दही के लाभ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
दही के लाभ लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 12 नवंबर 2017

दही के साथ ये चीजें मिलाकर खाएं, मिलेगा दस गुणा ज्यादा फायदा

दही के साथ ये चीजें मिलाकर खाएं, मिलेगा दस गुणा ज्यादा फायदा


दही का सेवन हमारे सेहत के लिये बेहद फायदेमंद है, दही में प्रोटीन, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन और विटामिन बी जैसे पोषक तत्व होते हैं, ये दांतों के साथ-साथ हड्डियों को भी मजबूत बनाने में कारगर है। दही के साथ मिलाकर कुछ चीजें खाएंगे, तो उसका फायदा करीब दस गुणा बढ जाएगा, तो आइये आज हम आपको बताते हैं कि Curd के साथ किस चीज को मिलाकर इस्तेमाल करने से उसका ज्यादा फायदा मिलता है।

दही और भूना हुआ जीरा
अपच की समस्या एक आम बात है, उल्टा-सीधा खा लेने या फिर बाहर का खाना खा लेने से कई बार अपच की शिकायत हो जाती है, जिसकी वजह से उल्टी और दस्त लग जाते हैं, अगर आपको या फिर परिवार के किसी दूसरे सदस्य को ऐसी परेशानी होती है, तो एक कटोरी दही में दो चम्मच भूने हुए जीरे को पीसकर मिला दें, फिर इसे खा लें, इससे आपको तत्काल राहत मिलेगा और पेट भी ठंडा हो जाएगा।
अल्सर के लिये दही के साथ शहद लें
अगर आपको या फिर परिवार के किसी दूसरे सदस्य को अल्सर की समस्या है तो Curd के साथ शहद मिलाकर खाएं, आपको बता दें कि दही अपने आप में काफी हेल्दी माना जाता है, लेकिन जब आप इसमें शहद भी मिक्स कर देते हैं, तो ये दस गुणा स्वास्थ्यवर्द्धक बन जाता है, और एंटीबायोटिक की तरह काम करने लगता है।
वजन घटाने के लिये ये करें
आज हर दूसरा-तीसरा इंसान वजन की समस्या से परेशान है, वो तेजी से वजन घटाना चाहता है, अगर आप भी ऐसी चाहत रखते हैं, तो रोजाना एक महीने तक Curd में काली मिर्च मिलाकर खाएं, या फिर काली मिर्च को पहले भून लें, फिर उसे Curd में मिला दें, उसके बाद उसमें एक चुटकी काला नमक भी डाल दें, फिर उसे खाएं, इससे आपका वजन तेजी से कंट्रोल में आएगा, और एक्सट्रा फैट बर्न होने लगेगा।
वजन बढाने के लिये दही और ड्राई फ्रूट्स
अगर किसी के शरीर में कमजोरी रहती है, या फिर हड्डियों में दर्द की परेशानी रहती है, तो वो Curd में ड्राई फ्रूट्स मिलाकर खाएं, इससे आपका वजन भी बढेगा, रोजाना ब्रेकफास्ट में एक कटोरी दही में बादाम, किशमिश, काजू, अखरोट और अंजीर मिला कर खाएं, इससे वजन बढने के साथ-साथ आपकी याददाश्त भी अच्छी होगी, आप इसे अपने बच्चों को भी दे सकते हैं।
पाइल्स के लिये दही और अजवाइन
पाइल्स की समस्या लोगों की जिंदगी नर्क कर देती है, ऐसे में अगर किसी को पाइल्स हो, तो वो Curd के साथ अजवाइन मिला कर खाएं, उन्हें इस परेशानी से काफी राहत मिलेगी। एक्सपर्ट्स के अनुसार दही के साथ अजवाइन मिलाने से ये पाइल्स के लिये काफी फायदेमंद होता है, लेकिन कुछ दिनों तक रोजाना खाएं।

सौंदर्य बढाने में
दही सिर्फ स्वास्थ्य के लिये ही लाभदायक नहीं है, बल्कि इसका इस्तेमाल सौंदर्य बढाने में भी होता है, Curd शरीर पर लगाकर नहाने से त्वचा कोमल और खूबसूरत बन जाती है, इसके साथ ही अगर इसमें नींबू का रस मिलाकर चेहरे, गर्दन , कोहनी, एड़ी या हाथों पर लगाएंगे, तो वहां भी निखार आ जाएगा, दही की लस्सी में शहद मिलाकर पीने से चेहरे का ग्लो भी बढता है।

दही और खीरा
चेहरे की डलनेस को दूर भगाने के लिये Curd के साथ खीरे का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसके लिये आप आधे खीरे का पेस्ट तैयार करें, फिर उसमें एक चम्मच Curd डाल दें, इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर हल्के हाथों से मसाज करें, करीब 15 मिनट तक इस पेस्ट को लगा रहने दें, फिर साफ गुनगुने पानी से चेहरे को धो लें, आप खुद ही फर्क महसूस कीजिएगा।

दही और अलसी के बीज
चेहरे की झाइयों को दूर हटाने के लिये दही के साथ अलसी के बीज काफी कारगर साबित होंगे, इसके लिये अलसी के बीज को रात भर पानी में भिगोकर रख दें, फिर सुबह उसे पीस कर उसमें दो चम्मच Curd मिला लें, फिर उस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं, पेस्ट चेहरे पर 15-20 मिनट कर लगा रहने दें, सूख जाने पर साफ पानी से मुंह धो लें, हफ्ते में 2 से 3 बार ऐसा करने से आपके चेहरे की झाइयां दूर हो जाएगी।

नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।)

शुक्रवार, 23 दिसंबर 2016

नाश्ते में दही खाने के आश्चर्यजनक फायदे

नाश्ते में दही खाने के आश्चर्यजनक फायदे

नियमित् रूप से नाश्ते में दही का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक शक्ति का विकास होता है और संक्रामक रोग नही होते। दही से हमारे शरीर को भरपूर कैल्शियम, प्रोटीन, जिंक, राइबोफ़्लेविन तथा विटामिन B-12 मिलता है, इसके नियमित सेवन से हमारे शरीर की रोगों से लडने की शक्ति बढती है। आंवले के चूर्ण के साथ दही का सेवन करने से शरीर के सभी दोष दूर होते है।
दही
आइए जानते है दही से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में।
अगर आप दही में थोडा सा गुड या आंवला पाउडर मिला कर खाए तो दही अमृत जैसा हो जाता है.
अपच

दही में भुना हुआ पिसा जीरा, नमक और कालीमिर्च डालकर रोजाना खाने से अपच (भोजन न पचना) ठीक हो जाता है और भोजन जल्दी पच जाता है।
आधासीसी का दर्द

यदि सिर दर्द सूर्य के साथ बढ़ता और घटता है तो इस तरह के सिर दर्द को आधासीसी (आधे सिर का दर्द) कहते हैं। आधासीसी (आधे सिर का दर्द) का दर्द दही के साथ चावल खाने से ठीक हो जाता है। सुबह सूरज उगने के समय सिर दर्द शुरू होने से पहले रोजाना चावल में दही मिलाकर खाना चाहिए।
बच्चों का भोजन

दही, मां के दूध के बाद बच्चे का सबसे अच्छा भोजन होता है। बुल्गोरिया में जिन बच्चों को मां का दूध उपलब्ध नहीं हो पाता है। उन बच्चों को खाने के लिए दही ही दिया जाता है।
वजन करे कम

दही में मौजूद कैल्शियम शरीर पर फैट नहीं बढ़ने देता। शरीर पर बढ़ा हुआ फैट कई तरह की समस्याओं को साथ ले आता है जैसे उच्च रक्तचाप और मोटापा। एक शोध के मुताबिक हर रोज 5 चम्मच दही पेट कम करने में मदद करता है।
हाई न्यूट्रिशन

विटामिन ए, डी, और बी-12 से युक्त दही में 100 ग्राम फैट और 98 ग्राम केलोरी है। लगभग सभी लवण दही में मौजूद होते हैं। दही में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है जो हडि्डयों को मजबूत करता है।
पाचन के लिए बेहतर

किसी भी प्रकार के खाने को दही से हजम किया जा सकता है क्योंकि दही भोजन प्रणाली को दुरूस्त बनाए रखता है। हर रोज एक कटोरी दही आपको एसिडिटी से भी दूर रखेगा और जिन्हें यह परेशानी रहती है उन्हें अपने खाने में दही जरूर शामिल करना चाहिए। दही से पेट की बहुत सारी परेशानियों को दूर किया जा सकता है।
बालों का झड़ना

खट्टे दही को बालों की जड़ों में लगाकर थोड़ी देर मालिश करने के बाद उसे ठण्डे पानी से धो लें। इससे बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।
गंजेपन का रोग

दही को तांबे के बर्तन से ही इतनी देर रगडे़ कि वह हरा हो जाए। इसको सिर में लगाने से सिर की गंजेपन की जगह बाल उगना शुरू हो जाते हैं।
अफारा (पेट में गैस का बनना)

दही की छाछ (दही का खट्टा पानी) को पीने से अफारा (पेट की गैस) में लाभ होता है।
रतौंधी

दही के पानी में कालीमिर्च को पीसकर आंखों में काजल की तरह लगाने से रतौंधी के रोग में आराम आता है।
जीभ की प्रदाह और सूजन

दही में पानी मिलाकर रोजाना गरारे करने से जीभ की जलन खत्म हो जाती है।
दही के साथ पका हुआ केला सूर्योदय (सूरज उगने से पहले) से पहले खाने से जीभ में होने वाली फुन्सियां खत्म हो जाती है।
हडि्डयों और दांतों को मजबूत बनाए

कैल्शियम और फास्फोरस हडि्डयों को मजबूत करने के लिए बेहद जरूरी लवण है और दही में यह भरपूर मात्रा में होते हैं। गठिया की बीमारी से परेशान लोगों के लिए दही बेहतर माना जाता है।
सेहतमंद दिल

आज की भागदौड़ भरी जीवन शैली और जंक फूड खाने की आदत से आपके दिल पर काफी असर पड़ता है। हर रोज खाने में दही को शामिल करने से आपका दिल मजबूत रहेगा और कई बीमारियों से बचे रहेंगे। दही शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा कोे कम करता है और ब्लड प्रेशर की समस्या से भी दूर रखता है।

सोमवार, 13 जून 2016

जानिये दही के 25 चमत्कारिक उपाय !

जानिये दही के 25 चमत्कारिक उपाय !

1) दही बालों के लिए एक बेहतरीन कंडीशनर है , दही बालों में जड़ से लगायें और 15-20 मिनट लगे रहने दें फिर बाल धुल लें . यह उपाय बालों की रूसी ,रूखापन दूर कर बालों को चमकदार और मुलायम बनाता है.
 

2) बालो में अगर रूसी ज्यादा है तो दही में काली मिर्च पाउडर मिलाकर बालों की जड़ो में लगायें ,थोड़ी देर लगे रहने के बाद धो लें.
 

3) दही में काली मुल्तानी मिटटी मिलाकर बालों में लगायें ,यह शैम्पू का काम करता है साथ ही बालों को झड़ने से भी रोकता है.
 

4) दही में बेसन, चन्दन पाउडर और थोडा सा हल्दी मिलकर उबटन चेहरे और शरीर पर लगायें ,सूखने पर छुड़ा लें. आप की त्वचा पर बेहतरीन चमक,निखार और स्निग्धता आएगी.
 

5) अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो दही -शहद मिलाकर चेहरे पर लगायें, यह उपाय चेहरे के अतिरिक्त तैलीय तत्व को दूर करता है .



6) चेहरे पर होने वाले दानो और मुहांसों के उपचार के लिए खट्टी दही का लेप चेहरे पर लगायें सूखने पर धोएं, फायदा होगा .
 

7) आयुर्वेद के अनुसार गाय के दूध से बनने वाला दही बलवर्धक, शीतल, पौष्टिक, पाचक और कफनाशक होता है.
 

8) भैंस के दूध से बनने वाला दही रक्त, पित्त, बल-वीर्यवर्धक, स्निग्ध, कफकारक और भारी होता है.
 

9) मख्खन निकाला हुआ दही शीतल, हल्का, भूख बढानेवाला, वातकारक और दस्त रोकने वाला होता है.
 

10) दही में कैल्सियम सबसे ज्यादा होता है जोकि हड्डी ,दांत ,नाखून आदि का विकास और संरक्षण करता है.

11) दही में कैल्सियम के अतिरिक्त विटामिन A, B6, B12 ,प्रोटीन, राइबोफ्लेविन पोषक तत्त्व पाए जाते हैं.
 

12) दही शरीर में श्वेत-रक्त कणिकाओं (White Blood Corpuscles) की संख्या बढाता है जिससे रोग-प्रतिरोधक 
क्षमता का तेजी से विकास होता है.
 

13) एंटीबायोटिक दवाइयों के सेवन के दुष्प्रभाव से बचने के लिए दही सेवन की सलाह डाक्टर भी देते हैं.
 

14) दही पेट के लिए अमृत समान माना गया है , दही आंतों और पेट की गर्मी दूर करता है और पाचन तंत्र को सबल बनाता है.
 

15) ह्रदय रोग ,हाई ब्लड प्रेशर ,गुर्दे की बिमारियों में दही का प्रयोग अच्छा माना गया है.

16) बवासीर के उपचार के लिए छाछ में अजवायन मिला कर पिए ,लाभ होगा.
सर्दी, खांसी और अस्थमा के रोगियों को दही के सेवन से बचना चाहिए.
 

17) दही के ऊपर का पानी भी फायदेमंद माना जाता है, इससे दस्त, कब्ज, पीलिया, दमा के रोगियों को लाभ होता है.
 

18) मुह के छालों के उपचार के लिए दिन में 3-4 बार छालों पर दही लगायें.
 

19) दही के नुकसानरहित सेवन के लिए दही में काला नमक, सोंठ, पुदीना, जीरा पाउडर मिलाकर खाएं.
 

20) बहुत से लोगों को दूध आसानी से नहीं पचता है, वो लोग दही सेवन से दूध के सभी पोषक तत्वों को प्राप्त कर सकते हैं क्योंकि दही सुपाच्य होता है.

21) दही हमेशा ताज़ा ही खाना चाहिए. दही के सेवन से नींद भी बढ़िया आती है.
 

22) दही से बहुत से बेहतरीन भोज्य पदार्थ बनते है जैसे लस्सी, छाछ, रायता आदि. दही से बहुत तरह के रायता बनाये जा सकते है जैसे ककड़ी, प्याज-खीरा-टमाटर का रायता, बूंदी का रायता, अनानास का रायता आदि. इनका सेवन गर्मियों में लू और डीहाईड्रेशन से बचाता है.
 

23) जिन लोगों को पेट की परेशानियां जैसे- अपच, कब्ज, गैस बीमारियां घेरे रहती हैं, उनके लिए दही या उससे बनी लस्सी, मट्ठा, छाछ का उपयोग करने से आंतों की गरमी दूर हो जाती है। डाइजेशन अच्छी तरह से होने लगता है और भूख खुलकर लगती है।
 

24) हड्डियों के लिए –
दही में calcium की अच्छी मात्रा होती है , जो के हमारे शरीर के हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है | बच्चों को खास कर दही खिलाना चाहिए |
 

25) हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को रोजाना दही का सेवन करना चाहिए।   

रविवार, 17 अप्रैल 2016