टोटका लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
टोटका लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

बुधवार, 9 मई 2018

घर में धन और खुशियों की होगी बरसात, बस करें चुटकी भर नमक का ऐसे इस्तेमाल

घर में धन और खुशियों की होगी बरसात, बस करें चुटकी भर नमक का ऐसे इस्तेमाल


नमक का जीवन में बहुत उपयोग है। दाल या सब्जी में नमक ज्यादा हो जाए तो नुकसान और कम हो तो भी नुकसान। नमक हमारी आयु बढ़ाता भी है और नमक ही आयु घटाता भी है। नमक का उपयोग करना बहुत कम लोग जानते हैं।लेकिन हम आपको यहां खाद्य पदार्थों में उपयोग हेतु नमक के प्रयोग नहीं बताने जा रहे हैं। वैसे तो नमक के ढेरों उपाय हैं, लेकिन हम तो नमक के ऐसे चमत्कारिक उपाय बताएंगे जिन्हें जानकर शायद आप हैरान रह जाएंगे। नमक कई प्रकार के होते हैं: सेंधा नमक (पहाड़ी नमक), समुद्री नमक, काला नमक, सामान्य नमक आदि। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नमक को चंद्र और शुक्र का प्रतिनिधि माना जाता है। नमक को कुछ लोग राहु का प्रतीक भी मानते हैं।

चुटकी भर नमक के ये फायदे भी हो सकते हैं, आप जानकर वाकई में हैरान रह जाएंगे और इसके लिए आपको बहुत कुछ करने की जरूरत भी नहीं है। नमक ऐसी चीज है जो हर किसी के किचन में होती है, मगर यह सिर्फ खाने में डालने के ही काम नहीं आती। इसके कई और फायदे भी हैं, जो हमारे पूरे घर की सुख-समृद्धि से जुड़े हैं और हां इसके लिए आपको नमक खाने की नहीं बल्कि उसका कुछ इस तरह इस्तेमाल करने की जरूरत है।
चुटकी भर नमक के ये फायदे भी हो सकते हैं, आप जानकर हैरान रह जाएंगे। अब हो सकता है आपको ये अंधविश्वास की चीजें लगें, मगर ज्योतिष और वास्तु शास्त्र में घर की सुख-समद्धि व अन्य कई समस्याओं के लिए नमक से जुड़े ये उपाय बताए गए हैं।

सावधानी और सलाह :

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार नमक को चंद्र और शुक्र का प्रतिनिधि माना जाता है। नमक को यदि आप किसी स्टील या लोहे के बर्तन में रखते हैं तो यह चंद्र और शनि का मिलन होगा जो कि बहुत ही घातक सिद्ध होता है। यह रोग और शोक का कारण बन जाता है। नमक को किसी प्लास्टिक के पात्र में भी नहीं रखना चाहिए। नमक को सिर्फ कांच के पात्र में रखने से ही यह बुरा असर नहीं देता है।

नमक का गिरना अच्छा नहीं माना जाता। बुल्गारिया, यूक्रेन और रोमानिया जैसे देशों में इसे दुर्भाग्य और विवाद का सूचक समझा जाता है। भारत में इसका गिरना अशुभ माना गया है। नमक को गिराने से चंद्रमा और शुक्र दोनों कमजोर हो जाते हैं। * भोजन पकाते समय भोजन को चखे नहीं। उससे भोजन की पवित्रता नष्ट होती है और दरिद्रता आती है। नमक कम हो जाएगा तो बाद में डाल दिया जाएगा। भगवान को भोजन नैवेद्य लगाने के बाद ही भोजन को चखे।> > * नमक को सीधे सीधे किसी व्यक्ति के हाथ में मत दीजिए। नमक का पैकेट भी देने से बचना चाहिए। ऐसा मानते हैं कि इससे व्यक्ति के संबंध खराब होते हैं।

ध्यान रखें भोजन पकाते समय भोजन को चखे नहीं। उससे भोजन की पवित्रता नष्ट होती है और दरिद्रता आती है। नमक कम हो जाएगा तो बाद में डाल दिया जाएगा। भगवान को भोजन नैवेद्य लगाने के बाद ही भोजन को चखे।

चुटकी भर नमक का बस ऐसे करें इस्‍तेमाल :

दरिद्रता दूर करने हेतु : सप्ताह में एक बार गुरुवार को छोड़कर पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा साबुत खड़ा नमक (समुद्री नमक) मिला लेना चाहिए। इस उपाय से भी घर की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है।

धन का प्रवाह बनाए रखने हेतु : घर में धन का प्रवाह बनाए रखने के लिए कांच का एक गिलास लेकर उसमें पानी और नमक मिलाकर घर के नैऋत्य कोने में रख दें और उस के पीछे लाल रंग का एक बल्व लगा दें, जब भी पानी सूखे तो उस गिलास को साफ करके दोबारा नमक मिलाकर पानी भर दें।

धन प्राप्ति और बरकत हेतु : नमक को कांच के पात्र में रखें और उसमें चार-पांच लोंग डाल दें। इससे धन की आवक शुरू होने लगेगी और घर में बरकत भी बनी रहती है। इससे एक ओर जहां नमक में सुगंध बनी रहेगी वहीं इस उपाय से कभी धन की कमी नहीं होगी।

बाथरूम और टॉयलेट दोष से मुक्ति : नमक हर तरह की गंदगी को हटाने वाला रसायन है। एक कांच की कटोरी में खड़ा नमक (समुद्री नमक) भरें और इस कटोरी को बाथरूम में रखें। इस उपाय से भी नकारात्मक ऊर्जा दूर हो सकती… टॉयलेट में कांच के बाऊल में क्रिस्टल साल्ट (दरदरा नमक) भर कर रखें, 15 दिन बाद बदल दें, पहला टाॅॅयलेट के सिंक में डाल दें। अगर किसी कारण टॉयलेट उत्तर-पूर्व मेंहो तो इसके दरवाजे पर रोअरिंग लायन का फोटो पेस्ट कर दें।

वास्तुदोष मिटाएं नमक से : मिला जुला वास्तुदोष हो तो जिसे आप बदल नहीं सकते। मन में खिन्नता, भय, चिंता होने से, दोनों हाथों में साबुत नमक भर कर कुछ देर रखे रहें, फिर वॉशबेसिन में डालकर पानी से बहा दें। नमक इधर उधर न फेंके।

नजर उतारने के लिए : यदि आपको या किसी बच्चे को किसी की नजर लग गई है तो सात बार एक चुटकी नमक उस पर से उतारकर उसे बहते पानी में बहा दें। नल खोलें और उसे नल के बहते पानी में डाल दें। इससे नजर दोष दूर हो जाएगा। व्यक्तिगत बाधा के लिए एक मुट्ठी पिसा हुआ नमक लेकर शाम को अपने सिर के ऊपर से तीन बार उतार लें और उसे दरवाजे के बाहर फेंकें। ऐसा तीन दिन लगातार करें। यदि आराम न मिले तो नमक को सिर के ऊपर वार कर शौचालय में डालकर फ्लश चला दें। निश्चित रूप से लाभ मिलेगा।

शनि के दुष्प्रभाव से बचें : करते समय आपको दाल या सब्जी आदि में नमक कम लगे तो उपर से नमक न डालें। ऐसे में काला नमक तथा मिर्च कम होने पर काली मिर्च का प्रयोग करें। यदि आप ऐसे नहीं करेंगे तो इससे शनि का दुष्प्रभाव शुरू हो जाएगा।

कुंडली में चंद्र और मंगल कमजोर है तो : अगर कुंडली में चंद्र कमजोर है तो समुद्री या सामान्य नमक का भोजन में इस्तेमाल न करें बल्कि सेंधा नमक का इस्तेमाल करें। इससे आप रक्तचाप की समस्या से बचे रहेंगे।

मन की बैचेनी मिटाएं : यदि आपका मन बहुत अशांत रहता है। विचार चलते रहते हैं किसी प्रकार की चिंता से ग्रस्त रह रहे हैं तो इससे आपका स्वास्थ्य गिरता जाएगा। नमक मिले हुए जल से स्नान करने से शरीर तो शुद्ध होगा ही साथ ही मन की बैचेनी भी शांत हो जाएगी।

गृह क्लेश से बचने हेतु : यदि पति और पत्नी में किसी भी बात को लेकर अनबन है या गृहक्लेश है या किसी भी प्रकार की मानसिक अशांति है तो सेंधा या खड़े नमक का एक टुकड़ा शयनकक्ष के एक कोने में रखें, इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी। इस टुकड़े को महीने भर के बाद बदल दें और दूसरा नया टुुकड़ा रख दें।

रोग से मुक्ति हेतु : सोते समय अपना सिरहाना पूर्व की ओर रखें। अपने सोने के कमरे में एक कटोरी में सेंधा नमक के कुछ टुकडे रखें। इससे आपकी सेहत ठीक रहेगी। रोग से बचने के लिए साधारण नमक का कम ही उपयोग करना चाहिए। उसकी जगह सेंधा नमक या काले नमक का उपयोग भोजन के दौरान करना चाहिए। अगर कोई व्यक्ति लंबी बीमारी से ग्रसित हैं तो उसके सिरहाने कांच के एक बर्तन में नमक रखें। एक सप्ताह बाद उस नमक को बदल कर दोबारा नमक रख दें। धीरे धीरे उस व्यक्ति की सेहत में सुधार होने लगेगा।

गुरुवार, 3 मई 2018

अपने दरवाजे पर रोज सुबह छिड़क दें ये पानी, मिलेंगे फ़ायदे

अपने दरवाजे पर रोज सुबह छिड़क दें ये पानी, मिलेंगे फ़ायदे


सभी देवी-देवताओं की पूजा में दीपक के साथ ही कर्पूर से भी आरती करने की परंपरा है। कर्पूर जलाने से निकलने वाला धुआं नकारात्मकता दूर करता है वातावरण को पवित्र बनाता है। ज्योतिष में कर्पूर के कुछ उपाय भी बताए गए हैं, जिनसे धन की कमी भी दूर हो सकती है। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार कर्पूर के कुछ खास उपाय…

उपाय- 1
रोज सुबह गंगा जल में या साफ जल में कर्पूर मिलाएं और मेन गेट पर छिड़कें। इस उपाय से घर में नकारात्मकता प्रवेश नहीं करती है। किसी की बुरी नजर नहीं लगती है।

उपाय- 2
रोज सूर्यास्त के समय कर्पूर जलाएं और पूरे घर में घुमाएं। तुलसी के पास भी कर्पूर जलाएं, आरती करें। घर के मंदिर में भी कर्पूर जलाएं। इस उपाय लक्ष्मी की कृपा प्राप्त हो सकती है।

उपाय- 3
रोज शाम को बेडरुम में कर्पूर जलाने से स्वास्थ्य संबंधी लाभ प्राप्त होते हैं। पति-पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है।

उपाय- 4
बुधवार को घी, कर्पूर और मिश्री का दान करें। इस उपाय से भी निकट भविष्य में शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं।

उपाय- 5
देवी-देवताओं की पूजा करते समय कर्पूर से आरती अवश्य करें। इस उपाय से पूजा भगवान की प्रसन्नता मिलती है।

आप यहां बताए गए कर्पूर के पांचों उपाय कर सकते हैं या कोई एक उपाय भी नियमित रूप से करते रहने से सकारात्मक फल मिल सकते हैं। मान्यता है कि कर्पूर घर में अवश्य रखना चाहिए, इससे घर के वास्तु दोष भी दूर हो सकते हैं।

गुरुवार, 5 अप्रैल 2018

गुरुवार को करें ये एक छोटा-सा अचूक उपाय, जिंदगीभर रहेंगे मालामाल

गुरुवार को करें ये एक छोटा-सा अचूक उपाय, जिंदगीभर रहेंगे मालामाल


काम खूब मेहनत करते हैं...सफलता पाने के लिए दिन-रात एक कर देते हैं, बावजूद इसके न तरक्की होती है और आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। इतना ही नहीं पूजा-पाठ भी खूब करते हैं, फिर भी कुछ नहीं होता। हमेशा किस्मत को कोसते रहते हैं। असल में यह स्थिति गुरु के प्रभाव की वजह से होती है।

यदि कुंडली में गुरु कमजोर है या नीच का है...मृत है...वृद्ध है, तो इंसान लाख कोशिश कर ले, उसे ताउम्र आर्थिक कमजोरी रहेगी। सफलता में बधाएं आएंगी। ऐसे में गुरु के उपाय करने चाहिए। यहां हम एक ऐसा अचूक बताने जा रहे हैं, जिसके करने से न सिर्फ आपकी आर्थिक कमजोरी दूर हो सकती है, बल्कि जिंदगी में कभी भी धन की कमी महसूस नहीं होगी। इसके अलावा गुरु को मजबूत करने का भी एक छोटा-सा उपाय बताएंगे, जिससे कुंडली में गुरु कितना ही कमजोर क्यों न हो, लेकिन भगवान शिव की कृपा से गुरु के कुप्रभाव खत्म हो जाएंगे।

आर्थिक तंगी को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए यह बेहद अचूक उपाय है। इसे किसी भी गुरुवार से शुरू किया जा सकता है। यदि इस उपाय को गुरु पुष्य नक्षत्र में शुरू किया जाए, तो फल जल्द मिलने लगता है। उपाय इस प्रकार है। सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठें। स्नान करें। गाय का कच्चा दूध ले आएं। यदि घर में हो रहा है, तो बहुत ही अच्छा। ध्यान रखें कि दूध में पानी जरा भी न मिला हो। एक छोटे-से बर्तन(यदि चांदी की बर्तन हो, तो सोने पे सुहागा) में दूध लें। यदि पीले वस्त्र पहन सकें, तो ज्यादा अच्छा। तुलसी की जड़ में धीरे-धीरे दूध चढ़ाएं। साथ यह मंत्र बोलें- ओम श्री तुलसै विदमहे विष्णुप्रियाये धीमहि तन्नो प्रचोदयात। हर गुरुवार ऐसा करें। तुलसी में लक्ष्मीजी वास करती हैं। गाय का कच्चा दूध चढ़ाने से प्रसन्न होती हैं। विष्णु भगवान को तुलसी बेहद प्रिय हैं।

गुरु ग्रह को ऐसे बनाएं बलवान...
हर रोज शिव लिंग में कनेर का पीला फूल चढ़ाएं। फूल में थोड़े-से सबूत चावल रखें, जो हल्दी से रंगे हुए हों। शिवलिंग पर फूल चढ़ाते समय गुरु के मंत्र को बोलें, जैसे ओम ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरुवे नम: या फिर ओम ब्रं बृहस्पतयै नम: । इसे करने से भगवान शिव की कृपा से गुरु के अशुभ प्रभाव खत्म हो जाते हैं। मेहनत का फल मिलने लगता है।

शनिवार, 31 मार्च 2018

शनिवार की रात में शरीर के इस अंग में बांध ले काला धागा, दुनिया आपके कदमों में होगी

शनिवार की रात में शरीर के इस अंग में बांध ले काला धागा, दुनिया आपके कदमों में होगी


ज्योतिष में शनिदेव को न्यायाधीश माना गया है। जिन लोगों की कुंडली में शनि अशुभ स्थिति में होता है, उन्हें भाग्य का साथ नहीं मिल पाता है। किसी भी काम में सफल होने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है, धन संबंधी कामों में बाधाएं आती हैं, जिनकी वजह से गरीबी का सामना करना पड़ता है। यहां जानिए शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए कौन-कौन से उपाय किए जा सकते हैं
सप्ताह के सातों दिनों के लिए अलग-अलग कारक ग्रह बताए गए हैं। शनिवार का स्वामी ग्रह है शनि। इस दिन शनि के विशेष उपाय करने से कुंडली के बहुत से दोष दूर हो सकते हैं।

पहला उपाय
शनिवार को उन्नीस हाथ लंबा काला धागा लेकर उसकी माला बनाएं। इसके बाद ये माला शनिदेव को चढ़ाएं और कुछ देर बाद इस काले धागे की इस माला को गले में धारण करें। अगर आप चाहें तो इस दाहिने हाथ में भी बांध सकते हैं। इस प्रयोग से भी शनि का प्रकोप कम हो सकता है।


दूसरा उपाय
हर शनिवार व्रत रखें। सूर्यास्त के समय हनुमानजी की पूजा करें। पूजा में सिंदूर, काली तिल्ली का तेल, तेल का दीपक और नीले फूल चढ़ाएं। हनुमानजी के भक्तों पर शनि के अशुभ योगों का असर नहीं होता है।


तीसरा उपाय
शनिवार को बंदरों को और काले कुत्तों को लड्डू खिलाएं। इस उपाय से हनुमानजी के साथ ही शनिदेव भी प्रसन्न होते हैं।


चौथा उपाय
शनिवार को किसी काली गाय की पूजा करें। गाय को कुमकुम, चावल चढ़ाएं। बूंदी के लड्डू खिलाएं और गाय की परिक्रमा करें। गाय की पूजा करते समय सावधानी अवश्य रखें। इस उपाय से शनि के दोष दूर हो सकते हैं।


पांचवां काम
शनिवार को एक कटोरी में तेल लें और उसमें अपना चेहरा देखें। इसके बाद तेल का दान किसी गरीब व्यक्ति को कर दें।

सोमवार, 26 मार्च 2018

शादीशुदा महिलाएं हल्दी के पानी से करेगी ये उपाय तो पति की किस्मत चमक सकती है

शादीशुदा महिलाएं हल्दी के पानी से करेगी ये उपाय तो पति की किस्मत चमक सकती है


शास्त्रों के अनुसार पति-पत्नी को एक-दूसरे का पूरक बताया गया है यानी पति और पत्नी दोनों एक-दूसरे के बिना अधूरे रहते हैं। पति की सफलता में पत्नी का भाग्य भी जुड़ा रहता है। इसीलिए जो भी शुभ काम पत्नी करती है, उसका सीधा फल पति को मिलता है। ज्योतिष में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं, जो पत्नी करती है, जिससे पति की परेशानियां दूर हो सकती हैं, पति की किस्मत से जुड़ी बाधाएं दूर हो सकती हैं। यहां जानिए उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार ऐसे ही कुछ खास उपाय...

पहला उपाय
रोज सुबह महिला को जल्दी उठना है और स्नान के बाद देवी लक्ष्मी की तस्वीर या मूर्ति के सामने एक लोटे में हल्दी का पानी भरकर रख दें। इसके बाद देवी लक्ष्मी के मंत्र ऊँ महालक्ष्मयै नम: का जाप करें। पूजा करें। इसके बाद कुछ देर पानी वहीं रखे रहने दें। फिर उस हल्दी के पानी को घर के मुख्य द्वार पर छिड़कें। ऐसा करने से घर में सकारात्मकता बढ़ती है। घर के दोष दूर होते हैं और देवी-देवता आकर्षित होते हैं। इस उपाय के असर से पति के कार्यों में आ रही बाधाएं खत्म हो सकती हैं।


दूसरा उपाय
महालक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए हर शुक्रवार दक्षिणावर्ती शंख में जल भर कर उससे भगवान विष्णु का अभिषेक करें। ये उपाय पति-पत्नी को एक साथ करना चाहिए। इससे मां लक्ष्मी की विशेष कृपा बनी रहती है।


तीसरा उपाय
रोज सुबह उठकर स्नान आदि कर्मों के बाद देवी लक्ष्मी के सामने बैठकर कमलगट्टे की माला से 108 बार मंत्र ‘ऊँ श्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै श्रीं श्रीं ऊँ नम:’ का जाप करें। इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होती है और धन संबंधित सभी परेशानियां दूर कर सकती हैं। ये उपाय पति-पत्नी दोनों एक साथ करेंगे तो ज्यादा अच्छा रहेगा।

बुधवार, 21 मार्च 2018

पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से दोबारा कभी नहीं होगी ये बीमारी, महिलाओं के लिए है बेहद असरदार

पैर के अंगूठे में काला धागा बांधने से दोबारा कभी नहीं होगी ये बीमारी, महिलाओं के लिए है बेहद असरदार


हिन्दू धर्म में खुद को बुरी नज़र से बचाने के लिए काले धागे का इस्तेमाल किया जाता है. आपने अपने घर के बड़े-बूढों से कहते हुए सुना होगा कि काला धागा बांध लो नजर नहीं लगेगी. अगर घर के किसी बच्चे को भी नजर लगती है तो उसे नजर से बचाने के लिए काला धागा या काला टिका लगाया जाता है, लेकिन क्या आप जानते है कि कुछ लोग और खासकर महिलाएं पैर के अंगूठों में काला धागा क्यूँ बांधती है?

ये बात तो आपको भी अच्छी तरह से पता होगी कि नाभि को व्यक्ति के शरीर का केंद्र माना जाता है. नाभि से व्यक्ति की 72000 नाड़ियां जुड़ी हुई होती है. अगर नाभि अपनी जगह से खिसक जाए तो व्यक्ति को बहुत सी समस्याएं होने लगती है और ये समस्याएं कोई भी दवाई लेने से ठीक नहीं हो पाती.

नाभि खिसकने की ज्यादा समस्या महिलाओं को होती है, इसका इलाज नाभि को सही जगह में लाने पर ही होता है, लेकिन आज हम आपको एक ऐसा छोटा सा उपाय बताने जा रहे हैं जिसको करने के बाद आपको इस समस्या से हमेशा के लिए निजात मिल जायेगी.

दरअसल अगर आप अपने अंगूठे में काले रंग का धागा बांधते हैं, तो आपको बहुत जल्दी इस समस्या से निजात मिल सकती है. ये छोटा सा धागा आपको हमेशा के लिए इस समस्या से छुटकारा दिला सकता है. इसका असर आपको खुद धीरे-धीरे करके दिखाई देने लग जायेगा.

वहीँ बता दें कि आपके जिस भी हाथ की छोटी उंगली की लम्बाई कम हो उस हाथ को सबसे पहले सीधा करें और अपने हाथ की हथेली ऊपर की तरफ करें. अब अपने इस हाथ को आपके दूसरे हाथ की कोहनी के जोड़ के नजदीक ले जाए. अब अपने पहले वाले हाथ की मुट्ठी को बंद कर लें. इस बंद की गयी मुट्ठी से जोर से अपने कंधे पर मारे. ऐसा अगर आप 10 बार करेंगे तो आपकी नाभि खुद ही अपने जगह पर वापस आ जायेगी.

नकारात्मक उर्जा को दूर करने के लिए घर में करें पानी की कटोरी का यह चमत्कारी उपाय

नकारात्मक उर्जा को दूर करने के लिए घर में करें पानी की कटोरी का यह चमत्कारी उपाय


हर व्यक्ति अपने जीवन में किसी न किसी परेशानियों का सामना करता रहता है. समय के साथ-साथ समाज में कठिनाइयाँ बढती ही जा रही है. समाज की इन्हीं कठिनाइयों की वजह से लोगों की समस्याएं भी बढती जा रही हैं. पहले के समय में जो समस्या लोगों को थी. आज भी वही है, लेकिन उसका रूप बदल गया है. पहले भी लोगों को जीवन में धन सम्बन्धी समस्याओं का सामना करना पड़ता था और आज भी लोग इसी समस्या का सामना कर रहे हैं.

ये तो आप सभी जानते होंगें कि आज के इस आर्थिक युग में धन ही सबकुछ बन गया है. जिसके पास धन नहीं है, वह आज के समय में कुछ भी नहीं कर सकता. जबकि धनवान लोगों के मुट्ठी में ही पूरी दुनिया है. हम आपको बता दें कि कई बार हमारी समस्याओं और असफलताओं की वजह घर में मौजद नकारात्मक उर्जा भी हो सकती है. अगर घर में किसी भी तरह की नकारात्मक उर्जा मौजदू है तो कितना भी प्रयास क्यों ना किया जाए काम में सफलता नहीं मिलती सकती. साथ ही आर्थिक समस्या भी बनी रहती है. इन सभी परेशानियों से छुटकारा पानें के लिए शास्त्रों में कुछ उपाय बताये गए हैं.

अगर आपके जीवन में भी परेशानी चल रही है तो ज्यादा परेशान होने की बजाय हर सुबह एक कटोरी में पानी भरकर घर की छत पर सूरज की रौशनी में रख दें. फिर शाम के समय उस पानी को लेकर आम या अशोक के पत्ते की मदद से पुरे घर में छिडकाव करें. ऐसा करने से घर की हर तरह की नकारात्मक उर्जा बाहर निकल जाती है. इतना ही नहीं ऐसा करने से घर के दुर्भाग्य से भी मुक्ति मिलती है और सौभाग्य का आगमन होता है.

शाम के समय जब भी घर में पूजा करें, तो शंख अवश्य बजाएं. इतना ही नहीं उसी शंख से घर में पानी भी छिडकें. ऐसा माना गया है कि हर रोज शंख में पानी भरकर घर में छिड़कने से घर की नकारात्मक उर्जा दूर हो जाती है.

अगर आपके घर के सदस्यों को रात में बुरे सपने सताते हैं तो इसका मतलब आपके घर में नकारात्मक शक्तियाँ है. इसका उपाय करने के लिए आप कपूर को घी में डालकर उसे घर में जलाएं. ऐसा करने से घर के सदस्यों को बुरे सपने आने बंध हो जायेंगे और उन्हें अच्छी नींद आएगी.

हर रात को सोने से पहले घर के हर कोने में थोड़ा-थोड़ा सेंधा नमक कांच की किसी कटोरी या किसी पात्र में भरकर रख दें. सुबह हर जगह के नमक को इकठ्ठा करके उसे किसी बहते हुए जल में प्रवाहित करें. ऐसा करने से घर में खुशियों का आगमन होता है और घर से हर तरह की परेशानियाँ दूर हो जाती है.

मंगलवार, 20 मार्च 2018

पोछा लगाते समय करे नमक का ये उपाय, परिणाम जान कर दंग रह जायेंगे आप..

पोछा लगाते समय करे नमक का ये उपाय, परिणाम जान कर दंग रह जायेंगे आप..


अपने घर की साफ सफाई कर कोई व्यक्ति करता है फिर चाहे वो मर्द हो या ओरत सभी यही चाहते है की उनका घर हमेशा साफ रहे सुन्दर रहे और ये सही भी है क्युकी साफ घरो में की माँ लक्ष्मी का वास होता है।

शास्त्रों के अनुसार झाड़ू को भी महालक्ष्मी का ही एक स्वरूप माना गया है। साफ सफाई करने से से दरिद्रता रूपी गंदगी को बाहर किया जाता है। इसके साथ साथ जिन घरों के कोने-कोने में भी सफाई रहती है, वहां सकारात्मक उर्जाओ का वास होता है…

कई बार हम साफ सफाई करते हुए भी कुछ बातो का ख्याल नहीं करते है जिसकी वजह से हमे सकारात्मक परिणाम नहीं मिल पते है चलिए आज आपको बताते है कि झाड़ू और पोंछा करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। झाड़ू कहां और कैसे रखें झाड़ू से घर में प्रवेश करने वाली बुरी अथवा नकारात्मक ऊर्जा नष्ट होती है।

सबसे पहले अपनी झाड़ू जो कभी भी खुले स्थान पर न रखे उसे हमेशा छुपा कर रखे खुले स्थान पर झाड़ू रखना अपशुगन मन गया है. दूसरा कभी भी रात को झाड़ू न लगे इससे बढ़ोतरी की बजाय हानि होती है।

ध्यान रखे की भोजन कक्ष में भी झाड़ू ना रखें, इससे घर का अनाज जल्दी खत्म हो सकता है और परिवार के सदस्यों को स्वास्थ्य सबंधी समस्या भी हो सकती है।

दिन में घर के द्वार के पास कभी भी खाडू न रखे. पर रात के समय अपने घर के बाहर हर रोज रात के समय दरवाजे के सामने झाड़ू रखते हैं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। आपको ध्यान रखना है की ये काम केवल रात के समय ही करना चाहिए।

अपने घर में पोछा आदि करते समय पानी में थोडा नमक डाल ले इससे घर में उपस्थित सूक्षम जीवाणु खत्म हो जाते है इसके साथ साथ सकारात्मक उर्जा घर में प्रवेश होती है. इसीलिए जब भी घर की सफाई करे तो ऊपर दी गयी बातो को जरुर ध्यान रखे इससे आपका घर नकारात्मक उर्जाओ से दूर रहता है.

माना जाता है की सूर्यास्त के बाद झाड़ू लगाना जहां अपशगुन होता है, साथ ही ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से सफाई के साथ हम लक्ष्मी को भी घर से बाहर कर देते हैं जो उनका अपमान है और इसलिए लक्ष्मी रूठकर उस घर से चली जाती है. वहीं झाड़ू पर पैर रखना भी लक्ष्मी का अपमान और दरिद्रता को न्योता देना माना जाता है…!!

बुधवार, 7 मार्च 2018

हर तरह की समस्या दूर कर सकता है नारियल

हर तरह की समस्या दूर कर सकता है नारियल


हिंदू धर्म में नारियल को बहुत ही कल्याणकारी माना जाता है। नारियल का उपयोग पूजा-पाठ और विवाहिक कार्यो में किया जाता है। भारतीय रीति-रिवाज में इसको बहुत ज्यादा शुभ और सौभाग्यशाली माना जाता हैं। नारियल को देवी-देवताओं के भोग के लिए चढ़ाया जाता है तथा इसे उपहार, मंगल कलश और हवन यज्ञ संबधित कार्यो के काम में भी लिया जाता हैं। तंत्रो के अंदर भी नारियल को परेशानियाँ हटाने वाला और तकदीर बनाने वाला बताया गया है। जानिये कैसे आप तंत्र शिक्षा के अनुसार नारियल का इस्तेमाल करके अपनी तकदीर बना सकते है।

गरीबी की समस्या से मुक्ति पाने के लिए
हर शुक्रवार को सुबह जल्दी नहाने के बाद श्री गणेश और महालक्ष्मी का पूजन करें। पूजन में एक नारियल रखें। पूजन करने के बाद उस नारियल को तिजोरी के अंदर रख दें। रात के समय इस नारियल को निकालकर श्री गणेश के मंदिर में रख दें। ऐसा 5 शुक्रवार तक करने पर पैसो से जुडी समस्याएं दूर हो जाती है।

अगर व्यापार में हानि हो रही हो तो
कारोबार में बार-बार हानि हो रही हो तो गुरुवार को एक नारियल सवा मीटर पीले वस्त्र में लपेटकर एक जोड़ा जनेऊ, सवा पाव मिठाई के साथ आस-पास के किसी भी विष्णु मंदिर में संकल्प के साथ चढ़ा दें। तत्काल ही व्यापार चल निकलेगा।

कर्ज की समस्या से छुटकारा पाने के लिए
शनिवार के दिन सुबह नहाने के बाद अपनी लंबाई के अनुसार काला धागा लें और फिर काले धागे को नारियल पर लपेट लें। नारियल का पूजन करें इसके बाद नारियल को नदी के बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। साथ ही ईश्वर से ऋण मुक्ति के लिए प्रार्थना करें।

यदि आपके पास पैसा नहीं टिकता हो तो
आपके पास पैसा नहीं टिकता हो तो शुक्रवार को माता लक्ष्मी के मंदिर में एक जटावाला नारियल, गुबाल, कमल फूल की माला, सवा मीटर गुलाबी और सफेद कपड़ा, सवा पाव चमेली का तेल, दही, सफेद मिठाई एक जोड़ा जनेऊ के साथ माता को अर्पित करें। इसके बाद कपूर  और देसी घी से आरती करें और श्री सुक्त का पाठ करें। पैसों सम्बंधित समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।

अपने कार्यो में सफलता पाने के लिए
अगर कोई काम काफी प्रयास के बावजूद सफल नहीं हो पा रहा है तो आप एक लाल रंग का सूती कपड़ा लें और उसमे रेशेयुक्त नारियल को लपेट लें और फिर बहते हुई जल में प्रवाहित कर दें। जिस समय आप नारियल को जल में बहा रहे हों उस समय उस नारियल से सात बार अपनी कामना जरूर कहें।

कालसर्प और शनि दोष निवारण हेतु
शनिवार के दिन नारियल को काले कपड़े में लपेटें। 100gm काले तिल, 100gm उड़द की दाल तथा एक कील के साथ उसे बहते हुए जल में प्रवाहित करें। ऐसा करना बहुत ही लाभकारी होता है। जिन लोगों की कुंडली में कालसर्प दोष हो या राहु-केतु अशुभ फल दे रहे हों तो ऐसा समय समय पर करते रहने से दोष दूर हो जाते हैं।

बीमारी या संकट हटाने के लिए
एक नारियल लें और उसे बीमार या संकटग्रस्त व्यक्ति के ऊपर से 21 बार वारकर किसी देवस्थान की अग्नि में डाल दें। यह उपाय आप मंगलवार और शनिवार के दिन ही करें। ऐसा 5 बार ही करें मंगलवार और शनिवार को हनुमान जी के मंदिर में जाकर हनुमान चालीसा पढ़े और एक बार उनको चौला चढ़ा दें।

शनि संकट से मुक्ति हेतु
7 शनिवार को किसी नदी में नारियल प्रवाहित करें। ध्यान रहे कि लगातार 7 शनिवार करें। नारियल प्रवाहित करते हुए इस मंत्र का भी जप करें - ॐ रामदूताय नमः ||

लंबे समय तक स्थाई नौकरी पाने के लिए
नारियल के छिलकों को जलाकर भस्म तैयार करें पानी मिलाकर उसकी लुगदी बनाएं। लुगदी की 7 पुड़िया बनाएं। जिसमे से 4 पुड़िया घर के चारों कोनों में रखें और बची हुई पूड़ियों में से एक पुड़िया मकान की छत पर, एक पीपल के पेड़ की जड़ में और एक अपनी जेब में रखें। 7 दिनों के बाद सभी पुड़िया एक जगह पर इकट्ठी कर लें। फिर उसे वहाँ छुपाकर रखे जहाँ से आप आजीविका कमाना चाहते है।

बुधवार, 21 फ़रवरी 2018

बुधवार को करें हरी मूंग का दान, घर पर लग जाएंगे धन-धान्‍य के भंडार

बुधवार को करें हरी मूंग का दान, घर पर लग जाएंगे धन-धान्‍य के भंडार


बुधवार का संबंध गणेश भगवान के साथ-साथ बुध ग्रह से भी है । ये बहुत ही गर्म ग्रह हे, इसके तापमान की तरह कुंडली में जिसका बुध दोष पूर्ण हो जाएं उसके लिए कई प्रकार की मुश्किले खड़ी हो सकती है । भगवान गणेश की पूजा अर्चना कर आप बुध दोष का निवारण कर सकते हैं और नौकरी, व्‍यवसाय और गृह शांति से संबंधित समस्‍याओं का समाधान प्राप्‍त कर सकते हैं । बुध ग्रह और भगवान गणेश की कृपा प्राप्ति के कुछ उपाय आपको हम आगे बता रहे हैं, इनका प्रयोग बुधवार को करने से घर में किसी वस्‍तु की कमी नहीं रहती ।

क्‍या आप जानते हैं बुधवार के दिन भगवान गणेश की पूजा की जाती है, इस दिन गणेश जी को प्रसन्‍न करने के कुछ छोटे-छोटे उपाय आपको बताए जा रहे हैं । इन उपायों को अपनाकर आप गणेश जी की विशेष कृपा पा सकते हें ।
दूर्वा चढ़ाएं
बुधवार के दिन सुबह- सुबह उठकर, स्नान करें । गणेशजी के मंदिर जाकर उन्हें दूर्वा की 11 या 21 गांठ चढ़ाएं । ऐसा करनें से आपको जल्द ही  शुभ फल की प्राप्ति होगी और आपकी मनोकामना जल्‍द पूर्ण हो जाएगी। बुधवार को हरा रंग पहनना बहुत ही शुभ माना जाता है, ये गणपति का प्रिय रंग कहा जाता है । बुधवार के दिन आप यदि हरे कपड़े धारण करेंगे तो गणेश जी की विशेष कृपा आपको प्राप्‍त होगी ।
हरी मूंग का दान
बुधवार के दिन हरे मूंग का प्रयोग करें । इसकी दाल बनाएं और परिवार के साथ बैठकर इसका सेवन करें । हरे मूंग का दान चावल के साथ करने से आपको बुध ग्रह की विशेष कृपा प्राप्‍त होती है । इस दिन हरे मूंग भिगोकर पक्षियों को दाना भी डाल सकते हैं । गणेश जी आप पर प्रसन्‍न होंगे और गणेश जी के साथ आपाके लक्ष्‍मी जी की भी कृपा की प्रापित होगी ।

सुबह उठकर ये काम करें
इसके अलावा बुधवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत होकर एक कांस की थाली लें। इस कांसे की थाली में चंदन से ऊँ गं गणपतयै नम: लिखें। उसके बाद थाली में पांच बूंदी के लड्डू रखकर पास के श्रीगणेश मंदिर में दान करें। बाया जाता है कि ऐसा करने से घर में धन लाभ के योग बनते हैं और परेशानियां दूर हो जाती हैं। इसलिए ऐसा जरूर करें।

शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएँ
इसके साथ ही बुधवार के दिन आपको भी एक खास काम करना चाहिए। घर में अगर गणपति की मूर्ति है, तो इससे बेहतर क्या हो सकता है। स्नान करने के बाद भगवान गणेश को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाएं। भगवान गणश को मीठा सबसे ज्यादा प्रिय है। बताया जाता है कि इस दिन प्रभु को शुद्ध घी और गुड़ का भोग लगाने से धन प्राप्ति के योग बनते हैं।

बुध ग्रह होगा मजबूत
कुंडली में बुध ग्रह खराब चल रहा है तो इसके लिए बुधवार के दिन हरे मूंग का दान करें । दान किसी गरीब या किसी मंदिर में जाकर करेंगे तो बुध ग्रह का दोष खत्‍म हो जाएगा । आप अपने घर के मंदिर में गणपति की स्‍थापना करें और उनका रोज पूजन करें । ऐसे करने से भी बुध के दोष शांत हो जाते हैं । कुंडली में बुध ग्रह कमजोर चल रहा हो तो पितृ पक्ष से समस्‍याएं आती हैं ।

नेगेटिव एनर्जी होगी दूर, करें ये उपाय
आपके घर में नकारात्‍मक ऊर्जा का प्रवाह रहता है तो आपको बुधवार के दिन एक विशेष उपाय करना चाहिए । बुधवार के दिन घर में गणेश जी की सफेद मूर्ति की स्‍थापना करें । ऐसा करने से घर की सारी नेगेटिविटी दूर चली जाएगी । अगर आपके घर में आपको कुछ गलत महसूस होता है तो ऐसी हवाएं भी इस उपाय के साथ दूर हो जाएंगी । आप भयमुक्‍त हो जाएंगे ।

बुधवार को कपूर का भी दान करते हैं
बुधवार के दिन घी, कपूर और मिश्री का दान करें, शास्त्रों के अनुसार ऐसा उपाय करने से निकट भविष्य में शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं,  अगर संभव हो, तो हर बुधवार को ऐसा करे, इससे आपके लिये हर चीज शुभ होगी, आपके जीवन में संपन्नता आएगी और आप तरक्की करेंगे। कपूर का प्रयोग घर से नेगेटिव एनर्जी को दूर करने में किया जाता है । कपूर को जलाकर पूरे घर में उसका धुआं लगाएं आपको लाभ होगा ।

बुधवार को खरीदें ये सामान
गणपति का दिन है बुधवार, इस दिन हरी दूर्वा के साथ गणेश जी की पूजा करने से उनका आशीर्वाद मिलता है । बुधवार को घर की सजावट से जुड़े सामान खरीदने चाहिए । कला से संबंधित कोई भी वुस्‍तु, किसी तरह का स्‍पोर्ट्स आइटम या फिर स्टेशनरी खरीदना इस दिन शुभ माना जाता है । इस दिन बर्तन, दवाइयां,  ज्वलशील वस्तुएं, एक्वेरियम और अनाज में चावल आदि बिलकुल नहीं खरीदना चाहिए ।

शनिवार, 17 फ़रवरी 2018

रोजाना सुबह,शाम  गंगाजल और कपूर का ये उपाय करने से चमक उठेगी आपकी किस्मत

रोजाना सुबह,शाम गंगाजल और कपूर का ये उपाय करने से चमक उठेगी आपकी किस्मत


हिन्दू धर्म में सभी देवी-देवताओं की पूजा में दीया के साथ ही कपूर से भी आरती करने की परंपरा है, आपको बता दें कि कपूर जलाने से निकलने वाला धुंआ नकारात्मकता दूर करता है, साथ ही इससे वातावरण भी पवित्र होता है, ज्योतिष शास्त्र में कपूर के कुछ उपाय भी बताये गये हैं, इससे धन की कमी भी दूर हो सकती है, आइये आज आपको गंगाजल और कपूर से होने वाले कुछ उपाय के बारे में बताते हैं।

दरवाजे पर करें छिड़काव
रोजाना सुबह स्नान-ध्यान के बाद गंगाजल या फिर साफ पानी में कपूर मिलाएं और उसे अपने घर के मुख्य दरवाजे पर छिड़क दें, इस उपाय से आपके घर में नकारात्मकता प्रवेश नहीं करेगी, घर में रहने वाले लोग बुरी नजर से बचे रहेंगे, ऐसा रोजाना करें, आप तरक्की के रास्ते पर आगे बढने लगेंगे।

सूर्यास्त के बाद ऐसा करें
रोजाना सूर्य अस्त होने के बाद कपूर जलाएं और उसे पूरे घर में घुमा दें, इसके साथ ही जहां भी आपने घर में तुलसी का पौधा लगा रखा होगा, वहां भी कपूर जला कर रख दें और आरती करें। घर के मंदिर में भी कपूर जलाएं, ऐसी मान्यता है कि इस उपाय से घर में मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है, इसलिये रोजाना शाम को ऐसा करें।

स्वास्थ्य संबंधी लाभ 
प्रतिदिन शाम को अपने बेडरुम में कपूर जलाकर रख दें, ऐसा करने से आपको स्वास्थ्य संबंधी लाभ भी प्राप्त होगा, साथ ही अगर पति-पत्नी में नोंक-झोक होती रहती है, या फिर आपका दांपत्य जीवन अच्छा नहीं चल रहा है, तो ऐसा करने से आपका पारिवारिक माहौल अच्छा होगा, पति-पत्नी के बीच मधुरता बढेगी और परिवार में खुशहाली आएगी।

बुधवार को दान करें
बुधवार के दिन घी, कपूर और मिश्री का दान करें, शास्त्रों के अनुसार ऐसा उपाय करने से निकट भविष्य में शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं, इसलिये अगर संभव हो, तो हर बुधवार को ऐसा करे, इससे आपके लिये हर चीज शुभ होगी, आपके जीवन में संपन्नता आएगी और आप तरक्की करेंगे।

कपूर से आरती करें
देवी-देवताओं की पूजा करते समय कपूर से आरती जरुर करें, ऐसी मान्यता है कि इस उपाय से भगवान जल्दी प्रसन्न होते हैं, इसके साथ ही कपूर से निकलने वाले धुएं से घर की नकारात्मकता भी खत्म होती है, इसलिये जब भी पूजा करें, तो भगवान की आरती कपूर से भी करें।

दूर हो सकते हैं कुंडली के दोष 
अगर किसी इंसान की कुंडली में ग्रहों से संबंधिक दोष है, तो कपूर जलाकर पूजा करें, ऐसा नियमित रुप से करने से सकारात्मक फल मिलने की संभावना बढ जाती है, कुंडली के दोष दूर होने से साथ ही कामों में आसानी से सफलता मिल सकती हैं, धन लाभ हो सकता है।

वातावरण होता है शुद्ध 
घर में पूजा-पाठ के दौरान कपूर जलाने से उसकी महक वातावरण में फैलती है, इसकी खुशबू से वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया खत्म हो जाती है, जिससे वातावरण शुद्घ होता है, सर्दी के दिनों में कपूर का इस्तेमाल कुछ लोग ऊनी कपड़ों में भी करते हैं, दरअसल उनका मानना है कि उसकी महक की वजह से कपड़े कीड़ों से सुरक्षित रहते हैं।

भाग्य चमकाता है
अगर आप अपना भाग्य चमकाना चाहते हैं, तो सुबह नहाते समय अपने नहाने के पानी में कपूर के तेल की कुछ बूंदें पानी में डाल दें, इस उपाय से नहाने पर आपके शरीर को सकारात्मक ऊर्जा मिलेगी, साथ ही आपका भाग्योदय भी होगा। आप काम में आ रही उलझनें अपने आप खत्म होगी।

गुरुवार, 1 फ़रवरी 2018

मिलेगा सारी समस्याओं का अंत, करें प्रतिदिन घर की छत पर पानी की कटोरी का यह चमत्कारी उपाय

मिलेगा सारी समस्याओं का अंत, करें प्रतिदिन घर की छत पर पानी की कटोरी का यह चमत्कारी उपाय


हर व्यक्ति जीवन में परेशानियों का सामना कर रहा है। समय के साथ-साथ समाज की जटिलता बढती जा रही है। समाज में जटिलता बढ़ने की वजह से लोगों की समस्याएं भी बढती जा रही हैं। पहले के समय में जो लोगों को समस्या था, आज भी वही है, लेकिन उसका रूप बदल गया है। पहले भी लोगों को जीवन में धन सम्बन्धी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। आज भी लोग धन सम्बन्धी समस्याओं का सामना कर रहे हैं। लेकिन पहले धन की एक साधन नहीं था, जिससे लोग अपनी जरूरतें पूरी कर सकते थे।

आज के इस आर्थिक युग में धन ही सबकुछ बन गया है। जिसके पास धन नहीं है, वह आज के समय में कुछ भी नहीं कर सकता है। जबकि धनवान लोगों के मुट्ठी में ही पूरी दुनिया है। वह जो चाहे आसानी से कर सकते हैं। कई बार हमारी समस्याओं और असफलताओं की वजह घर में मौजद नकारात्मक उर्जा भी हो सकती है। अगर घर में नकारात्मक उर्जा मौजदू है तो कितना भी प्रयास क्यों ना किया जाये काम में सफलता नहीं मिलती है। साथ ही आर्थिक समस्या भी बनी रहती है। इन परेशानियों से छुटकारा पानें के लिए शास्त्रों में कुछ उपाय बताये गए हैं।
ये भी पढ़िए : काजल के ये टोटके करेंगे हर समस्या का समाधान, जरुर आजमाइए

शास्त्रों में बताये गए उपाय:

अगर आपके जीवन में परेशानी चल रही है तो ज्यादा परेशान होने की बजाय हर सुबह एक कटोरी में पानी भरकर घर की छत पर सूरज की रौशनी में रख दें। शाम के समय उस पानी को लायें और आम या अशोक के पत्ते की मदद से पुरे घर में पानी का छिडकाव करें। एस करने से घर की हर तरह की नकारात्मक उर्जा बाहर हो जाती है। घर के दुर्भाग्य से मुक्ति मिलती है और सौभाग्य का आगमन होता है।

अगर घर में नकारात्मक शक्ति मौजूद होगी तो घर के किसी भी सदस्य को चैन नहीं आएगा। घर के सदस्यों को रात में बुरे सपने सतायेंगे। अगर आपके घर में भी ऐसा कुछ हो रहा है तो कपूर को घी में डालकर उसे घर में जलाएं। ऐसा करने से घर के सदस्यों को बुरे सपने आने बांध हो जायेंगे और उन्हें अच्छो नींद आएगी।

हर रात को सोने से पहले घर के हर कोने में थोड़ा-थोड़ा सेंधा नमक कांच की किसी कटोरी या किसी पात्र में भरकर रख दें। सुबह हर जगह के नमक को इकठ्ठा करें और उसे किसी बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। ऐसा करने से घर में खुशियों का आगमन होता है और घर से हर तरह की परेशानियाँ दूर हो जाती हैं।

शाम के समय जब भी घर में पूजा करें, शंख जरुर बजाएं। केवल यही नहीं शंख से पानी भी छिडकें। ऐसा मन जाता है कि हर रोज घर में शंख में पानी भरकर छिड़कने से घर की नकारात्मक उर्जा दूर हो जाती है। इसके बाद घर में देवी-देवताओं का निवास होने लगता है।

शनिवार, 13 जनवरी 2018

 शनिवार को  करें काले तिल से ये छोटा सा उपाय, गरीबी और परेशानियां हो जाएंगी कोसों दूर

शनिवार को करें काले तिल से ये छोटा सा उपाय, गरीबी और परेशानियां हो जाएंगी कोसों दूर


व्यक्ति के जीवन में कई बार ऐसा वक्त आता है जब उसके साथ कुछ भी ठीक नहीं होता, ना ही उनके हाथों में पैसे टिक पाते हैं और ना ही उनका शरीर स्वस्थ रह पाता है। हालांकि, इस तरह की परेशानियां हर किसी को एक न एक बार तो झेलनी ही पड़ती है मगर इसके कारण अलग- अलग हो सकते हैं। जी हां, हम आपको बता दें कि कई बार ऐसा वास्तु दोष का फिर ग्रहों की हेरा-फेरी की वजह से भी हो सकता है। या फिर हो सकता है कि आपसे जाने- अंजाने कोई भूल हुई और जिसके कारण शनि देव आपसे रुष्ट हो गए हों। और यदि ऐसा है तो आपको हर दिन किसी न किसी परेशानी का सामना करना ही पड़ेगा।

तो यदि आप भी लगातार पैसों से जुड़ी परेशानियों का सामना कर रहे हैं या फिर लाख कोशिशों और कड़ी मेहनत के बाद भी घर में पैसा नहीं टिक रहा है तो आज हम आपके लिए लाए हैं एक ऐसा चमत्कारिक उपाय जिसे करने से आपकी सारी परेशानियां कुछ ही दिनों में खत्म होती नज़र आएगी। बस उसके लिए आपको करना होगा काले तिल से जुड़ा एक आसान सा उपाय।
ये भी पढ़िए : शनिवार के दिन भूल से भी घर में ना लाएं ये चीज़ें

तो आइए जानते हैं कि आखिर इस उपाय को करना कैसे है-

  • मुट्ठी भर काला तिल लें और उसे घर के सभी सदस्यों के सिर पर से 7 बार उतारकर घर के उत्तर दिशा में फेंक दें। ऐसा करने से घर से जाने वाले पैसे व धन हानि की समस्या तुरंत रुक जाएगी।
  • हर शनिवार के दिन एक काले कपड़े में थोड़ा तिल और उड़द की दाल बांधकर किसी गरीब को दान करें। ऐसा करने से शनि देव आप पर प्रसन्न होंगे और आपके लिए धन लाभ के द्वार खुलने लगेंगे।
  • हर शनिवार को दूध में थोड़े काले तिल के कुछ दाने मिला लें और फिर इस दूध को पीपल के पेड़ में अभिषेक करें। इस विधी को करने से व्यक्ति के जीवन में किसी भी तरह का बुरा वक्त चल रहा हो वो टल जाता है।

गुरुवार, 11 जनवरी 2018

काजल के ये टोटके करेंगे हर समस्या का समाधान, जरुर आजमाइए

काजल के ये टोटके करेंगे हर समस्या का समाधान, जरुर आजमाइए


महिलाएं अपनी सुंदरता निखारने के लिए काजल का उपयोग करती हैं. आपने देखा होगी कि माएं भी अपने बच्चों को काजल लगाकर रखती हैं. कहते है कि काजल लगाने से बच्चा बुरी नज़र से बचा रहता है. इसके अलावा, लोग कई प्रकार के टोटकों में भी काजल का प्रयोग करते हैं. आज हम उन्हीं टोटकों के बारे में बात करेंगे. आज हम आपको बताएंगे कि काजल का इस्तेमाल केवल खूबसूरती बढ़ाने के लिए नहीं बल्कि कई प्रकार के टोटकों में भी किया जाता है. तो आईये जानते हैं किस प्रकार काजल हमारे काम आ सकता है.

जब आंखों की खूबसूरती की बात आती है तब सबसे पहले काजल का नाम आता है। काजल का उपयोग सदियों से होता चला आ रहा है। आंखें महिलाओं का सबसे आकर्षक अंग माना जाता है, इसलिए वे अपनी इनकी खूबसूरती बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास करती रहती हैं। पहले आंखों में काजल सूरज की नुकसानदेह किरणों और आंखों को कीट-पतंगों तथा बच्चों को बुरी नजर से बचाने के लिए लगाया जाता है। वहीं सुरमा लगाने का भी चलन है, इसका उपयोग अधिकतर लोग वशीकरण के लिए करते हैं। इसका रत्न धारण करने से भी कई चमत्कारिक लाभ होते हैं। काजल बुरी नजर के साथ कई मुसीबतों से भी बचाता है। आइए जानें काजल क्या-क्या कमाल करता है...
घर के सदस्यों के बीच मनमुटाव
यदि आपके घर के सदस्यों के बीच मनमुटाव चल रहा है तो हमारे पास आपके लिए बेहद ही आसान टोटका है. इसके लिए आप एक काला कपडा ले लें. अब उसमें आप पानी वाला नारियल लपेट लें और उस लपेटे हुए नारियल पर काजल की 21 बिंदियां लगा दें. आखिरी में इस नारियल को घर के बाहर कहीं टांग दें. आप देखेंगे कि धीरे-धीरे मनमुटाव दूर होने लगा है.

नौकरी बचाने, ट्रांसफर रुकवाने में
पांच ग्राम डली वाला सुरमा लें और किसी सुनसान जगह पर गाड़ दें। ध्यान रखें कि सुरमा डली वाला व एक ही डली पांच ग्राम की होनी चाहिए। 

सुख शांति के लिए
यदि आपके परिवार में हमेशा कलह रहती है, पारिवारिक सदस्य सुख शांति से न रहते हों तो शनिवार के दिन सुबह काले कपड़े में नालियल लपेटकर 21 काजल की बिंदी लगा लें और घर के बाहर लटका दें। ये टोटका हमेशा बुरी नजर से बचाएगा।

शत्रु से मुक्ति 
कोई शत्रु परेशान कर रहा है तो चांदी के पांच छोटे-छोटे सांप बनवाकर उनकी आंखों में सुरमा लगाएं और 21 दिनों तक अपने पैरों के नीचे दबाकर सोएं। शत्रु परेशान करना छोछ़ देगा। 

काजल से वशीकरण
रवि पुष्य योग में गूलर के फूल एवं कपास की रूई मिलाकर बत्ती बनाएं तथा उस बत्ती को मक्खन से जलाएं। जलती हुई बत्ती की ज्वाला से काजल निकालें। इस काजल को रात को आंखों में लगाने से मनचाहा व्यक्ति वश में हो जाता है। इसके अलावा लौकी के तेल और कपड़े की बत्ती से तैयार काजल को लगाकर देखने से भी वशीकरण हो जाता है। 

एक निम्बू के चार टुकड़े करके चुपचाप यहाँ फेक दे इतना आएगा पैसा की आप संभल नहीं पाएंगे

एक निम्बू के चार टुकड़े करके चुपचाप यहाँ फेक दे इतना आएगा पैसा की आप संभल नहीं पाएंगे


बुरी नज़र उतारने के लिए नींबू के टोटके का प्रयोग सबसे अधिक किया जाता है। बुरी नज़र उतारने से पहले हम आपको बता दें कि आखिर बुरी नज़र क्यों और कैसे लगती है। कभी-कभी ऐसा होता है कि कोई इंसान हमें बहुत अच्छा लगने लगता है। जिसकी वजह से हम उसे एकटक देखते रहते हैं। फलस्वरूप उसे हमारी नज़र लग जाती है। ऐसी स्थिति में कोई भी दवा काम नहीं करती है। यदि कभी ऐसा आपके घर-परिवार में भी हो जाए तो बुरी नज़र को दूर करने के लिए नींबू के टोटके को जरूर अपनाएँ।

1. बुरी नज़र उतारने के लिए
यदि घर में किसी को नजर लग जाए तो एक नींबू उसके सर के ऊपर से सात बार उतार लें। इसके बाद इस नींबू के चार टुकड़े करके किसी सुनसान स्थान या किसी चौराहे पर फेंक दें। ध्यान रखें ऐसा करने के बाद पीछे मुड़कर बिलकुल न देखें और सीधे घर चले आएँ। बुरी नज़र उतर जाएगी।
2. दुकान में बरकत के लिए नींबू/निम्बू मिर्च के टोटके 
दुकान में बरकत के लिए भी नींबू के टोटके का इस्तेमाल किया जाता है। अक्सर आपने कई दुकानों के सामने नींबू मिर्च टंगी हुई देखी होगी। अगर आपकी दुकान में भी बरकत नहीं हो रही है।व्यापार में मंदी आ गई है तो आप भी नींबू मिर्ची के टोटके को अपना सकते हैं। यदि आप प्रतिदिन अपनी दुकान के सामने नींबू मिर्ची टांग दें तो नींबू मिर्च का यह उपाय आपकी दुकान को बुरी नज़र से जरूर बचाएगा और आपकी दुकान में बरकत होने लगेगी।

दुकान के वाहर नींबू मिर्च क्यों टांगते हैं 
अक्सर आपने देखा होगा इन्सान अपने संगठन, कार्यस्थल, अपनी संपत्ति के मुख्य दरवाजे पर नींबू मिर्च टाँगता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा क्यों किया जाता है ? इसका कारण यह है कि नींबू खट्टा तथा मिर्ची तीखी होती है। माना जाता है कि नींबू और मिर्च किसी भी व्यक्ति की एकाग्रता और ध्यान को बीच में ही तोड़ देती है, जिससे बुरी नज़र नहीं लगती है।

3. नींबू/निम्बू से वशीकरण 
नींबू से वशीकरण करना या हम कह सकते हैं कि नींबू/निम्बू से वशीकरण करने की सही प्रक्रिया थोड़ी जटिल है। बहुत से लोगों को ये नहीं मालूम होता है कि नींबू से वशीकरण कैसे करें। जब हम नींबू से वशीकरण टोटके को करते हैं तो इसमें हमें एक मन्त्र का जाप भी करना पड़ता है जिसे नींबू से वशीकरण मंत्र कहते हैं। नींबू से वशीकरण कैसे करें या नींबू से वशीकरण का सही तरीका क्या है ये आज हम आपको विस्तार से बताएँगे।

नींबू से वशीकरण के लिए हमें 2 पीले नींबू जो दाग-धब्बे रहित हों, एक काला कपड़ा, एक सादा कागज जो बिलकुल कोरा होना चाहिए तथा उस पर लाइन भी नहीं खिंची होनी चाहिए, की आवश्यकता होगी।

नींबू का यह टोटका आपको शनिवार के दिन करना है। नींबू के इस उपाय को करने के लिए सर्वप्रथम आप सूर्योदय से पहले उठ जाएँ। इसके बाद आप स्नान आदि करके स्वच्छ कपड़े पहनकर किसी मंदिर में जाएँ तथा वहाँ भगवान के आगे माथा टेकें। अब आप नींबू तथा बाकी सामग्रियों को लेकर किसी सुनसान स्थान पर चले जाएँ। यहाँ आपको काला कपड़ा बिछाकर एक नींबू पर अपना नाम तथा दूसरे नींबू पर उस व्यक्ति का नाम लिखना है जो व्यक्ति आपके लिए परेशानी पैदा कर रहा है। इसके बाद सफ़ेद कागज में हरी स्याही से उस व्यक्ति का नाम 251 बार लिखें। अब दोनों नींबू को कागज ।

शुक्रवार, 29 दिसंबर 2017

साल के आखिरी शनिवार को एक फिटकरी का टुकड़ा, इतना लाएगा पैसा की घर छोटा पड़ जाएगा

साल के आखिरी शनिवार को एक फिटकरी का टुकड़ा, इतना लाएगा पैसा की घर छोटा पड़ जाएगा


हर इंसान को जीवन एक ही इच्छा होती है कि वो खूब सारा पैसा कमायें लेकिन कुछ ही लोग इतने भाग्यशाली होते हैं जिनको इच्छा अनुसार पैसा मिले. हिन्दू धर्म में पुराने समय से ही टोने-टोटकों को काफी महत्व दिया गया है और इसके चलते कुछ लोग सही समय पर सही टोटका अपनाते हैं और जीवनभर खुश रहते हैं, हम आज आपको एक ऐसे ही फिटकरी के टोटके के बारे में बताने वाले हैं जिसे करने से आपके पास इतना पैसा आएगा कि आप सम्भाल नहीं पायेंगे.
अभी तक फिटकरी का इस्तेमाल अपने घरेलू दवाई के रूप में किया होगा लेकिन ज्योतिषियों के अनुसार फिटकरी के कुछ प्रयोग होते हैं जिनको करने से जीवन में लाभ मिलता है. तो चलिए आपको बताते हैं फिटकरी के अचूक उपाय..

फिटकरी के अचूक उपाय

  • शनिवार के दिन अपने बिस्तर के नीचे काले कपड़े में फिटकरी बांधकर रखें. ऐसा करने से बुरे सपनों से मुक्ति मिलेगी.
  • मंगलवार या शनिवार के दिन फिटकरी का एक टुकड़ा बच्चे के सिरहाने रखने से सोते समय बच्चों को बुरे सपने नहीं आएंगे. ऐसा करने से बच्चे नींद में डरेंगे नहीं और ना ही चीखेंगे.
  • काले कपड़े में फिटकरी बांधकर किसी दुकान या घर के मुख्य द्वार पर लटका दें. ऐसा करने से घर में पल रही नकारत्मक ऊर्जाएं दूर चली जाती हैं और जल्द घर में धनलाभ होने लगता है. फिटकरी को बांधें से पहले उसपर सिन्दूर लपेट लें और उसके ऊपर कलावा बाँध लें.

गुरुवार, 28 दिसंबर 2017

पूरे साल तरक्की और पैसा के लिए नए साल से पहले घर की तिजोरी में रख लें ये चीजें

पूरे साल तरक्की और पैसा के लिए नए साल से पहले घर की तिजोरी में रख लें ये चीजें


हर इंसान अमीर होने के सपने देखता है. कुछ लोग दिन रात मेहनत करके अमीर हो जाते हैं वहीँ कुछ लोग किस्मत के भरोसे अमीर होने की आशा करते हैं. बहुत से लोगों को आपने अमीर होने के लिए उपाय करते हुए भी देखा होगा. आज हम आपको कुछ ऐसे छोटे-छोटे उपाय बताने जा रहे हैं जो आपको साल खत्म होने से पहले-पहले करने हैं. ये ऊपर आपको नए साल से पहले अमीर बना देंगे.

घर में यंत्रों को स्थापित करने का तरीका 
आपको सबसे पहले किसी पंडित से मिलकर अपने काम को करने के लिए शुभ मुहूर्त निकलवाना है. सबसे पहले मुरली मनोहर एकादशी को श्री महालक्ष्मी जी की पूजा अर्चना करें. इसके बाद अपने घर के सभी हिस्सों में गंगाजल का छिड़काव करके अपने घर के मंदिर को अच्छी तरह से साफ कर लें. फिर एक चौकी पर लाल रंग का कपड़ा बिछाकर उस पर लक्ष्मी माता की तस्वीर रखकर धूप दीप और फूल चढ़ा दें. इसके बाद लक्ष्मी माता की तस्वीर के सामने 11 कौड़ी, 7 गोमती चक्र और महालक्ष्मी यंत्र को रखें और इस मंत्र का 108 बार जप करें- ॐ श्री महालक्ष्म्यै नमः
1. लाल कपड़े में लपेटकर श्री यंत्र को रखें तिजोरी में  
इस पूजा को करने के बाद भगवान का आशीर्वाद समझकर चौकी में बिछाएं हुए कपडें को भगवान का आशीर्वाद समझ लें. इसके बाद इस लाल कपडें में  श्री यंत्र को लपेटकर अपनी तिजोरी में रख दें. ऐसा करने से धीरे-धीरे करके आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो जायेगी. इसके साथ ही आपके घर में माँ लक्ष्मी भी वास करने लग जायेंगी.
2. गोमती चक्र 
ये बात तो सभी को अच्छी तरह से ही पता है कि गोमती चक्र को माँ लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है. गोमती चक्र एक तरफ से उठा हुआ होता है और दूसरी तरफ चक्र बना होता है. ऐसा माना जाता है कि गोमती चक्र की पूजा करने से घर से सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं और घर में खुशियां आती हैं.
3. महालक्ष्मी को प्रिय कौड़ियां 
हमारे पौराणिक शास्त्रों में कुछ ऐसी वस्तुओं के बारे में बताया गया है जिनकी पूजा करने से हम पर सदैव महालक्ष्मी की कृपा बनी रहती है. इन सभी वस्तुओं में सबसे ज्यादा खास है माँ लक्ष्मी को पसंद आने वाली कौड़ियां. पुराणों में बताया गया है कि माँ लक्ष्मी का जन्म समुद्र मंथन से हुआ था. समुद्र में बहुत से रतन पाए जाते हैं. इसलिए किसी भी पूजा में कौड़ी को रखने से माता लक्ष्मी खुश हो जाती हैं.

सोमवार, 18 दिसंबर 2017

सड़क पर चलते समय इन चीजों पर कभी न रखें अपना पैर, नहीं तो हो जाएंगे बर्बाद

सड़क पर चलते समय इन चीजों पर कभी न रखें अपना पैर, नहीं तो हो जाएंगे बर्बाद


हम जब भी घर से बाहर निकलते हैं तो इतनी जल्दी में होते हैं कि हमें ध्यान नहीं रहता है कि किस चीज पर हमारा पैर पड़ रहा है। कुछ ऐसी वस्तुओं पर भी हमारा पैर पड़ जाता है जो मंत्र से अभिशप्त की गई होती है। इन पर पैर रखने या लांघने से इनकी नकारात्मक ऊर्जा हमें प्रभावित करने लगती है और अच्छी भली किस्मत भी दुर्भाग्य में बदल जाती है। वहीं दूसरी पुराणों में कहा गया हैं कि हमारे जीवन में वास्तु का गहरा सम्बन्ध होता है लेकिन इनसे जुड़ी कुछ ऐसी चीजें होती हैं जो हमारे लिए शुभ और अशुभ होती हैं।


अक्सर हमें हमारे बड़े- बुज़ुर्ग कहा करते हैं कि सड़क पर चलते समय कुछ चीजों से दूर रहना चाहिए। उनका कहना ठीक रहता है, वर्ना ये चीजे हमारे लिए दुर्भाग्यपूर्ण साबित हो सकती हैं। विष्णु पुराण में बताया गया है कि रास्ते में चलते समय किन वस्तुओं से दूर रहना चाहिए, अन्यथा परेशानियों और दुखों का सामना करना पड़ सकता है, इन चीजों से हमारी पवित्रता भी नष्ट हो जाती है।

अपवित्र वस्तु या गंदे कपड़े
यदि रास्ते में किसी भी प्रकार की अपवित्र वस्तु (गंदगी) दिखाई देती है तो उससे दूर रहकर रास्ता पार करना चाहिए। पूजन में जाते समय पवित्रता बनी रहे, इस बात का पूरा ध्यान रखना चाहिए। इसके साथ ही अगर आप किसी खास काम से जा रहे हैं और आपको रास्ते में किसी प्रकार के गंदे कपड़े दिखे तो उससे दूर होकर ही जाएं। इन बातों का अक्सर हमारे जीवन से ताल्लुक हेाता हैं।

स्नान के कारण फैला हुआ पानी
यदि हम कहीं जा रहे हैं और रास्ते में किसी व्यक्ति के स्नान के बाद फैला हुआ पानी दिखाई दे रहा है तो उस पानी से दूर होकर रास्ता पार करना चाहिए। स्नान के बाद फैला हुआ पानी गंदा और अपवित्र होता है। इस पानी के संपर्क में आने से हमारी पवित्रता नष्ट हो जाती है।
ये भी पढ़िए :  
किस्मत साथ नहीं देती तो इस चीज़ को सदा अपने पास रखें, भाग्य जरूर साथ देगा !!


नींबू और मिर्च
तंत्र में नींबू और मिर्च को कई टोटके करने में प्रयोग किया जाता है। वैसे भी घर तथा दुकान/ प्रतिष्ठानों के मुख्य द्वार पर नींबू मिर्ची की लड़ी लटकाई जाती है जिसे बाद में रोड़ पर फेंक दिया जाता है। इस तरह प्रयोग किए गए नींबू-मिर्च में नकारात्मक ऊर्जा होती हैं जो किसी को भी पीड़ा तथा दुर्भाग्य का शिकार बना सकती हैं। अतः रोड़ पर जब भी आप उन्हें देखें तो दूर से ही निकल लें।

हवन की राख
यज्ञ तथा हवन में बची हुई राख को भी सड़क या पेड़-पौधों में डाल देते हैं। इसे भी नहीं लांघना चाहिए और न ही इस पर पैर रखना चाहिए। ऐसा करना आपके लिए दुर्भाग्य ला सकता है। अतः इससे बचकर चलें।

लौंग
तंत्र में लौंग को वशीकरण तथा भूत-प्रेतों को वश में करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यदि आप सड़क पर कोई लौंग पड़ी हुई देखें तो भूल से भी उस पर पैर न रखें। ऐसा करना आपके लिए अहितकर हो सकता है।


भस्म यानी राख
हवन की राख पवित्र होती है क्योंकि इसमें तंत्र मंत्र की शक्तियों का समावेश होता हैं,लेकिन इस पर गलती से भी पैर लगना अशुभ माना जाता है। जब यज्ञ-हवन जैसे पूजन कर्म पूर्ण हो जाते हैं तो उससे भस्म (राख) प्राप्त होती है। यदि रास्ते में ऐसी भस्म दिखाई दे तो इससे भी दूर होकर ही निकलना चाहिए।

पान या पान के पत्ते पर रखा हुआ लड्डू, बताशा आदि
ज्योतिष में भी पान को कई तंत्र प्रयोग तथा टोने-टोटकों में उपयोग किया जाता है। प्रयोग के बाद पान या पान के साथ लौंग, बताशा या लड्डू को भी सड़क पर रख दिया जाता है। जब भी कोई इस पर पैर रखता है तो टोने टोटकों में उपयोग किए गए पान की नकारात्मक ऊर्जा उस व्यक्ति पर असर करने लगती हैं।

हड्डी
वाहन चालकों की लापरवाही के चलते रोड पर दुर्घटनाएं होती रहती हैं और इन दुर्घटनाओं में कई बार जानवरों की मौत हो जाती है। ऐसे में मृत प्राणी के अस्थियां रोड पर बिखरी दिखाई देती हैं तो उनसे दूर होकर रास्ता पार करना चाहिए। मृत प्राणी की अस्थियों के संपर्क में आने के बाद स्नान करना बहुत आवश्यक हो जाता है। शास्त्रों के अनुसार मृत प्राणी के संपर्क में आने के बाद हम अपवित्र हो जाते हैं, इसी वजह से किसी शव यात्रा में शामिल होने के तुरंत बाद स्नान करना आवश्यक बताया गया है। अगर पैदल चल रहे है या फिर वाहन चला रहे है तो इन हड्डियों से दूरी ही बनाये रखें।कहीं आप गलती से इन जानवरों की हड्डियों को छू जाते है तो इसके बाद नहाना ना भूलें।
ये भी पढ़िए :  
शरीर के इस हिस्से पर आज ही बांधे काला धागा, दुनिया हो जायेगी आपके कदमों में

कांटें
आमतौर पर यदि रास्ते में कहीं कांटें दिखाई देते हैं तो हमें दूर होकर निकलना चाहिए, अन्यथा पैरों में कांटें चुभ सकते हैं। यदि संभव हो सके तो रास्ते से कांटें हटाने के प्रयास करना चाहिए, ताकि दूसरों को कांटों के कारण परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

शनिवार, 11 नवंबर 2017

रविवार को भूलकर भी न करे ये काम, नही तो हो सकता है नुकसान

रविवार को भूलकर भी न करे ये काम, नही तो हो सकता है नुकसान


रविवार का दिन सूर्य देव का माना जाता है। इस दिन सूर्यदेव की पूजा करने से मन सम्पूर्ण इच्छा की पूर्ति हो जाती है। संपूर्ण ब्राहमंड में सूर्य ही एकमात्र ऊर्जा का स्त्रोत है। सूर्य की पूजा से घर परिवार और समाज मे मान प्रतिष्ठा बनी रहती है। सूर्य देव की कृपा से कुंडली के सारे दोषो को दूर किया जा सकता है। लेकिन कई बाते ऐसी होती है जिन्हे इस दिन करने से सूर्य देव की कुद्रष्टि पड़ती है और बनने वाले काम भी बिगड़ जाते है। ऐसे कामो को इस दिन करने से बचना चाहिए। तो आइये जानते इन बातो के बारे मे........

1. रविवार के दिन सूर्य अस्त से पहले नमक का प्रयोग नही करें। नमक को सूर्य के अस्त के पहले सेवन करना अशुभ माना जाता है। 
2. इस दिन मांस मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए। क्यों की इस दिन सूर्य देव को इन चीज़ो से नफरत है और जो इसका सेवन करता है तो वह भी सूर्य देव की कूदृष्टि मे आ जाता है। 

3. रविवार के दिन सरसो के तेल की मालिश न करे। रविवार के दिन तांबे के बर्तन को न बेचे और न खरीदे।
4. रविवार के दिन न तो दूध जलाये और न ही बाल कटवाए। ऐसा करने से घर मे दुःख दरिद्रता का आगमन होता है।
5. नीला या काला रंग पहनने से बचे। और हो सके तो जूते का प्रयोग भी न करे। 6. इस दिन स्नान करना हो तो सूर्य के निकलने के बाद ही स्नान करे।

गुरुवार, 9 नवंबर 2017

गुरुवार (वृहस्पतिवार) को जरुर रखें ये चीज़ें, बरसती है कृपा

गुरुवार (वृहस्पतिवार) को जरुर रखें ये चीज़ें, बरसती है कृपा


ज्योतिषशास्त्र के अनुसार गुरु को धन, विद्या, संतान, विवाह एवं सुख का कारक माना जाता है। जो लोग इस विद्या के जानकार होते हैं, उनका मानना है कि अगर आपके जीवन में भी कोई परेशानी है तो वृहस्पतिवार को पूजा करने से सारी समस्याएँ धीरे-धीरे ख़त्म हो जाती हैं। भगवन विष्णु की कृपा उस व्यक्ति पर हमेशा बनी रहती है एवं शुभता और सम्पन्नता का वरदान मिलता है। कुछ ऐसी वस्तुएं हैं जो भगवन विष्णु को बहुत ही प्रिय है। लाल किताब के अनुसार वो सभी वस्तुएं जो लोग गुरुवार के दिन अपने जेब में रखते हैं, उनके जीवन में धन और सुख की कभी भी कमी नहीं होती है।

ये चीजें वृहस्पतिवार/गुरुवार  को जेब में रखने से बरसती है कृपा:

जेब में चावल रखें:
आप हर वृहस्पतिवार के दिन अपने जेब में चावल पर हल्दी या केसर लगाकर रखें, ऐसा करने से आपके जीवन में शुभता का संचार होता है।

पीले रंग की रुमाल रखें:
आपको हर वृहस्पतिवार के दिन पीले रंग के कपड़े पहनने चाहिए, यदि कपड़े पहनना संभव ना हो तो आप पीले रंग की रुमाल को अपने जेब में रख सकते हैं। ऐसा करने से आपके जीवन की नकारात्मकता दूर चली जाएगी एवं सकारात्मकता आपके पास आएगी।
केले की जड़ को रखें जेब में:
केले के पेड़ को बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि केले के पेड़ में भगवन विष्णु का निवास होता है। अगर आप केले के पेड़ को ग्रहों से जोड़कर देखें तो इसे वृहस्पति देवता का स्वरुप माना जाता है। अगर आपके जीवन में भी बहुत तरह की परेशानियाँ हैं तो आप अपने जेब में वृहस्पतिवार की सुबह पीले कपड़े में केले के पेड़ की जड़ को बाँधकर रखें। यह ठीक उसी तरह काम करता है, जिस तरह से पुखराज काम करता है। पीले कपड़े में लपेटी हुई केले की जड़ पुखराज के बराबर ही होती है।

मोर पंख रखें:
शास्त्रों, ग्रंथों, वास्तु एवं ज्योतिषशास्त्र में मोर के पंख को बहुत ही शुभ माना जाता है। यह हिन्दू धर्म के कई देवताओं का पवित्र आभूषण भी है। इसलिए यह माना जाता है कि मोर के पंख को जेब या पर्स में रखने से माँ लक्ष्मी की कृपा बरसती है और शुभता का संचार होता है। जिसके घर में हमेशा मोर का पंख होता है, उनके ऊपर किसी भी प्रकार के दुःख का साया नहीं पड़ता है। जो लोग मोर के पंख को अपने सर पर धारण करते हैं उन्हें माँ सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त होता है।