दांतों की सफाई लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
दांतों की सफाई लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 16 मार्च 2018

सिर्फ 3 मिनट में एल्युमिनियम फॉयल से पाएं पीले दांतो से हमेशा के लिए निजात

सिर्फ 3 मिनट में एल्युमिनियम फॉयल से पाएं पीले दांतो से हमेशा के लिए निजात


हमारे चेहरे  में सुन्दरता के साथ साथ अगर हमारे दांत सफ़ेद और चमकदार हो तो क्या बात है और हर खूबसूरत मुस्कान के पीछे हमारे दांतों की अहम भूमिका होती है। खिलखिलाती मुस्कान के लिए मोतियों जैसे सफेद दांतों की जरूरत पड़ती है। यह सिर्फ खाना खाने में ही मददगार नहीं होते बल्कि इससे हमारी पर्सनैलिटी कोभी नई पहचान मिलती है लेकिन बहुत सारे लोगों के दांत पीले होते हैं, जिसकी बहुत सारी वजहें हो सकती हैं।

गलत खान-पीन की वजह से भी दांतों में पीलापन आता है। फास्ट फूड, मीठा हमारे दांतों पर चिपक जाता हैं जो दांतों को पीला बनाता है| अगर दात का रंग पिला हो जाये तो आप किसी के भी सामने खुल के मुस्कुराने से कतराते है और आपको शर्मिंदगी महसूस होती है|पानी में मौजूद कैमिकल्स,तंबाकू और कलर्ड फूड्स के ज्यादा इस्तेमाल से दांतों में पीलापन आ जाता है।

आपको बता दे की इन्हें चमकाने के लिए बाजार में तरह तरह के प्रोडक्ट्स भी मिलते है जो ये दावा करते है की इसके इस्तेमाल से आपके दात बिलकुल सफ़ेद हो जायेंगे| ये प्रॉडक्ट्स काफी महंगे भी होते है और उनमें मौजूद कैमिकल्स से मसूड़ों को नुकसान भी पहुचता है। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नही है आज हम आपके लिए ऐसा उपाय लेकर आये है जिसके इस्तेमाल से आपके दात दूध की तरह चमकने लगेंगे|

इसके लिए आपको एक चीज़ की आवश्यकता पड़ेगी जो की हर किसी के घर में आसानी से मिल जाता है वो है जिसमें चीजों को गर्म रखने का काम करने वाला एल्युमिनियम फॉयल| ये आपके दांतो को आसानी से सफेद कर सकता है। जानिेये  कैसे इसका इस्तेमाल करके आप सिर्फ 3 मिनट में पीले दांतो से निजात पा सकते है। इसके लिए आपको 3 चीजो की जरूरत है जो है 
  • 2 चम्मच हल्दी पाउडर,
  • 2 चम्मच बेकिंग सोडा,
  • 5 चम्मच नारियल का तेल|

इसके लिए सबसे पहले आपको बर्तन में ये सभी चीजें डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर लेना है और इसका स्मूद पेस्ट बना कर तैयार करना है इसके बाद इसे दांतो पर लगा ले कुछ देर बाद ब्रश की मदद से इसे साफ  कर ले| इसके आलावा आप बेकिंग सोड़ा और एल्युमिनियम फॉयल का इस्तेमाल कर आसानी से आप पीले दातों को सफ़ेद कर सकते है| इसके लिए सबसे पहले टूथपेस्ट में थोड़ा सा बेकिंग सोड़ा जालकर अपने दांतो पर लगा लें। इसके बाद ऊपर से फॉयल लगा लें।

यह एक नेचुरल ब्लीच का काम करता है कम से कम 3 मिनट के बाद ब्रश की मदद से दांतो को साफ कर लें। सप्ताह में कम से कम 1 बार इसको जरूर करे आपको इसका असर दिखेगा| आप इस बात का ध्यान रखे की चाय, कॉफी या फिर वाइन पीने के बाद ब्रश जरुर करें। और 2-3 माह के बाद अपने ब्रश को बदलते रहे नहीं तो आपके मुंह में अधिक बैक्टीरिया जाएंगे।

इसके आलावा आप कच्ची गाजर, सेब, पॉपकार्न आदि का सेवन करे ये सभी आपके दांतो को सफेद करने में मदद करता है।यह आपको नेचुरल दांत देगा। इन्हें खाने के बाद जरुर लें। इसके बाद दांतों पर खाने के बाद  ब्रश जरुर करें।

बुधवार, 24 जनवरी 2018

नीम की दातुन से दांत साफ़ करने के फायदे

नीम की दातुन से दांत साफ़ करने के फायदे


दांतों को मनुष्य का अनमोल रत्न माना जाता है। इसलिए इनकी देखभाल करना भी बेहद जरुरी है। आजकल बाजार में बहुत से ऐसे प्रोडक्ट मौजूद है जो दावा करते है की इसे यूज करने के बाद आपके दांत मजबूत और चमकीले बनेंगे। लेकिन वास्तव में देखा जाए तो ये चीजें केवल परेशानी का कारण बनती है। भले ही एक दो दिन ये आपको कोई समस्या नहीं दें लेकिन लंबे समय तक प्रयोग करने के बाद होने वाले नुकसान आपके दांतों के लिए काफी दुखदायी होते है।

ये बात तो आप सभी जानते होंगे, पुराने जमाने में कोई ब्रांडेड टूथपेस्ट और मंजन नहीं हुआ करते थे लेकिन उस समय भी लोगों के दांत बुढ़ापे तक सही सलामत रहते थे। जिसका कारण उनके द्वारा यूज की जाने वाली आयुर्वेदिक चीजें हुआ करती थी। लेकिन वर्तमान में अधिकतर लोग दांतों से संबंधित समस्यायों से परेशान दिखाई पड़ते है। जिसका सीधा अर्थ ये है की दांत साफ करने के लिए गलत चीजों का इस्तेमाल बहुत नुकसानदायक हो रहा है।
ऐसे में प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल करना आपके लिए लाभकारी हो सकता है। दातुन के बारे में तो आप सभी भली-भांति जानते होंगे। क्योंकि शहरों में न सही लेकिन गावों में आज भी बहुत से लोग है जो अपने दांतों को साफ़ करने के लिए टूथपेस्ट नहीं बल्कि दातुन का प्रयोग करते है। दातुन करने से न केवल आपके दांत साफ़ होते है बल्कि उन्हें कई बिमारियों से सुरक्षा भी मिलती है।
दातुन करने से केवल दांत ही नहीं अपितु आपको जीभ भी अच्छी तरह साफ़ होती है और उस पर मौजूद कीटाणु भी नष्ट हो जाते है। लेकिन आजकल के ब्रांडेड टूथपेस्ट के समक्ष कोई भी व्यक्ति इसे पूछता तक नहीं। क्योंकि वे इसे केवल समय की बर्बादी और पेड़ का तना ही समझते है। जबकि वे नहीं जानते की ये पेड़ का तना भी उनके दांतों के लिए कितना लाभकारी है। यहाँ हम आपको दातुन करने के कुछ फायदों के बारे में बताने जा रहे है। जिन्हें जानकर हो सकता है आप भी इस प्राकृतिक वस्तु का इस्तेमाल करने लगें।

आयुर्वेद के अनुसार दांतों के लिए वरदान है दातुन :-
आयुर्वेद के अनुसार अर्क, न्यग्रोध, खदिर, करज्ज, नीम बाबुल आदि के पेड़ों के तने से दातुन करने के लिए कहा जाता है। इस वेद के मुताबिक, मुंह को कफ की सबसे बड़ा वजह माना जाता है। जब आप रात्रि के बाद सुबह जागते है तो आपके मुंह में कफ जमा हो जाता है जिसमे कई बैक्टीरिया और हानिकारक विषाणु भी होते है। इन विषाणुओं को समाप्त करने के लिए नियमित रूप से दातुन करने की सलाह दी जाती है।

जिसमे सबसे अधिक महत्व नीम की दातुन को दिया जाता है। क्योंकि इससे न केवल आपके दन्त स्वस्थ होते है अपितु आपकी पाचन क्रिया भी सुधरती है और आपके फेस पर एक नया ग्लो भी आता है। इसलिए आज भी बहुत से लोग नीम की दातुन का इस्तेमाल दांत साफ़ करने के लिए करते है।

टूथपेस्ट से बेस्ट होता है दातुन :-
आजकल बाजार में मिलने वाले अधिकतर टूथपेस्ट को बनाने में केमिकल का इस्तेमाल किया जाता जो दांतों को साफ करते है। लेकिन मसूड़ों तक पहुंचने के बाद ये टूथपेस्ट काफी नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा कई बच्चे टूथपेस्ट निगल भी लेते है जो उनके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है।

जबकि दातुन न केवल आपको दांतों की सफाई करता है अपितु आपकी जीभ को भी बैक्टीरिया मुक्त करता है। साथ ही यह मसूड़ों से संबंधित समस्यायों को भी दूर करता है। और गलती से आप अगर इसके रस को निगल भी लें तो उसका स्वास्थ्य पर कोई बुरा प्रभाव भी नहीं होता।

नीम की दातुन करने के क्या-क्या फायदे होते है?
दांतों को साफ़ करने के लिए सबसे अधिक नीम की दातुन का ही इस्तेमाल किया जाता है। ये न केवल आपके दांतों को स्वस्थ बनाती है। बल्कि आपके स्वास्थ्य के लिए बभी अच्छी होती है। इसके फायदे कुछ इस प्रकार है –

1. दांतों का पीलापन :
नियमित रूप से नीम की दातुन करने से दांतों का पीलापन दूर किया जा सकता है। आज के समय में अधिकतर लोगों के दांतों पीले नजर आते है। ऐसे में अगर आप नीम की दातुन करते है तो आपके दांतों का पीलापन दूर हो जाएगा साथ ही वे सफ़ेद, मजबूत और चमकदार बनेंगे।

2. मुंह के छालें :
नीम में मौजूद एंटी माइक्रोबियल गुण और एंटी ओक्सिडेंट तत्व मुंह के छालों को ठीक करने में मदद करते है। ये मुंह में मौजूद सभी बैक्टीरिया को समाप्त करते समस्या को दुबारा पनपने नहीं देते।

3. फेस की कसरत :
अक्सर अपने देखा होगा की ब्रश तो आप सामान्य रूप से करते है लेकिन जब दातुन किया जाता है तो दांतों की सफाई के साथ साथ आपके फेस की भी कसरत होती है। जिससे फेस की नियमित एक्सरसाइज होती रहती है। ऐसे में आपका फेस सुन्दर और स्लिम भी बनता है।

4. दांतों का दर्द :
नीम की दातुन से निकलने वाला रस न केवल दांतों की समस्यायों को दूर करता है अपितु आपके दांतों के दर्द को भी ठीक करता है। इसमे मौजूद एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल और एंटी वायरल गुण दांतों की नसों को आराम दिलाकर दर्द ठीक करने में मदद करते है। साथ ही इससे मसूड़े भी मजबूत होते है। नीम की दातुन करने से बुढ़ापे तक दांतों को स्वस्थ रखा जा सकता है।

5. दांत में कीड़ा :
चॉकलेट आदि खाने की वजह से अक्सर छोटे बच्चों के दांतों में कीड़ा लग जाता है। जिसकी वजह से दांतों में तो दर्द होता ही है साथ-साथ खाने पीने में भी समस्याएं होने लगती है। ऐसे में यदि आप अपने बच्चे को नियमित रूप से नीम की दातुन कराते है तो उसके दांतों में कीड़ा नहीं लगेगा। और वे अच्छी तरह से साफ़ होंगे। इस दातुन से मुंह में मौजूद कीटाणु भी समाप्त हो जाएँगे।

6. सांसों की बदबू :
अक्सर खाने पीने या किसी अन्य कारण की वजह से सांसों से बदबू आने लगती है। ऐसे में यदि आप नियमित रूप से नीम का दातुन का इस्तेमाल करते है तो आपके मुंह से कभी बदबू नहीं आएगी। और आपकी सांसे फ्रेश और ताजगी भरी रहेंगी।

7. सेंसिटिविटी :
दांतों में सेंसिटिविटी होना आज के समाज की आम समस्या बनता जा रहा है। इए में अगर आप नीम की दातुन का इस्तेमाल करते है तो आपके दांतों से सेंसिटिविटी हमेशा के लिए दूर हो जाएगी और आपके दांत स्वस्थ और अच्छे रहेंगे।

तो ये थे नीम के कुछ फायदे जिन्हें जानकार आप भी इस प्राकृतिक देन का इस्तेमाल करने के बारे में जरुर सोचेंगे। एक बात और, नीम की दातुन को हमेशा ताजा तोड़कर ही प्रयोग में लाना चाहिए। स्वाद में यह काफी कडवा होता है तो छोटे बच्चों को इस्तेमाल कराते समय विशेष ध्यान रखें।

बुधवार, 27 दिसंबर 2017

ये चीजें पूरी तरह निकाल देती हैं दांतों का मैल, एक बार जरुर इस्तेमाल करके देखिए

ये चीजें पूरी तरह निकाल देती हैं दांतों का मैल, एक बार जरुर इस्तेमाल करके देखिए


आप जब भी बाहर अपने दोस्त यारों के बीच हंसते हो तो सबसे पहले लोगों का ध्यान आपके दांतों के ऊपर जाता है,क्योंकि आपकी चेहरे की मुस्कराहट ही आपकी पर्सनालिटी के बारे में बताती है.चाहे आप कितने भी अच्छे पढ़े-लिखे हो परंतु यदि आपके दांत पीले, या सड़े हुए दिखाई देते हैं तो आप वहीं लोगों के बीच में इस बात पर मार खा जाते हैं.


कभी-कभी हमारे खानपान के कारण भी हमारें दात काले नजर आते हैं व तरह-तरह की बीमारियां तक लग जाती हैं जिसकी वजह से मुंह से दुर्गंध आने लगती है, और लोग भी आपसे बात करने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाते हैं.कहते हैं कि जो लोग गलत तरीके के खानपान का इस्तेमाल करते हैं उनके मसूड़ो व गम्स पर Tartar नामक बैक्टीरिया लग जाता है. जिसके कारण दांत सड़ जाते हैं और मुंह में से बदबू आने लगती हैं.

हम आपको बता दे कि यदि आप आपने चहेरे की मुस्कराहट व खूबसूरती को बरकरार रखना चाहते हैं. तो हम आपको बतायेंगे दातों को बैक्टीरिया से बचाने के ये जबरदस्त उपाय,यह उपाय ऐसे हैं जिन्हें इस्तेमाल करके आप दोबारा से अपने दांतों की चमक वापस ला सकते हैं.
ये भी पढ़िए : दांत में ठंडा गरम लगने पर ये करें ठीक हो जाएगा

आइये जानते हैं दातों के चमकाने के उपाय

नींबू पानी
नींबू पानी और मिंट ऑइल को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें हर रोज इस मिश्रण की एक-एक बूँद मुंह में डालें इससे ना केवल अप ताज़गी महसूस करेंगे बल्कि ये आपके दांतों की हाईजीन भी बनाकर रखेगी


रोजमेरी और मिंट
आधा कप रोजमेरी और एक कप मिंट को 2 कप पानी में उबाल लें उबालने के बाद पानी को छानकर अलग कर लें और 15 मिनट तक ठंडा होने दें ठंडा होने के बाद इस पानी को कुल्ला करने के लिए इस्तेमाल करें

फ्लॉसिंग
फ्लॉसिंग करना दांतों को साफ़ करने का एक बेहतरीन तरीका है कई बार हमारा टूथब्रश वो काम नही कर पाता जो फ्लॉसिंग के माध्यम से आसानी से हो जाता है अतः फ्लॉसिंग करना यक़ीनन आपके लिए बेहतर साबित होगा

नारियल का तेल
नारियल का तेल बैक्टीरिया नाशक माना जाता है ऐसा कहा जाता है कि जो लोग खाने में नारियल के तेल का इस्तेमाल करते हैं, उनके दांतों में सडन की आशंका काफी हद तक कम हो जाती है साथ ही ये कैविटीज़ को बढ़ने से रोकता है
टूथपेस्ट
टूथपेस्ट ख़रीदने से पहले ये जान लें कि टूथपेस्ट में फ्लोराइड है या नही. टूथपेस्ट में फ्लोराइड  का होना हमारे दांतों की आउटर लेयर के लिए अच्छा होता है और दांतों में होने वाले इन्फेक्शन और कैविटी से बचाता है


एलोवेरा जेल
एलोवेरा जेल, ग्लिसरीन, बैकिंग सोडा, लेमन और पानी मिलाकर पेस्ट बना लें इस पेस्ट से हफ्ते में दो बार ब्रश करें इससे आपके दांतों में जमी कैविटी जल्द ही दूर होने लगेगी

ऑरेंज का पील
संतरे में एंटी ओक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं ऑरेंज पील यानि उसके गाढ़े रस को मुंह के अंदर डालकर कुछ समय के लिए छोड़ दें उसके बाद पानी की सहायता से पेस्ट को मुंह से बाहर कर दें और मुंह धो लें

अंजीर खाएं
अंजीर में पाए जाने वाले छोटे-छोटे दाने दांतों में छिपी कैविटी और tartar को निकाल फेंकने ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं इसके साथ ही ये गम्स को और भी ज्यादा मज़बूत बनाते हैं इसलिए नियमित तौर पर अंजीर का सेवन करें

तिल का उपयोग
तिल को चबाना भी फ़ायदे का सौदा साबित हो सकता है लेकिन तिल को सिर्फ चबाएं, उन्हें निगले नही. चबाने के बाद इन्हें वापस थूक दें. तिल आपके दांतों से tartar को वैसे ही निकाल देगा जैसे कोई स्क्रबर त्वचा से धूल-मिट्टी और मृत त्वचा निकाल देता है

शनिवार, 14 अक्तूबर 2017

अब घर पर कीजिये पीले दांतों को सफ़ेद सिर्फ 2 मिनट में

अब घर पर कीजिये पीले दांतों को सफ़ेद सिर्फ 2 मिनट में


मेरे कुछ ऐसे दोस्त हैं जो अपने पीले दांतो को लेकर बहुत परेशान रहतें है। क्या आपको लगता है पीले दांत होना स्वास्थ्य के लिए एक परेशानी का मुद्दा है? वो अपने पीले दांतो को सफेद करने के लिए बहुत सारे टूथपेस्ट उपयोग कर चुकें है पर कुछ प्राकृतिक उपचार हैं जिस से पीले दांतो को 2 मिनट में सफेद किया जा सकता है।


अब मैं जो उपचार आपको बताने जा रहा हु उसे मेरे दोस्तों नें काफी कारगर पाया है।

😀 सबसे पहले आपको एक निम्बू और एक चम्मच नमक की जरूरत है।

😀 अब एक चम्मच नमक को कटोरी में डाल लें।

और उसके बाद…

😀 अब नींबू कि कुछ बूदें नमक में डाल दें।

😀 नींबू की कुछ बूदें डालने के बाद इन दोनों का मिश्रण तैयार करें जब तक ये एक पेस्ट के रूप में ना तब्दील हो जाये।
यह भी पढ़िए : 
दांतो को रखना है स्वस्थ, तो गलती से भी ना करें टूथब्रश शेयर, हो सकते इन बीमारियों का शिकार

और आखिर में।
😀 जब ये पेस्ट के रूप में बन जाये इसे अपने ब्रश पर लगा कर अपने दांतो को साफ़ करें।

सोमवार, 5 जून 2017

2 मिनट में दूर करें दांतों का पीलापन!

2 मिनट में दूर करें दांतों का पीलापन!


दाँतों को हमेशा सुरक्षित रखना चाहिए। बच्चे अक्सर रात में बिना ब्रश किये सो जाते हैं जिसकी वजह से दांत में कीड़े और पीलापन जमने लगता हैं। अगर आपके भी दांत पिले हो रहे हैं तो आप ये काम करे।

हल्दी पाउडर
घरेलू उपायों से दांत चमकाने के लिए हल्‍दी पाउडर को बहुत अच्‍छा माना जाता है। और माना जाता है कि आधी चम्‍मच हल्‍दी पाउडर में कुछ बूंदे पानी मिलाकर बना मोटा पेस्‍ट टूथब्रश में लगाकर करने से दांत साफ हो जाते हैं। और दो-तीन मिनट बाद मुंह में पानी भरकर घुमाने, ताकि हल्दी मसूड़ों और दांतों की हर दरार में अच्छे से मिल जाए। बाद में कुल्ला कर लें। ऐसा करने से सामान्य दांत दर्द में भी फायदा मिलता है। लेकिन शोध के अनुसार, हालांकि सभी मसाले आपके दांतों पर दाग छोड़ते हैं, लेकिन पीले मसाले ज्‍यादा खतरनाक होते हैं। इस तरह से हल्‍दी दांतों को चमकाना तो दूर बल्कि उन्‍हें बदरंग बना देती है।


केले का छिलका
केले में पोटेशियम, मेग्नीशियम व मेंगनीज अधिक मात्रा में होता है जो दांतों के लिए फायदेमंद और दाग हटाने में मदद करती है। इसलिए केले से दांतों के धब्‍बे दूर करने के लिए पके हुए केले के छिलके की अंदरूनी सतह को दो मिनट तक अपने दांतों पर रगड़ने की सलाह दी जाती है। और कहा जाता है कि ऐसा करने से तीन सप्ताह में धब्बे गायब हो जाएंगे। लेकिन शोध के अनुसार सच तो यह है कि हालांकि यह उपाय दांतों की सतह से दाग धब्‍बों को हटाता हैं लेकिन यह दांतों की जड़ों तक न पहुंचने के कारण अच्‍छे से सफाई नहीं करता।


नारियल तेल
वैसे तो यह सुनने में अटपटा लगेगा, किन्‍तु नारियल के तेल में मौजूद लोरिक एसिड प्लैक को साफ करने में मदद करता है। नारियल के तेल में एंटी माइक्रोबियल गुण होते है इसलिए अगर आप ब्रश करते समय दो या तीन बूंद अपने टूथपेस्ट पर लगाकर ब्रश करते है तो आपके लिए बेहद फायदेमंद होता है और इस से आपके मसूड़े मजबूत हो जाते है साथ ही चमकते दांत भी। लेकिन शोध के अनुसार, निसंदेह मुंह में तेल भरकर गरारे करने से मुंह के कुछ बैक्टीरिया या गंदगी निकल जाती है, लेकिन इस बात का कोई सबूत नहीं है कि तेल लगाने से आपके दांत चमकने लगेंगे।


स्ट्रॉबेरी
स्‍ट्रॉबेरी को भी दांतों को चमकाने के लिए उत्‍तम घरेलू उपाय माना जाता है। क्‍योंकि स्ट्रॉबेरी में मौजूद विटामिन सी दांतो के प्लाक को तोड़ने में मदद करता है और जो दांतो के पीलेपन कारण होता है। साथ ही इसमें मैलिक एसिड नामक एन्जाइम भी होता है वह दाग-धब्बों को साफ करने में सहायता करता है। एक पकी स्ट्रॉबेरी को मसलने के बाद इसमें अपना टूथ ब्रश डुबोकर और उस ब्रश से दांत साफ करने से महज दो सप्ताह में आपके दांत मोतियों की तरह चमकने लग जाते हैं। ले‍किन शोध के अनुसार, स्ट्राबेरी में सिट्रिक एसिड दांतों की सतह की कठोरता कम कर सकता है। और मैलिक एसिड भी अधिक होता है। इसलिए ध्‍यान रखें कि स्‍ट्रॉबेरी कच्‍ची न हो, अन्यथा उसका सिट्रिक व मैलिक एसिड दांतों को कमजोर कर सकता है।

सोमवार, 8 मई 2017

दांतो को रखना है स्वस्थ, तो गलती से भी ना करें टूथब्रश शेयर, हो सकते इन बीमारियों का शिकार

दांतो को रखना है स्वस्थ, तो गलती से भी ना करें टूथब्रश शेयर, हो सकते इन बीमारियों का शिकार


दांतों की मजबूती और उन्हें साफ-सुथरा रखने के लिए ब्रश करना बहुत जरूरी है लेकिन उससे भी ज्यादा जरूरी हैं, अपना टूथब्रश किसी के साथ शेयर ना करना। जी हां भूलकर भी अपना टूथब्रश किसी के साथ शेयर ना करें क्योंकि इससे आपको कई बिमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

यहां तक कि पार्टनर के साथ भी इसे शेयर ना करें। इससे आपको मुंह के संक्रमण का शिकार होना पड़ सकता है। जैसे मसूड़े फूलना, मुंह में दाद होना, हैपेटाइटस, बुखार जैसी कई बीमारियों को झेलना पड़ता है। आइए, टूथब्रश शेयर करने से होने वाली प्रॉबल्मस के बारे में जानते हैंः

1. मसूड़ों की बीमारी 
इससे मसूड़ों में से खून आना, मसूड़े फूलना, या मुंह का अल्सर आदि की समस्याएं हो सकती हैं। मसूड़े फूलने से आपको खाने-पीने और बोलने में भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

2. मुंह में दाद होना
अगर आपका टूथब्रश इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति को सिंप्लेक्स वायरस है तो आपको भी इस बीमारी का सामना करना पड़ सकता है। इसकी वजह से आपके मुंह में दाद हो जाते हैं और मुंह से बदबू भी आने लगती है। मुंह की बदबू की वजह से आपको अपमान का सामना भी करना पड़ सकता है।

3. हेपेटाइटिस
किसी और के साथ टूथब्रश शेयर करने से हेपेटाइटस जैसे बीमारी भी हो सकती है। हेपेटाइटस एक ऐसी प्रॉब्लम है, जिससे भूख ना लगना, उल्टी जैसा मन होना और पीलिया के भी लक्षण देखने को भी मिलते हैं।

4. मोनोनुक्लेओसिस (Mononucleosis)
यह एक ऐसा वायरस है जो मुंह की लार और रक्त की वजह से फैलता है। मोनोनुक्लेओसिस वायरस की वजह से हमारे शरीर को बुखार और फ्लू जैसी बीमारी का सामना करना पड़ सकता है।
दांतो को रखना है स्वस्थ, तो अपनाइए ये तरीके

दांतो को रखना है स्वस्थ, तो अपनाइए ये तरीके


हम सभी खूबसूरत दिखना चाहते हैं, जिसके लिए सभी खुद को फिट रखते हैं, फेस को बहुत अच्छे से रखते हैं. फेस पर सबसे पहले जो पार्ट दिखता है वो है दांत. जिसे सफेद रखने और अच्छा दिखाने के लिए लोग खुद से कई उपचार करते हैं और अगर खुद से कुछ नहीं होता तो वे लोग डेंटिस्ट के पास जाते हैं.

वैसे तो हम सभी रोज टूथपेस्ट यूज़ करते हैं लेकिन क्या ये करने के बाद भी आपके दांत पूरी तरह से साफ होते हैं ? आज हम आपको इसी बारे में कुछ जानकारी देगें…

1. दांत कैसे बनते हैं ?
दांत इंसान के शरीर में बनने वाली सबसे मजबूत संरचना है जो चार अलग-अलग उत्तकों से मिलकर बनते हैं. ये उत्तक होते हैं पल्प, डेन्टिन, इनैमल और सीमेंटम. कुछ इस तरह दांतों का सेप बनता है.

2. व्हाइट टूथपेस्ट का असर :
जो कंपनी ये दावा करती है कि उसका टूथपेस्ट दांत चमकाने में आपकी पूरी तरह से मदद करेगी. जिसकी सच्चाई ये होती है कि उसमें इनैमल (दंतवल्क) के लिए नुकसानदायक तथ्य होते हैं. कई टूथपेस्ट में तो ऐसे केमिकल डाले जाते हैं जो इनैमल को डेस्ट्रॉय करने के अलावा ऐसे टूथपेस्ट से दांतो के बाहरी कवच को घिसने से दांत खुरदरे और कमजोर हो जाते हैं.

3. ऐसे टूथपेस्ट में फायदे से ज्यादा नुकसान :
जो कंपनी ऐसे दावे करती है उनमें पूरी तरह सच्चाई तो होती ही नहीं साथ में इसके कई नुकसान होते हैं. इन्हें दांत में घिसना बहुत नुकसान करता है जिससे दांत कमजोर होने की वजह से चाय, कॉफी, वाइन के धब्बे दांतो पर दिखाई देने लगते हैं और दांत फीके लगने लगते हैं.

4. चेतावनी :
डॉक्टर भी यही कहते हैं कि हमेशा टूथपेस्ट बदलते रहना चाहिए. क्योंकि एक ही टूथपेस्ट हमारे दांतों को बहुत नुकसान देते हैं. अलग अलग टूथपेस्ट में अलग अलग केमिकल मिल जाता है वरना एक ही बहुत नुकसान करता है.

5. उपाय :
हमें अपने दांत चमकाने के लिए अपने दांतों का सही से ख्याल रखना चाहिए जिससे हमारा दांत नुकसान से बच सके. दो समय ब्रश करने के साथ ही जब भी खाना खाएं तो कुल्ला करें वो भी अच्छे से. ऐसा करने से आपके दांतों की उम्र लंबी हो सकती है. साथ ही कभी कभी तेल और नमक से इसकी मालिश करना भी बहुत जरूरी होता है

6. डॉक्टर के पास जाएं :
अगर आपको दांतों में ज्यादा परेशानी हो तो डॉक्टर के पास जाइये. घरेलू उपचार एक समय तक ही काम आते हैं क्योंकि ज्यादा परेशानी होने पर डॉक्टर की दवा ही काम आती है. आप विज्ञापनों से भ्रमित ना होकर अच्छे चिकित्सक की सलाह लें सकते हैं.

रविवार, 30 अप्रैल 2017

अगर तम्बाकू खाने के कारण आपके दांत है ख़राब तो ऐसे करें दाँतो की सफाई!

अगर तम्बाकू खाने के कारण आपके दांत है ख़राब तो ऐसे करें दाँतो की सफाई!


वर्तमान समय में युवाओं में गुटखा-तंबाकू खाना एक ट्रेंड सा बन गया है, जबकि उन्हें मालूम है कि यह उनके सेहत के लिए बहुत ही हानिकारक हो सकता है। तंबाकू से हमारे दांत और स्वास्थ्य दोनों को ही बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाता है। लेकिन फिर भी कुछ लोग तंबाकू का अवश्य सेवन करते हैं, जिससे उनके दांत पूरी तरह खराब हो जाते हैं।

तंबाकू खाने से इसमें मौजूद निकोटीन, दांतों के चारों ओर जमा हो जाते हैं और दांत भी पीले पड़ने लगते हैं। तंबाकू की वजह से दांतों में कई साडी समस्याएं तो बढ़ जाती ही है, इसके अलावा कैंसर होने के भी संभावना भी हो सकती है। आइए बताते हैं कि दांत से तंबाकू के दाग को कैसे बहुत आसानी से हटाया जा सकता है।

1. रोजाना ऐसे करें दांतों की सफाई
ओरल सफाई का मतलब सिर्फ ब्रशिंग ही नहीं है। मुंह की पूरी सफाई मतलब दिन में दो बार ब्रश, माउथ वॉश और दिन में एक बार मुंह में फ्लास करना आवश्यक होता है। अगर आप नियमित रूप यह सब करेंगे तो जल्द ही आपको दांतों पर पड़े तंबाकू या किसी भी प्रकार के दागों से आसानी से मुक्ति मिल जाएगी।

2. दांतों को रखें क्लीन और स्मूद
दांतों पर कोई भी चीज़ तभी जमती है जब दांतों की सतह बहुत रफ होती है। इसलिए दांतों पर कुछ जमने ना देने के लिए, दांतों की सतह को हमेशा स्मूथ और साफ अवश्य रखना चाहिए। इसके लिए आपको रोजाना सुबह करें और शाम को सोने से पहले ब्रश जरूर करें। खाने-पीने के बाद पानी से मुंह को अच्छी तरह से साफ करना चाहिए।

3. मुंह को रखें बैक्टीरिया से मुक्त
दांतों को सफेद बनाए रखने के लिए दांतों में किसी भी प्रकार की कैविटी नहीं होने देनी चाहिए। दांतों को बैक्टीरिया फ्री रखना बहुत ही जरूरी है।

4. बेकिंग सोडा का करें इस्तेमाल
बेकिंग सोडा दांतों पर से धब्बे हटाने का सबसे कारगर नुस्खा है। रोज़ाना ब्रश करने के बाद थोड़ा-सा बेकिंग सोडा लेकर दांतों को साफ करें। इससे दांतों पर जमे दाग-धब्बे धीरे-धीरे साफ हो जाते हैं।

5. गाजर का करें सेवन
गाजर का दांतों के दाग-धब्बे दूर करने में मदद इसलिए मिलती है क्योंकि गाजर खाने से इसमें मौजूद रेशे दांतों की अच्छे से सफाई कर देते हैं। दांतों को कोनों की गंदगियों को जल्द दूर करने में सहायक होती है।


6. दांतों का कराएं चेकअप
घरेलू नुस्खे के साथ-साथ डॉक्टर की सलाह बहुत ज़रूरी है। दांतों का चेकअप कराने से आपको लंबी अवधि के दागों से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। इसलिए एक निश्चित अंतराल पर दांतों का चेकअप कराना बहुत ज़रूरी है।

7. हल्दी का अचूक नुस्खा
यह भी उपाय कारगर साबित हो सकता है कि हल्दी में सरसों का तेल और नमक मिलाकर दांतों मे मंजन की तरह मलने से भी दांतों का पीलापन ठीक होगा। यदि आपके दांतों में पीलापन हो तो यह बेहद ही फायदेमंद हो सकता है।