गुरुवार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
गुरुवार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 5 अप्रैल 2018

गुरुवार को करें ये एक छोटा-सा अचूक उपाय, जिंदगीभर रहेंगे मालामाल

गुरुवार को करें ये एक छोटा-सा अचूक उपाय, जिंदगीभर रहेंगे मालामाल


काम खूब मेहनत करते हैं...सफलता पाने के लिए दिन-रात एक कर देते हैं, बावजूद इसके न तरक्की होती है और आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। इतना ही नहीं पूजा-पाठ भी खूब करते हैं, फिर भी कुछ नहीं होता। हमेशा किस्मत को कोसते रहते हैं। असल में यह स्थिति गुरु के प्रभाव की वजह से होती है।

यदि कुंडली में गुरु कमजोर है या नीच का है...मृत है...वृद्ध है, तो इंसान लाख कोशिश कर ले, उसे ताउम्र आर्थिक कमजोरी रहेगी। सफलता में बधाएं आएंगी। ऐसे में गुरु के उपाय करने चाहिए। यहां हम एक ऐसा अचूक बताने जा रहे हैं, जिसके करने से न सिर्फ आपकी आर्थिक कमजोरी दूर हो सकती है, बल्कि जिंदगी में कभी भी धन की कमी महसूस नहीं होगी। इसके अलावा गुरु को मजबूत करने का भी एक छोटा-सा उपाय बताएंगे, जिससे कुंडली में गुरु कितना ही कमजोर क्यों न हो, लेकिन भगवान शिव की कृपा से गुरु के कुप्रभाव खत्म हो जाएंगे।

आर्थिक तंगी को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए यह बेहद अचूक उपाय है। इसे किसी भी गुरुवार से शुरू किया जा सकता है। यदि इस उपाय को गुरु पुष्य नक्षत्र में शुरू किया जाए, तो फल जल्द मिलने लगता है। उपाय इस प्रकार है। सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठें। स्नान करें। गाय का कच्चा दूध ले आएं। यदि घर में हो रहा है, तो बहुत ही अच्छा। ध्यान रखें कि दूध में पानी जरा भी न मिला हो। एक छोटे-से बर्तन(यदि चांदी की बर्तन हो, तो सोने पे सुहागा) में दूध लें। यदि पीले वस्त्र पहन सकें, तो ज्यादा अच्छा। तुलसी की जड़ में धीरे-धीरे दूध चढ़ाएं। साथ यह मंत्र बोलें- ओम श्री तुलसै विदमहे विष्णुप्रियाये धीमहि तन्नो प्रचोदयात। हर गुरुवार ऐसा करें। तुलसी में लक्ष्मीजी वास करती हैं। गाय का कच्चा दूध चढ़ाने से प्रसन्न होती हैं। विष्णु भगवान को तुलसी बेहद प्रिय हैं।

गुरु ग्रह को ऐसे बनाएं बलवान...
हर रोज शिव लिंग में कनेर का पीला फूल चढ़ाएं। फूल में थोड़े-से सबूत चावल रखें, जो हल्दी से रंगे हुए हों। शिवलिंग पर फूल चढ़ाते समय गुरु के मंत्र को बोलें, जैसे ओम ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरुवे नम: या फिर ओम ब्रं बृहस्पतयै नम: । इसे करने से भगवान शिव की कृपा से गुरु के अशुभ प्रभाव खत्म हो जाते हैं। मेहनत का फल मिलने लगता है।

गुरुवार, 15 फ़रवरी 2018

जानिए गुरुवार को क्यों लेन-देन से बचना चाहिए, इस दिन क्‍या करें, क्‍या ना करें

जानिए गुरुवार को क्यों लेन-देन से बचना चाहिए, इस दिन क्‍या करें, क्‍या ना करें


गुरुवार को बृहस्‍पतिवार भी कहा जाता है । इस दिन कई लोग व्रत रखते हैं । ये दिन ब्रह्मा, बृहस्‍पति, विष्‍णु पूजा का दिन है । इस दिन पीले रंग का विशेष महत्‍व होता है । पीले वस्‍त्र पहनने से शुभता का आगमन होता है, इस दिन सुबह उठकर लनहा धोकर पूजा पाठ करने से व्‍यक्ति को आर्थिक लाभ होता है । परिवार से जुड़ी सभी समस्‍याओं का अंत होता है साथ लक्ष्‍मी जी की विशेष कृपा प्राप्‍त होती है । आगे जानिए इस दिन से जुड़ी कुछ विशेष बातें ।

गुरुवार के दिन का विशेष टोटका
यदि आपकी तनख्‍वाह किसी महीने में गुरुवार को आए या फिर आपको इस दिन अधिक धन का लाभ हो तो धनराशि में से 15, 30, 45 या 60 के अनुपात में मिले हुए धन एक लिफाफा बनाकर मंदिर में रख दें । भगवान से प्रार्थन करें कि आप पर धन की वर्षा यूं ही होती रहे और आपके कष्‍ट दूर होते रहेंगे । एक दिन बाद इन लिफाफों से पैसे निकालकर इसका 10 फीसदी दान करें और बाकी खर्च कर लें ।

गुरुवार को खरीदारी
भगवान बृहस्‍पति का दिन है गुरुवार, ये दिन व्‍यक्ति के जीवन में शुभता लाता है। इस दिन पीले वस्‍त्र पहनने चाहिए । गुरुवार के दिन इलेक्ट्रॉनिक सामान खरीदा जा सकता है, प्रॉपर्टी से जुड़े कामों में फायदा होता है। इस दिन पूजा–पाठ से जुड़ा सामान नहीं खरीदना चाहिए। आंखों से जुड़ी कोई भी वस्‍तु, कोई शार्प ऑब्‍जेक्‍ट जैसे चाकू, कैंची, बर्तन आदि नहीं खरीदना चाहिए ।

गुरुवार को नहीं करने चाहिए ये काम
शास्‍त्रानुसार गुरु ग्रह किसी भी महिला की कुंडली में पति और संतान का कारक माना जाता है। अर्थात बृहस्‍पति ग्रह महिलाओं के जीवन में पति और संतान दोनों के जीवन को प्रभावित करता है । जो महिलाएं इस दिन बाल धोती हैं या फिर हेयर कट करवाती हैं उनका बृहस्‍पति कमजोर होता है, पति और संतान की उन्‍नति में बाधा आती है । महिलाओं को इस दिन अपने बाल ना तो धोने चाहिए और ना ही काटने चाहिए ।

कपड़े धोने की मनाही
गुरुवार को महिलाएं कपड़े धोने से बचें । ये दिन बृहस्‍पति ग्रह का परिचायक है । इस दिन कपड़े धोने से आर्थिक नुकसान होता है । ऐसी मान्‍यता है कि इस दिन घर की स्‍त्री साबुन से वस्‍त्रों का मैल धोती है तो इसके साथ घर की समृद्धि भी पानी के साथ धुल जाती है । इस दिन कपड़े धुलने से बचे, कपड़ों को पानी में खंगाल सकती हैं नहीं तो अगले दिन धो लें । ये कुछ जरूरी बाते हैं जिनका ध्‍यान आपको गुरुवार के दिन रखना चाहिए ।

गुरुवार को करें ये उपाय
गुरुवार को लक्ष्‍मी पूजा का विशेष प्रावधान हैं। नारायण और उनकी पत्‍नी लक्ष्‍मी आपके घर में सदैव विराजमान हों, सुख समृद्धि की घर में वर्षा होती रहे इसके लिए जरूरी है इस दिन सुबह सवेरे उठकर लक्ष्‍मी जी की पूजा करनी चाहिए। उन्‍हें लाल पुष्‍प अर्पित करें । लक्ष्‍मी और नारायण की साथ में पूजा करने से दांपत्‍य जीवन में सुख बना रहता है । घर में धन-धान्‍य की कोई कमी नहीं होती है ।

हल्‍दी स्‍नान
बृहस्‍पति ग्रह का संबंध पीले रंग से माना जाता है । इस दिन पीले रंग के वस्‍त्र पहनने से शुभता आती है । हल्‍दी का उपाय इस दिन जरूर करना चाहिए ये बड़ा ही आसान है । अपने स्‍नान के पानी में एक चुटकी हल्‍दी डालें और बृहस्‍पति को याद करते हुए नहा लें । स्‍नान के बाद हल्‍दी या केसर का तिलक लगाएं । आपका दिन मंगलमयी होगा साथ ही समस्‍याएं भी पास नहीं फटकेंगी ।

गुरुवार को लेन-देन से बचें
एक छोटी सी बात का ध्‍यान आपको रखना चाहिए, गुरुवार के दिन लेन-देन करने की मनाही होती है । इस दिन ना तो किसी को पैसे देने चाहिए और ना ही किसी से पैसे लेने चाहिए । ऐसा करने से कर्ज चढ़ने की संभावना रहती है । अगर बहुत जरूरी हो तो दोपहर के बाद या संध्‍या के समय पैसों का लेन-देन कर सकते हैं, वैसे कोशिश करें इस दिन इससे बचे रहें ।

शुक्रवार, 5 जनवरी 2018

गुरुवार के दिन किए ये काम तो घट सकती है आपके पति की उम्र

गुरुवार के दिन किए ये काम तो घट सकती है आपके पति की उम्र


हिंदू धर्म में कई तरह के नियमों का उल्‍लेख किया गया है। शास्‍त्रों के अनुसार इन नियमों का पालन करने से मनुष्‍य का जीवन सुखी और समृ‍द्ध बन सकता है। सप्‍ताह के सातों दिनों के लिए शास्‍त्रों में कुछ नियम बनाए गए हें और इन सातों दिनों का अपना एक अलग महत्‍व है। आज हम गुरुवार के दिन की बात करेंगें।

गुरुवार के दिन बृहस्‍पति देव और भगवान विष्‍णु को समर्पित है। धार्मिक मान्‍यता के अनुसार गुरुवार का दिन बेहद खास होता है। अन्‍य दिनों के मुकाबले गुरुवार के दिन के नियम ज्‍यादा सख्‍त होते हैं और सख्‍ती से इनका पालन ना करनें पर कई तरह के दुष्‍परिणाम झेलने पड़ते हैं। गुरुवार के दिन ऐसा कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए जिससे घर या शरीर में हल्‍कापन हो। ऐसा करने से गुरु के प्रभाव में आने वाली चीज़ों का प्रभाव भी हल्‍का हो जाता है।

तो आइए जानते हैं कि गुरुवार के दिन कौन-से कार्य नहीं करने चाहिए।

गुरुवार के दिन बाल ना धोएं
ज्‍योतिष की मानें तो स्त्रियों की कुंडली में गुरु पति और संतान का कारक माना जाता है। ये ग्रह पति और संतान के जीवन पर प्रभाव डालता है। अगर गुरुवार के दिन महिलाएं बाल धोती हैं तो इसका बुरा प्रभाव उनकी संतान और पति पर पड़ता है। ऐसा करने से बृहस्‍पति की स्थिति कमज़ोर होती है और पति एवं संतान को अपने जीवन में उन्‍नति नहीं मिल पाती है।
शेविंग और नाखून काटना है वर्जित
गुरुवार के दिन नाखून काटने या शेविंग करने की भी मनाही है। ऐसा करने से कुंडली में बैठे गुरु ग्रह की स्थिति कमज़ोर होती है। गुरु के कमज़ोर होने पर उससे संबंधित क्षेत्रों में असफलता मिलती है। आयु में कमी आती है।

घर में ना लगाएं पोछा
अपने घर से गुरुवार के दिन किसी भी तरह की वस्‍तु को बाहर ना निकालें। कपड़े धोने और कबाड़ को बेचने या घर को धोने एवं पोछा लगाने का काम गुरुवार को ना करें। इससे संतान को हा‍नि पहुंचती है और घर-परिवार पर बुरा असर पड़ता है।
गुरुवार के दिन लक्ष्‍मी को ना करें नाराज़
गुरुवार का दिन  भगवान विष्‍णु को समर्पित होता है और ये दिन उनकी पत्‍नी मां लक्ष्‍मी को भी प्रसन्‍न करने के लिए खास होता है। इस दिन विष्‍णु जी के साथ मां लक्ष्‍मी की पूजा करने से धन की प्राप्‍ति होती है।

अगर आप अपने घर में लक्ष्‍मी का आगमन और सुख-समृद्धि चाहते हैं तो गुरुवार के दिन इन नियमों का पालन जरूर करें। इसके अलावा विवाहित स्‍त्रियों को भी इन नियमों का पालन जरूर करना चाहिए अन्‍यथा उनके पति की आयु कम हो सकती है और उनकी सेहत भी खराब हो सकती है।

गुरुवार, 9 नवंबर 2017

गुरुवार (वृहस्पतिवार) को जरुर रखें ये चीज़ें, बरसती है कृपा

गुरुवार (वृहस्पतिवार) को जरुर रखें ये चीज़ें, बरसती है कृपा


ज्योतिषशास्त्र के अनुसार गुरु को धन, विद्या, संतान, विवाह एवं सुख का कारक माना जाता है। जो लोग इस विद्या के जानकार होते हैं, उनका मानना है कि अगर आपके जीवन में भी कोई परेशानी है तो वृहस्पतिवार को पूजा करने से सारी समस्याएँ धीरे-धीरे ख़त्म हो जाती हैं। भगवन विष्णु की कृपा उस व्यक्ति पर हमेशा बनी रहती है एवं शुभता और सम्पन्नता का वरदान मिलता है। कुछ ऐसी वस्तुएं हैं जो भगवन विष्णु को बहुत ही प्रिय है। लाल किताब के अनुसार वो सभी वस्तुएं जो लोग गुरुवार के दिन अपने जेब में रखते हैं, उनके जीवन में धन और सुख की कभी भी कमी नहीं होती है।

ये चीजें वृहस्पतिवार/गुरुवार  को जेब में रखने से बरसती है कृपा:

जेब में चावल रखें:
आप हर वृहस्पतिवार के दिन अपने जेब में चावल पर हल्दी या केसर लगाकर रखें, ऐसा करने से आपके जीवन में शुभता का संचार होता है।

पीले रंग की रुमाल रखें:
आपको हर वृहस्पतिवार के दिन पीले रंग के कपड़े पहनने चाहिए, यदि कपड़े पहनना संभव ना हो तो आप पीले रंग की रुमाल को अपने जेब में रख सकते हैं। ऐसा करने से आपके जीवन की नकारात्मकता दूर चली जाएगी एवं सकारात्मकता आपके पास आएगी।
केले की जड़ को रखें जेब में:
केले के पेड़ को बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि केले के पेड़ में भगवन विष्णु का निवास होता है। अगर आप केले के पेड़ को ग्रहों से जोड़कर देखें तो इसे वृहस्पति देवता का स्वरुप माना जाता है। अगर आपके जीवन में भी बहुत तरह की परेशानियाँ हैं तो आप अपने जेब में वृहस्पतिवार की सुबह पीले कपड़े में केले के पेड़ की जड़ को बाँधकर रखें। यह ठीक उसी तरह काम करता है, जिस तरह से पुखराज काम करता है। पीले कपड़े में लपेटी हुई केले की जड़ पुखराज के बराबर ही होती है।

मोर पंख रखें:
शास्त्रों, ग्रंथों, वास्तु एवं ज्योतिषशास्त्र में मोर के पंख को बहुत ही शुभ माना जाता है। यह हिन्दू धर्म के कई देवताओं का पवित्र आभूषण भी है। इसलिए यह माना जाता है कि मोर के पंख को जेब या पर्स में रखने से माँ लक्ष्मी की कृपा बरसती है और शुभता का संचार होता है। जिसके घर में हमेशा मोर का पंख होता है, उनके ऊपर किसी भी प्रकार के दुःख का साया नहीं पड़ता है। जो लोग मोर के पंख को अपने सर पर धारण करते हैं उन्हें माँ सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है।