रविवार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
रविवार लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 11 नवंबर 2017

रविवार को भूलकर भी न करे ये काम, नही तो हो सकता है नुकसान

रविवार को भूलकर भी न करे ये काम, नही तो हो सकता है नुकसान


रविवार का दिन सूर्य देव का माना जाता है। इस दिन सूर्यदेव की पूजा करने से मन सम्पूर्ण इच्छा की पूर्ति हो जाती है। संपूर्ण ब्राहमंड में सूर्य ही एकमात्र ऊर्जा का स्त्रोत है। सूर्य की पूजा से घर परिवार और समाज मे मान प्रतिष्ठा बनी रहती है। सूर्य देव की कृपा से कुंडली के सारे दोषो को दूर किया जा सकता है। लेकिन कई बाते ऐसी होती है जिन्हे इस दिन करने से सूर्य देव की कुद्रष्टि पड़ती है और बनने वाले काम भी बिगड़ जाते है। ऐसे कामो को इस दिन करने से बचना चाहिए। तो आइये जानते इन बातो के बारे मे........

1. रविवार के दिन सूर्य अस्त से पहले नमक का प्रयोग नही करें। नमक को सूर्य के अस्त के पहले सेवन करना अशुभ माना जाता है। 
2. इस दिन मांस मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। क्यों की इस दिन सूर्य देव को इन चीज़ो से नफरत है और जो इसका सेवन करता है तो वह भी सूर्य देव की कूदृष्टि मे आ जाता है। 

3. रविवार के दिन सरसो के तेल की मालिश न करे। रविवार के दिन तांबे के बर्तन को न बेचे और न खरीदे।
4. रविवार के दिन न तो दूध जलाये और न ही बाल कटवाए। ऐसा करने से घर मे दुःख दरिद्रता का आगमन होता है।
5. नीला या काला रंग पहनने से बचे। और हो सके तो जूते का प्रयोग भी न करे। 6. इस दिन स्नान करना हो तो सूर्य के निकलने के बाद ही स्नान करे।