े हो जायें, फिर गहरी सांस लें, धीरे-धीरे हाथों को ऊपर उठाते जायें और साथ-साथ पैर की एडियां भी उठती रहें। पूरी एड़ी उठाने के बाद शरीर को पूरी तरह से तान दें और फिर गहरी सांस लें। ताड़ासन करने से स्नायु सक्रिय होकर विस्तृत होते हैं। इसी लिए यह कद बढ़ाने में सहायक होता है।
3.स्वस्थ और पोषक आहार

    पौष्टिक भोजन में मौजूद विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम, जिंक, मैग्नीशियम और फास्फोरस लम्बाई बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए स्वस्थ और पोषक आहार लें। कार्बोनेटेड पेय, संतृप्त वसा और अधिक चीनी लेने से परहेज करें, क्योंकि ये आपकी लम्बाई पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं। पेय जैसे दूध, जूस तथा गाजर, मछली, चिकन, अंडे, सोयाबीन, दलिया, आलू, बीन्स और हरी सब्जियां अपने भोजन में शामिल करें। साथ ही बादाम और मूंगफली जैसे नट्स तथा सेब और केले जैसे फल भी आपकी लम्बाई बढ़ाने में मददगार होते हैं।
4.फ्रीक्वेन्ट मील

    भूखे न रहें। प्राकृतिक तरीके से लम्बाई बढ़ाने के लिए आपको अपने मेटाबॉलिज्म (चयापचय) को की मजबूत बनाने की बहुत आवश्यक होती है। एक दिन में छह भोजन लेकर आप अपने चयापचय को मजबूत बना सकते हैं। बीच-बीच में स्वस्थ भोजन लेने से अपके शरीर में कम वसा एकत्रित होगी और इस प्रकार आप प्राकृतिक रूप से अपनी लम्बाई को बढ़ा पाएंगे।
5.पर्याप्त नींद

    इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि लम्बाई जीन पर निर्भर करती है। लेकिन इस बात को भी नहीं नकारा जा सकता कि पर्याप्त नींद स्वस्थ जीवनशैली और शरीर की समग्र वृद्धि और विकास के लिए सबसे अच्छा उपाय है। न सोने या कम नींद लेने का प्रतिकूल प्रभाव हमारे पूरे शरीर पर पड़ता है। पर्याप्त नींद यह सुनिश्चित करती है कि आपकी लम्बाई और वजन ठीक रहेंगे। क्योंकि नींद के दौरान शरीर में ऊतकों का विकास और निर्माण होता है। साथ ही पर्याप्त नींद लेने से लम्बाई को नियंत्रण करने वाले हार्मोन की वृद्धि होती है। इसलिए, एक दिन में कम से कम 7 घंटे की नींद लेना जरूरी होता है।
6.शरीर की उचित मुद्रा

    अनुचित मुद्रा में रहने से शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। सिर और गर्दन झुकाकर चलने, खड़े रहने से लम्बाई पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। यह न केवल आपकी रीढ़ बाहर की ओर झुका देता है, बल्की लम्बाई को भी कम करता है। उचित आसन में रहने से अपकी मांसपेशियों को आराम मिलता है और लम्बाई बढ़ती है।
7.नशे से रहें दूर

    शराब पीना और धूम्रपान गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बनते हैं। धूम्रपान या अल्कोहल लेने वाले व्यक्ति के विकास को और लम्बाई पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहें।
8.धूप लें

    विटामिन 'डी' अपकी हड्डियों के विकास के लिए महत्वपूर्ण होता है, और सूरज की रोशनी विटामिन 'डी' का सबसे अच्छा प्राकृतिक स्रोत है। बस तेज धूप में न जाएं, इसका अधिकतम लाभ पाने के लिए सुबह या शाम के समय की धूप में बाहर जाएं और उसका पूरा लाभ लें।

बुधवार, 24 अगस्त 2016

हाइट बढाने के सरल अचूक और कुदरती उपाय

हाइट बढाने के सरल अचूक और कुदरती उपाय

किसी भी तरह के व्यक्ति की क्षमताओं को कमजोर नही समझा जा सकता ये सत्य हम सभी जानतें है फिर भी एक अच्छी हाइट वाले इंसान अक्सर ध्यान का केंद्र बन जाते है और उसी स्थान पर कई बार कम हाइट के लोग मजाक का पात्र बन जाते है। अकसर देखा गया है कम हाइट वाले लोगो को अपने जीवन में अन्य लोगो के मुकाबले कुछ पहलुओं में अधिक कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। इन्ही हंसी मजाक और कठिनाईयों का सामना करते हुए कई बार उनके कम कद वालों के मन में विश्वास की कमी आ जाती है और वह हीन भावना से भर जाते है।

कुछ लड़के-लड़कियां अपनी इस हीन भावना को दूसरों से छिपाने के लिए लम्बी हील्स वाली सैंडल और जूते का इस्तेमाल करते है जिसका असर उनके स्वास्थ्य पर काफी बुरा पड़ता है। ऊँची हील्स के प्रयोग की जगह आप हमारें कुछ सुझावों को अपनाकर जेनेटिक कारण होते हुए भी अपने कद की लम्बाई में 20 % तक इजाफा स्वाभाविक रूप से प्राप्त कर सकते है।

समूची नींद : 

कई पुरानी पीढ़ी के लोग नींद का अभिप्राय आलस्य से लेते है। उनके अनुसार मेहनतकश लोगो के लिए जितनी नींद कम ली जाएँ उतना अच्छा है पर सत्य इसके विपरीत है जब हम अपनी पूरी नींद लेते है तो हमारा शरीर ऊतकों का पुन: निर्माण करता है। ऊतकों का पुन: निर्माण से हमारा शरीर तेजी से बढ़ता है। बढ़ते बच्चों और किशोरों को 8 से 11 घंटे तक की पूरी नींद लेना अच्छी हाइट के लिए आवश्यक होता है। उचित और गहरी नींद की आदत अगर किसी को बचपन से हो तो स्वाभाविक रूप से हाइट बढ़ाने में काफी मदद मिलती है।

खेल और कसरत : 

व्यायाम और खेलकूद कद प्राप्त करने के सुझावों में सर्वश्रेष्ठ है। शारीरिक रूप से सक्रिय रहने के फलस्वरूप आपका शरीर स्वस्थ रहता है और शरीर में खिचाव के साथ-साथ बॉडी में पोषक तत्वों और विटामिनों की मांग काफी बढ़ जाती है और इसी कारण खेल और कसरत से आपका विकास काफी अच्छा होता है।

आप खेल में तैराकी, एरोबिक्स, टेनिस, क्रिकेट, फुटबॉल, बास्केटबॉल या खींच वाले व्यायाम दैनिक गतिविधियों में शामिल कर एक अच्छी हाइट और अच्छी बॉडी खेल-खेल में हासिल कर सकते है। रीढ़ की हड्डी के साथ हैंगिंग या फिर सिंपल हैंगिंग 12 सेट बनाकर बार-बार दोहराना या 2 घंटे की तैराकी लंबाई बढ़ाने में बहुत कारगर उपाय है।

योगाभ्यास : 

योग स्वाभाविक रूप से शारीरिक कद बढ़ाने का एक ज़ोरदार तरीका है। योग आपकी अपेक्षा से अधिक अच्छे नतीजे प्रदान करता है इसलिए लम्बाई की चाह रखने वाले कभी भी योग की अनदेखी ना करें। योग में खींच और संतुलन वाले योग का अभ्यास कर आप मांसपेशियों को मजबूत कर अपनी शारीरिक मुद्रा में भी सुधार ला सकते है आप अच्छी हाइट के लिए भुजंगासन, ताड़ासन,त्रिकोणासन,सुखासन और सूर्यनमस्कार को अपनी दैनिक दिनचर्या में शामिल कर सकते है।

डाइट : 

एक अच्छी हाइट के लिए संतुलित आहार उचित पोषण के साथ-साथ लम्बाई पर नकारात्मक प्रभाव पैदा करने वाले खाद्य पदार्थों जैसे जंक फूड अत्याधिक चीनी युक्त भोजन या ड्रिंक अधिक वसा और कार्बोनेटेड पेय से दूरी भी अत्याधिक जरूरी है। आप इनके स्थान पर शरीर की जरूरत के अनुसार विटामिन और खनिज युक्त पदार्थ के साथ घर पर फ्रूट्स और नट्स के स्वादिष्ट पकवान और पेय बना कर इस्तेमाल कर सकते है।

विटामिन डी और प्रोटीन वृद्धि हार्मोन में मदद बेशक लम्बाई विकसित करने की अनुमति देता है पर शरीर के समुचित विकास के लिए मैग्नीशियम फास्फोरस कार्बोहाइड्रेट और विटामिन जैसे अन्य पोषक तत्वों को नजरअंदाज हरगिज नही किया जा सकता इसलिए आप डेयरी उत्पादों और हरी सब्जियों के साथ-साथ शतावरी अंडे, कस्तूरी और मूंगफली फलियां, दुबला मांस और नट्स भी शामिल करें। ये शारीरिक विकास का अच्छे से नेतृत्व कर सकते हैं। कैल्शियम हड्डियों की वृद्धि और विकास के लिए आवश्यक होता है इसलिए पनीर,दूध दही,घी मक्खन इत्यादी रोज बदल-बदल कर शामिल कर सकते है।

दूरी है बहुत जरूरी : 

अगर आप ने अपनी लंबाई बढानी है तो सब उपायों के साथ-साथ बाहरी या आंतरिक से शरीर को प्रभावित करने वाले अवरुद्ध को सदा के लिए त्यागना पड़ेगा। कम उम्र में अल्कोहल और ड्रग्स आपके और आपकी अच्छी हाइट के बीच में सबसे बड़ी बाधा है इसलिए आपको शराब,सिगरेट,कैफीन युक्त पेय के अलावा स्टेरॉयड से भी दुरी रखना अतिआवश्यक है। ये सभी हड्डियों के विकास को बाधित कर हाइट पर प्रतिकूल प्रभाव डालते है।

प्रतिरक्षा प्रणाली: 

कई बार बचपन की बीमारियों की वजह से हाइट पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है इसलिए बचपन से ही बच्चों को नियमित टीकाकरण कराते रहना चाहिए इसके अलावा खाद्य पदार्थ खाने से भी हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली काफी मजबूत होती है। 

एंटीऑक्सीडेंट और ओमेगा -3 फैटी एसिड में अमीर फल, सब्जियां, फलियां, साबुत अनाज का सेवन और हाइड्रोजनीकृत और नकली मक्खन से परहेज हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ बनाए रखने में काफी योगदान देता है।

आत्मविश्वासी बनें : 

कई बार कुछ समय के लिए हमारी हाइट अन्य लोगो के मुकाबले कम होती या फिर रुक जाती है। ऐसे समय में हीन भावना पैदा करने की जगह आत्मविश्वास बने। एक सकारात्मक मानसिकता ही जीवन में परिवर्तन ला सकती है इसलिए बचपन से ही विश्वास खेती कर अपने आत्मविश्वास का निर्माण करें। हीन भावना आपके शरीर में विकार पैदा कर देती है और कई बार इस कारण में भी उम्र कम होने पर मतलब समय से पहले शरीर का विकास रुक जाता है। अच्छे शारीरिक विकास के लिए तनाव मुक्त और सकरात्मक विचार बहुत जरूरी है।

ऊपर दिए सभी सुझावों को अपने जीवन में अपनाकर कम हाईट की समस्या को कुछ हद तक अवश्य ही कम कर सकते है इसके अतिरिक्त अगर आपकी हाइट नही बढ़ रही है तो बिना देरी किये डॉक्टर से सम्पर्क साध हाइट रुकने के कारणों का पता लगा उन्हें दूर करने का प्रयास करें।

गुरुवार, 30 जून 2016

कद बढ़ाने के लिए घरेलू उपचार

कद बढ़ाने के लिए घरेलू उपचार




सूखी नागौरी, अश्वगंधा की जड़ को कूटकर चूर्ण बना लें और इसमें उतनी ही मात्रा में खांड मिलाकर कांच की शीशी में रखें। इसे रात को सोने से पहले गाय के दूध (दो चम्मच) के साथ लें। ये लम्बाई और मोटापा बढ़ाने में फायदेमंद होता है साथ ही इससे नया नाखून भी बनना शुरू होता है। इस चूर्ण को लगातार 40 दिन खाएं। सर्दियों में ये ज्यादा फायदेमंद होता है।
नोट- इस चूर्ण का सेवन करते समय खटाई, तली चीजें न खायें और जिन्हें आंव की शिकायत हो, तो अश्वगंधा न लें। अगर आप ये चूर्ण नहीं खा पा रहे हैं, तो सुबह सुबह ताड़ासन करें।
ताड़ासन करने के लिए दोनों हाथ उपर करके सीधे खड़े हो जायें, लम्बी श्वास लें, हाथ ऊपर धीरे-धीरे उठाते जायें, ध्यान रहे कि साथ-साथ पैर की एड़ियां भी उठती रहें। पूरी एड़ी उठाने के बाद शरीर को पूरी तरह से तान दें और लम्बी श्वास लें। ऐसा करने से स्नायु सक्रिय होकर विस्तृत होते हैं और यह कद बढ़ाने में सहायक साबित होता है।
1- 2 ग्राम अश्वगंधा चूर्ण, 1- 2 ग्राम काले तिल, 3 से 5 खजूर को 5 से 20 ग्राम गाय के घी में एक महीने तक खाने से शरीर बढ़ने में लाभ होता है। साथ में पादपश्चिमोत्तानासन, पुल्ल-अप्स करने से एवं हाथ से शरीर झुलाने से ऊँचाई बढ़ती है। व्यायाम के अलावा भोजन में प्रोटीन, कैल्शियम तथा विटामिनों की जरूरत बहुत आवश्यक है तथा पौष्टिक भोजन करने से लम्बाई बढ़ने में फायदा मिलता है।

ये खाएं, हाइट बढ़ाएं

कैल्शियम- 
कैल्शियम शरीर के लिए एक आवश्यक खनिज है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है। कैल्शियम हमें दूध, चीज़, दही आदि में मिलता है। ऊंचा लंबा कद पाने के लिए कैल्शियम बेहद जरूरी है। 

मिनरल- 
खनिज हड्डी के ऊतकों का निर्माण करता है। ये हड्डी के विकास और शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं। अगर आपको अपनी लंबाई बढ़ानी है तो खनिज से भरपूर तत्वों का इस्तेमाल करें। यह पालक, हरी बीन्स, फलियां, ब्रोकोली, गोभी, कद्दू, गाजर, दाल, मूंगफली, केले, अंगूर और आड़ू में पाया जाता है।

विटामिन डी- 
लंबाई बढ़ाने के लिए जिस विटामिन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है उनमें से एक है व‍िटामिन डी। अच्छी तरह से कैल्शियम को हड्डी में अवशोषित करने के लिए, हड्डी के विकास के लिए और प्रतिरक्षा प्रणाली के बेहतर कार्य करने के लिए आपको विटामिन डी की जरूरत होती है जो मछली, दाल, अंडा, टोफू, सोया मिल्कर, सोया बीन, मशरूम और बादाम आदि में पाया जाता है।

प्रोटीन- 
प्रोटीन रिच फूड न केवल हेल्थी होते हैं बल्कि आपकी हाईट भी बढ़ाते हैं। यह शरीर की कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं। अमीनो एसिड से भरपूर पदार्थ शरीर को सही ग्रोथ और बेहतर कार्य करने की क्षमता प्रदान करते हैं। कुछ आहार जिनमें प्रोटीन पाए जाते हैं वह हैं- मछली, दूध, चीज़, बींस, मीट, मूगंफली, दालें और चिकन आदि।

विटामिन ए- 
शरीर के अंगों के सही प्रकार से कार्य करें इसके लिए आपको विटामिन ए से भरा हुआ आहार अपने रोजाना आहार में शामिल करना चाहिए। इससे हड्डियां मजबूत रहेंगी और साथ ही लम्बाई भी बढ़ेगी। तो विटामिन ए का सेवन जरूर करें। पालक, चुकदंर, गाजर, चिकन, दूध, टमाटर आदि के अलावा सब्जियों के जूस का भी सेवन करें।

इसके अलावा कुछ छोटी-छोटी मगर मोटी बातें है जिनको अपनाकर भी आप अपनी हाईट बढ़ा सकते है, जैसे- सही तरीके से बैठें और चलें। कभी भी झुककर बैठना और चलना नहीं चाहिए। चलते और बैठते समय अपनी कमर को सीधा रखें। समय पर सोएं। देर रात तक जागना नहीं चाहिए। रात 10 बजे तक सो जाएं और सुबह उठकर थोड़ा-सा व्यायाम करें, अच्छा रहेगा।