टोटके लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
टोटके लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 29 मार्च 2018

हनुमान जयंती के ऐसे उपाय जो आपने कभी नहीं सुने होंगे

हनुमान जयंती के ऐसे उपाय जो आपने कभी नहीं सुने होंगे


विभिन्न मतों के अनुसार हनुमान जयंती वर्ष में दो बार मनाई जाती है। पहली चैत्र शुक्ल पूर्णिमा और दूसरी कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी के दिन। वाल्मीकि रामायण के अनुसार हनुमान जी का जन्म कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी को हुआ था। इस दिन हनुमान जी का पूजन करके उन्हें सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाया जाता है।

पुराणों के अनुसार कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी मंगलवार,स्वाति नक्षत्र एवं मेष लग्न में स्वयं भगवान शिवजी ने माता अंजना के गर्भ से रुद्रावतार लिया था। इस दिन सुंदरकांड,हनुमान चालीसा, हनुमत अष्टक व बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए। इस दिन हनुमान जी की आराधना करने से समस्त पापों से मुक्ति मिलती है और सुख-शांति की प्राप्ति होती है।

हनुमान जयंती के टोटके विशेष फल प्रदान करते हैं। जीवन से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने वाले यह टोटके अवश्य आजमाएं-

* हनुमान जयंती पर और बाद में साल में एक बार किसी मंगलवार को अपने खून का दान करने से आप हमेशा दुर्घटनाओं से बचें रहेंगे।

* 'ॐ क्रां क्रीं क्रों स: भौमाय नम:' मंत्र का एक माला जाप हनुमान जयंती व मंगलवार को करना शुभ होता है।

* 5 देसी घी के रोट का भोग हनुमान जयंती पर लगाने से दुश्मनों से मुक्ति मिलती है।

* व्यापार में वृद्धि के लिए हनुमान जयंती को सिंदूरी रंग का लंगोट हनुमानजी को पहनाइए।

* हनुमान जयंती पर मंदिर की छत पर लाल झंडा लगाने से आकस्मिक संकटों से मुक्ति मिलती है।

* शक्ति बढ़ाने के लिए हनुमान चालीसा, बजरंग बाण, सुंदरकांड, रामायण, राम रक्षा स्तोत्र का पाठ करें।

* मानसिक रोगी की सेवा हनुमान जयंती के दिन और बाद में महीने में किसी भी एक मंगलवार को करने से आपका मानसिक तनाव हमेशा के लिए दूर हो जाएगा।

शुक्रवार, 23 फ़रवरी 2018

शनिवार को लाल किताब के अनुसार रखें घर में ये वस्तुएं, आप हो जाएंगे मालामाल

शनिवार को लाल किताब के अनुसार रखें घर में ये वस्तुएं, आप हो जाएंगे मालामाल


जीवन में कोई भी परेशानी हो, हर समस्‍या का समाधान जरूर होता है । हमारे शास्‍त्रों, वेदों में ऐसे कई रास्‍ते सुझाए गए हैं जो मनुष्‍य को जीवन के अंधकार से उजाले की ओर लेकर आते हैं । निराशा और हताशा के भावों से निकालकर जीवन में आगे बढ़ने की ओर प्रेरित करते हैं । समय के साथ आगे बढ़ना ही समझदारी है, ऐसी शिक्षाएं देते हैं । लाल किताब भी ऐसे ही उपायों का संग्रह है, आज जानिए घर में किन वस्‍तुओं को रखने की सलाह इस किताब में दी जा रही है ।

ठोस चांदी का हाथी
अपने घर में चांदी का हाथी रखें, ये एकदम ठोस होना चाहिए । चांदी का हाथी रखना बहुत ही शुभ माना गया है, इसे कई लोग जेब में भी रखते हैं । यदि आप इसे बड़े आकार में रखने में समर्थ नहीं हैं तो इसे छोटे से छोटे आकार में बनाकर गले में धारण कर लें । चांदी शीतलता का प्रतीक है, घर में मतभेद हो रहे हों, धन को लेकर कोई समस्‍या हो रही हो तो आप इसे जरूर लाएं और घर में रखें । आपको इसका लाभ अवश्‍य होगा ।

पीतल और तांबे के बर्तन
पुराणों में लिखा है पीतल, तांबा और कांसा जैसी धातुओं के बर्तनों का इस्‍तेमाल भोजन की अलग-अलग वस्‍तुओं को पकाने में किया जाना चाहिए । मानयतानुसार पीतल के बर्तन भोजन करने के लिए उपयुक्‍त माने जाते हैं और तांबे के बर्तन में पानी स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत लाभकारी होता है । पीतल और तांबे की धातु घर में पॉजिटिव एनर्जी लाते हैं । इनका इस्‍तेमाल करने से घर का माहौल शांतिपूर्ण होता है ।

असली शहद
कांच या मिट्टी के बर्तन को शहद से पूरा भरकर घर की साफ सुथरी जगह पर रखें । शहद जैसी मिठास आपके जीवन और आपके परिवार में भी घुल जाएगी । शहद का प्रयोग पूजा में किया जाता है, कयोंकि ये बहुत ही शुद्ध माना गया है । इसलिए जब आप शहद को कटोरी में रखें तो ये ध्‍यान रखें कि शहद एकदम शुद्ध हो और इसमें कोई भी मिलावट ना हो । ध्‍यान रहे घर के जिस भी स्‍थान में आप इस कटोरी को रखें वो पैरों में ना आए ।

सिल, बट्टा या पत्‍थर की चक्‍की
पुराने समय में घर के बारामदे में आटा पीसने की चक्‍की रखी होती थी, ये कोई मशीन नहीं बल्कि पत्‍थर के दो पाटे होते थे जिन्‍हें एक के ऊप्‍र एक रखा जाता था । अनाज इसके अंदर डाला जाता था और चक्‍के को घुमाने पर ये पिसता था । पत्‍थर के ये दो पाटे नजर दोष से भी घर को दूर रखते थे । अगर आपके घर में ऐसी कोई चीज नहीं है तो अभी ले आएं और घर के उस हिस्‍से में रखें जहां से इस पर सभी की नजर पड़ती जाए ।

चांदी की डिब्बी 
एक चांदी की डिब्बी खरीदें और इस डिब्‍बी में पानी भरकर उसे अपने घर की तिजोरी में रखें । हफ्ते भर बाद चेक करें पानी अगर खत्‍म हो गया हो तो उसे दोबारा भरें और डिब्‍बी को वैसे ही रख दें । हर बार ऐसा ही करें और डिब्‍बी को तिजोरी में ही रहने दें । डिब्‍बी रखने के लिए शनिवार का दिन सबसे बेस्‍ट है । इस उपाय को करने से आपके घर में कभी कंगाली नहीं आती ।

काला सुरमा
शनिवार के दिन काला खड़ा सुरमा खरीदें ये किसी भी पंसारी की दुकान पर आसानी से मिल जाएगा । काले सूरमे को घर के रोशनदान के ऊपर रख दें । आप इसे कागज में लपेटकर जेब में भी रख सकते हैं । आपकी उन्‍नति से जलने वाले, आप पर बुरी नजर रखने वालों से ये आपको बचाता है ।

सोना घर में रखें – सोने का एक छोटा सा टुकड़ा पीले कपड़े में बांधकर अपने घर की तिजोरी में रखें । इससे धन का लाभ होता है और आर्थिक विकास के द्वार खुलते हैं ।

हनुमान जी का ऐसा चित्र लगाएं
बैठे हुए हनुमानजी की फोटो अपने घर की साउथ वॉल पर लगाएं । इस दीवार पर भगवान की फोटो के अलावा कोई और फोटो नहीं होनी चाहिए । नियमित रूप से हनुमान जी की पूजा करें और उनसे प्रार्थना करें मंगल कामना करें ।

पीला रंग – घर की दरों दीवार, परदे आदि को पीले रंग में रंगे, हमारा मतलब है ये सभी वस्‍तुएं पीले रंग की कर दें । कोशिश करें पीलें, गुलाबी और सफेद रंग के वस्‍त्रों को ज्‍यादातर पहनने की ।

बुधवार, 14 फ़रवरी 2018

महाशिवरात्रि के दिन इन उपायों को करने से जीवन में रहेगी सुख-संपत्ति

महाशिवरात्रि के दिन इन उपायों को करने से जीवन में रहेगी सुख-संपत्ति


हिन्दुओं का त्यौहार महाशिवरात्रि का पर्व फाल्गुन कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता हैं। इस तिथि पर शिवजी और मां पार्वती का विवाह हुआ था। चतुर्दशी तिथि का स्वामी भगवान शिव को माना जाता हैं। हांलाकि शिवरात्रि हर महीने आती हैं, लेकिन फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को महाशिवरात्रि के रूप में जाना जाता हैं। शास्त्रों के अनुसार महाशिवरात्रि शुभ फलदायी होती हैं। इसलिए इस दिन भगवान शिव की आराधना कि जाती हैं। महाशिवरात्रि के दिन कई टोटके किये जाते हैं जो जीवन में सुख-संपत्ति लेकर आते हैं। तो आइये जानते हैं महाशिवरात्रि पर किये जाने वाले टोटकों के बारे में।

* यदि किसी जातक के विवाह में अड़चन आ रही है तो उसे महाशिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर केसर मिला हुआ मीठा दूध चढ़ाना चाहिए। इससे विवाह में आने वाली बाधाएं दूर होती है।

* महाशिवरात्रि पर छोटा सा पारद (पारा) शिवलिंग लेकर आएं और घर के मंदिर में इसे स्थापित करें। शिवरात्रि से शुरू करके रोज़ इसकी पूजा करें। इस उपाय से घर की दरिद्रता दूर होती है और लक्ष्मी कृपा बनी रहती है।

* अपने शनि दोष और रोग करने के लिए शिवलिंग पर जल चढ़ाते समय उसमें काले तिल, डेली पानी में दूध, काले तिल मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाने से बिमारियों से छुटकारा मिलता हैं।

* अगर आप बाबा भोले से अपनी मनवांछित इच्छा पूरी करवाना चाहते है तो इस दिन बिल्व पत्र के वृक्ष की पूजा करे। उन्हें जल चढ़ाये और उन्हें धुप और अगरबत्ती भी अवश्य करे। इससे भोले बाबा आपकी हर इच्छा पूर्ण करेगे क्योंकि भगवान शिव को बिल्व बहुत ही प्रिय है।

* शिवरात्रि के दिन शिवलिंग पर एक आँवला अथवा आँवले के मुरब्बे का पीस चढ़ाकर उसके ऊपर शहद चढ़ाएं, इससे भगवान शिव अत्यंत प्रसन्न होते है।

* शिवरात्रि पर रात में किसी शिव मंदिर में दीपक जलाएं। शिवपुराण के अनुसार कुबेर देव ने पूर्व जन्म में रात के समय शिवलिंग के पास रोशनी की थी। इसी वजह से अगले जन्म में वे देवताओं के कोषाध्यक्ष बने।

* महाशिवरात्रि पर किसी जरूरतमंद व्यक्ति को अनाज और धन का दान करें। शास्त्रों में बताया गया है कि गरीबों को दान करने से पुराने सभी पापो का असर खत्म हो सकता है और अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।

* जो लोग शिवरात्रि पर किसी बिल्व वृक्ष के नीचे खड़े होकर खीर और घी का दान करते हैं, उन्हें महालक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। ऐसे लोग जीवनभर सुख-सुविधाएं प्राप्त करते हैं और कार्यों में सफल होते हैं।

* मनचाही गाडी चाहते हैं तो शिवलिंग पर रोज़ चमेली के फूल चढ़ाएं और शिव मंत्र (ॐ नमः शिवाय) का जप 108 बार रोज़ करें।

बुधवार, 15 नवंबर 2017

यदि शादी में हो रहा है विलम्ब तो अपनाइए ये कारगर टोटके

यदि शादी में हो रहा है विलम्ब तो अपनाइए ये कारगर टोटके


आजतक आपने टोने-टोटकों के लिए सिर्फ नींबू-मिर्ची या काली मिर्च का ही इस्तेमाल सुना होगा. लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं खाने और चाय में इस्तेमाल होने वाली इलायची के बारे में. इलायची के बीज को रसोई में और मिठाई के लिए उपयोग किया जाता है. लेकिन क्या आप ये जानते है की इलाइची काला जादू या टोटका करने में बहुत ही प्रभावी होती है. इलाइची का उपयोग व्यापक रूप से काले जादू में होता है. हम आपको बताते हैं इलायची किस तरह टोटकों में काम में ली जाती है.

# इलायची से एक नहीं बल्कि अनेक टोटके किए जाते है. अपने दोस्त में वासना लाने, जुनून और प्यार के लिए, प्रेम संबंधों और यौन संबंधों के लिए, जादू मंत्र में प्रयुक्त इलाइची जादुई उपयोग की एक वस्तु है. इलायची का प्रयोग किसी भी अन्य आवश्यकता जैसे प्यार के वांछित प्रभाव या व्यक्ति को सम्मोहित करने के लिए भी किया जाता है.
# यदि आपका शुक्र कमजोर है या खराब असर दे रहा है, तो एक लौटा जल लेकर 2 बड़ी इलायची डालकर पानी के आधा होने तक उबालें. फिर इस पानी को अपने नहाने वाले पानी में मिला कर स्नान करें. स्नान करते वक्त पवित्रता का ध्यान रखें। वाहन से जुडे मामलों में भी यह उपाय लाभकारी है.
# लगभग हर व्यक्ति इलायची को चाय या दूध में पीना पसंद करता है. अगर आप आसानी से चाय या दूध में इलायची का मिश्रण करने में सक्षम हो सकते है तो आप उस व्यक्ति पर इलाइची का टोटका कर सकते है. इलाइची वशीकरण के लिए सबसे जरुरी ये है कि वो व्यक्ति विशेष उस चाय या दूध को अवश्य पिए.
# यदि विवाह में विलंब हो रहा है तो यह प्रयोग शुक्ल पक्ष के प्रथम गुरुवार को किया जा सकता है. इस प्रयोग में मंदिर में गुरुवार की शाम को दो हरी इलाइची के साथ पांच प्रकार की मिठाई और शुद्ध घी के दीपक के साथ जल अर्पित करना चाहिए. यदि स्त्री हैं तो गुरुवार को करें और पुरुष हैं तो शुक्रवार को करें.

# शुक्ल पक्ष के पहले बृहस्पतिवार को सूर्यास्त से ठीक आधा घंटा पहले बड़ के पत्ते पर पांच अलग-अलग प्रकार की मिठाइयां तथा दो छोटी इलायची पीपल के वृक्ष के नीचे श्रद्धा भाव से रखें और अपनी शिक्षा के प्रति कामना करें. घर आते समय पीछे मुड़कर न देखें. इस प्रकार बिना क्रम टूटे तीन बृहस्पतिवार करें.

मंगलवार, 14 नवंबर 2017

स्त्रियों को भूलकर भी नही तोड़ना चाहिये नारियल जाने नारियल के असरदार टोटके

स्त्रियों को भूलकर भी नही तोड़ना चाहिये नारियल जाने नारियल के असरदार टोटके


हमारे पुराने वेदों में बताये गए नियमो में से कुछ नियम स्त्रियों को भूलकर भी नही तोड़ना चाहिये नारियल जाने नारियल के असरदार टोटके  के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। स्त्रियों को पूजा से संबधित कार्यो में कभी भी नारियल नहीं फोड़ना चाहिए। देखा होगा की अधिकत्तर शुभ कार्यो एवं धार्मिक संबंधित कार्यो में नारियल का प्रयोग किया जाता है। बिना नारियल के पूजा को अधूरा माना जाता है। नारियल से शारीरिक दुर्बलता भी दूर होती है।

नारियल को श्रीफल के नाम से भी जाना जाता है भगवान विष्णु जब पृथ्वी में प्रकट हुए तब स्वर्ग से वे अपने साथ तीन चीजे भी लाये। जिनमे पहली चीज़ थी माता लक्ष्मी, दूसरी चीज वे अपने साथ कामधेनु गाय लाये थे तथा तीसरी व आखरी चीज़ थी नारियल का वृक्ष। क्योकि यह भगवान विष्णु एवं माता लक्ष्मी का फल है यही कारण है की इसे श्रीफल के नाम से जाना जाता है. इसमें त्रिदेवो ब्र्ह्मा, विष्णु तथा महेश का वास होता है।
महादेव शिव को श्रीफल अर्थात नारियल अत्यन्त प्रिय है तथा श्रीफल में स्थित तीन नेत्र भगवान शिव के त्रिनेत्रों को प्रदर्शित करते है। देवी देवताओ को श्री फल चढ़ाने से धन संबंधित समस्याओं का समाधान होता है।
हमारे हिन्दू सनातन धर्म के हर पूजा में श्रीफल अर्थात नारियल का महत्वपूर्ण योगदान है, चाहे वह धर्म से संबंधित वैदिक कार्य हो या देविक कार्य कोई भी कार्य नारियल के बलिदान के बिना अधूरी मानी जाती है।
परन्तु यह भी एक तथ्य है की स्त्रियों के द्वारा नारियल को नहीं फोड़ा जा सकता क्योकि श्रीफल अर्थात नारियल एक बीज फल है जो उत्पादन या प्रजनन का कारक है. श्रीफल प्रजनन क्षमता से जोड़ा गया है. स्त्रियाँ बीज रूप में ही शिशु को जन्म देती है यही कारण है की स्त्रियों को बीज रूपी नारियल को नहीं फोड़ना चाहिए।

ऐसा करना शास्त्रों में अशुभ माना गया है । देवी देवताओ की पूजा साधना आदि के बाद केवल पुरुषों द्वारा ही नारियल को फोड़ा जा सकता है।

शनि की शांति हेतु भी नारियल के जल से महादेव शिव का रुद्राभिषेक करने का शास्त्रीय प्रावधान है। हमारे सनातन धर्म के अनुसार श्रीफल शुभ, समृद्धि, शांति तथा उन्नति का सूचक माना जाता है। किसी व्यक्ति को सम्मान देने के लिए भी शाल में श्रीफल को लपेट कर दिया जाता है।

हमारे हिन्दू समाज में यह परम्परा युगों से अब तक लगातार चली आ रही है की किसी भी शुभ कार्य अथवा रीती रिवाजो में श्री फल वितरण किया जाता है। जब विवाह सुनिश्चित हो जाए अथवा तिलक लगाने का कार्य हो तो भी श्रीफल भेट किया जाता है।

कन्या के विदाई के समय उसके पिता द्वार अपनी पुत्री को धन के साथ श्रीफल दिया जाता है. यहाँ तक की अंतिम संस्कार के कार्यो में भी चिता के साथ नारियल जलाए जाते है. धार्मिक अनुष्ठान में कर्मकांडो में सूखे नारियल के साथ होम किया जाता है।

श्री फल कैलोरी से भरपूर होता है, तथा इसकी तासीर ठंडी होती है. श्रीफल में अनेक पोषक तत्व विध्यमान होते है. श्रीफल के वृक्ष के तनो से जो रस निकलता ही उसे नीरा कहा जाता है वह काफी लिज्जदार पेय माना जाता है।

शुक्रवार को महालक्ष्मी की पूजा में मंदिर में नारियल रखे तथा रात्रि के समय इस नारिया को अपने तिजोरी में डाल ले. अगली शुभ इस नारियल को निकालकर श्री गणेश के मंदिर में अर्पित कर दे. आप की धन से संबंधित सभी समस्याओं का समाधान होगा तथा माता लक्ष्मी की कृपा आप पर होगी।

एकाक्षी नारियल के संबंध में कहा जाता है की यह बहुत ही दुर्लभ नारियल होता है अधिकत्तर जटाओं वाले नारियल में दो या तीन छिद्र दिखाई देते है परन्तु एकाक्षी नारियल में केवल एक ही छिद्र होता है।

इस नारियल के बारे में बतलाया गया है की यह बहुत ही चमत्कारी होता है. इसको घर में रखने से महालक्ष्मी की प्राप्ति होती है तथा मनुष्य को कभी भी धन से संबंधित समस्याओं का समाना नहीं करना पड़ता।

नारियल बाहर से सख्त होता है परन्तु अंदर से यह नरम होता है. अतः हमें भी नारियल से सिख लेनी चाहिए तथा इसी की तरह बाहर से कठोर होते हुए भी अंदर से नरम रहना चाहिए।

गुरुवार, 9 नवंबर 2017

हमेशा घर में रखे यह पांच चीजें, बनी रहेगी सुख समृद्धि और खुशहाली

हमेशा घर में रखे यह पांच चीजें, बनी रहेगी सुख समृद्धि और खुशहाली


अपने घर में सुख समृद्धि और खुशहाली बढ़ाने के लिए आप लोग बहुत से उपाय करते होंगे। जैसे की घर में पूजा पाठ से लेकर टोटके भी आज़माते होंगे, ताकि आपके घर में किसी भी प्रकार की कोई बाधा या फिर किसी भी प्रकार की समस्या न हो। आज हम आपको कुछ ऐसी चीज़ो के बारे में बताने जा रहे है। जो आपके घर में खुशहाली को बढ़ाने का काम करेंगी। वास्तु शास्त्र के अनुसार इन 5 सामान्य चीजों को अपने घरों में रख आप अपने जीवन को खुशहाल बना सकते है।

घर में खुशहाली और सुख-समृद्धि के लिए

वीणा
यह तो आप भी जानते है कि वीणा एक वाद्य यंत्र है। जिसे माँ सरस्वती का यन्त्र माना जाता है। सरस्वती जी बुद्धि और शिक्षा की देवी है। अगर वीणा को आप लोग अपने घर पर रखते है, तो माँ सरस्वती की कृपा से आपके परिवार में खुशहाली बढ़ेगी और आपके बच्चो की बुद्धि का विकास होगा। सरस्वती जी के इस यन्त्र को घर में रखने से कठिन समय में धैर्य और संयम बनाए रखने के लिए प्रेरणा मिलती है।
घी
घी का सेवन हमारे शरीर को मजबूती प्रदान करता है। शरीर को स्वस्थ रखने के अलावा घी को घर में रखना बहुत शुभ माना जाता है। यह घर के वास्तु दोष को कम करने में मददगार भी साबित होता है। घर में देवी देवताओ की पूजा के लिए घी के दीपक को जलने से हमारे आसपास का वातावरण शांत रखता है। पूजा-पाठ में घी का विशेष महत्व होता है, इसलिए घर में हमेशा घी को रखना चाहिए। घी से भरे हुए दीपक को जलाने पर उसमें से उत्पन्न प्रकाश से पुरे घर में पॉजिटिव एनर्जी भी बढ़ती हैं।
चंदन
चन्दन को पवित्र माना जाता है। चन्दन की मनमोहक महक से घर के वातावरण में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा का खत्म होता है। चन्दन के उपयोग से घर में कलह नहीं होती है और वातावरण शांत रहता है। चन्दन का उपयोग भगवान की पूजा में भी करना चाहिए। इसके साथ ही चन्दन का तिलक लगाने से हमारा मन और दिमाग दोनों शांत बने रहते है।
शहद
शहद को घर पर रखने से निहित वास्तु दोष में शांति मिलती है। और वास्तु दोष का प्रभाव कम होता है। शहद का उपयोग पूजा के विधि विधान में भी किया जाता है। शहद को देवी देवताओ को भी अर्पित करने से उनकी कृपा बढ़ती है। इसके साथ ही सफलता भी प्राप्त होती है। आप अपने घर में नित नियम से पूजा करते है, तो उसमें शहद को अवश्य शामिल करें और भगवान को इसका भोग भी लगाया करें।

पानी
घरो में हमेशा साफ और स्वच्छ जल भरना चाहिए। घर के किसी भी हिस्से में गंदे पानी को जाम नहीं होने दें, क्योंकि घर में गन्दा पानी इक्कठा होने से घर में नेगेटिव एनर्जी को बढ़ावा मिलता है। जिस कारण घर में अशांति का माहौल पैदा हो जाता है। इसके अलावा घर पर जब भी कोई मेहमान आये, तो आपको उन्हें सबसे पहले ठंडा जल जरूर देना चाहिए। इससे आपकी कुंडली में मौजूद दोष दूर हो जाते है।

रविवार, 5 नवंबर 2017

हर समस्या के समाधान के लिए जरुर अपनाएं ये देशी टोटके!

हर समस्या के समाधान के लिए जरुर अपनाएं ये देशी टोटके!


इंसान के जीवन में समय-समय पर अलग-अलग समस्याएं देखने को मिलती हैं। कुछ समस्याओं का हल आसानी से मिल जाता है लेकिन कुछ समस्याओं का हल चाहकर भी नहीं निकल पाता है। इसके लिए व्यक्ति तंत्र-मंत्र का सहारा लेता है। लेकिन इसका इस्तेमाल करते वक्त अगर कुछ सावधानियां बरती जाएं, तो सभी समस्याओं का हल आसानी से निकल आता है। ऐसे ही कुछ टोटके हैं, जिनके बारे में आज मैं आपको बताने जा रहा हूं। इनका इस्तेमाल करके व्यक्ति धनी बन सकता है तथा किसी को भी अपने वश में कर सकता है।

रुके हुए काम को पूरा करने के लिए:
अगर आपका भी कोई जरूरी काम रुका हुआ है तो बुधवार के दिन एक कटोरी बासमती चावल लेकर दान में देने से आपकी समस्या दूर हो जाती है। घर की आर्थिक तंगी को दूर करने के लिए एक लाल रंग का कपड़ा लेकर लाल चन्दन, लाल गुलाब, रोली और 58 पैसे रखकर इसे बांधकर इसकी पोटली बना लें। अब इस पोटली को घर की तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से आपके जीवन से आर्थिक परेशानियां हमेशा के लिए दूर हो जाती हैं। ऐसा हर नवरात्री के समय में करने से आपका धन और बढ़ता ही जाता है।
व्यवासय में हो रहा है नुकसान:
अगर आपको व्यवसाय में नुकसान हो रहा है तो रविवार के दिन दोपहर के समय पांच कागज के पीले फूल लेकर एक मुट्ठी काली मिर्च और एक मुट्ठी पिली सरसों के साथ रख दें। अगले दिन दुकान या ऑफिस खोलने के बाद इन सभी चीजों को किसी सुनसान जगह पर ले जाकर जमीन के अन्दर गाड़ दें।
पति-पत्नी के झगड़े को दूर करने के लिए:
रात को सोने से पहले पत्नी की पलंग पर देशी कपूर रखें, पत्नियां अपने पति के पलंग पर कामिया सिंदूर रखें, अगले दिन सुबह उठकर पति कपूर को जला दे और पत्नियां सिन्दूर को पूरे घर में छिड़क दें। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में झगड़ा प्यार में बदल जायेगा।
ज्यादा खराब रिश्तों को सुधारने के लिए:
बरगद के हरे पत्ते को लेकर लाल चन्दन को गंगाजल के साथ घिसकर पत्ते पर सम्बंधित व्यक्ति का नाम लिखें। ऐसा करने के बाद पत्ते पर लाल गुलाब की कुछ पंखुडियां रखकर सबको पीस लें। पीसे हुए चूर्ण से जिस व्यक्ति का नाम लिखा हुआ है उसके नाम के अक्षर जितनी गोलियां बना लें। हर रोज एक गोली सम्बंधित व्यक्ति के मुख्य दरवाजे पर फेंक दें। जल्दी ही दोनों की दूरियां कम होंगी।

अगर करे कोई परेशान:
सफेद रंग का आधा मीटर कपड़ा लेकर काजल से तर्जनी उंगली की सहायता से उस व्यक्ति का नाम लिखें, जो परेशान करता है। इसके बाद उस व्यक्ति के नाम के अक्षर जितनी संख्या के बराबर आप उस कपड़े पर थूकें। जल्द आराम मिलेगा।

कर्ज से मुक्ति के लिए:
शुक्ल पक्ष में पड़ने वाले मंगलवार के दिन आटे में गुड़ मिलाकर पुए बनाएं। इसे हनुमान जी के मंदिर में चढ़ाने के बाद गरीबों में बांट दें। आपके सारे कर्जे दूर हो जायेंगे।

घर में होने वाले झगड़े को रोकने के लिए:
घर में केवल मंगलवार के दिन गेंहू पिसवायें। गेंहू को पिसवाने से पहले उसमें थोड़ा काला चना मिला दें। इस आटे से बनी रोटी जैसे-जैसे घर के लोग खायेंगे, घर के झगड़ों में कमी आने लगेगी।

गुरुवार, 26 अक्तूबर 2017

काली मिर्च के ये टोटके बना सकते हैं आपके हर काम को आसान

काली मिर्च के ये टोटके बना सकते हैं आपके हर काम को आसान


काली मिर्च के उपाय आपके जीवन और भाग्य को बदलने में सहायता कर सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार काली मिर्च को शनि ग्रह का कारक वस्तु कहा गया है। ज्योतिष विद्या के अनुसार काली मिर्च से कई प्रकार के टोटके किए जाते हैं। छोटी और सामान्य दिखने वाली काली मिर्च भोजन में प्रयोग की जाए तो हमारे शरीर को स्वस्थय रखती है इसके साथ ही इसके ऐसे उपाय हैं जिससे घर में उपस्थित किसी भी तरह की नकारात्मक शक्तियां दूर हो जाती हैं और साथ ही सकारात्मक ऊर्जा का घर में निवास होने लगता है। काली मिर्च के ये उपाय आपके जीवन और भाग्य को बदलने में सहायता कर सकते हैं। 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार काली मिर्च को शनि ग्रह का कारक वस्तु कहा गया है। ऐसी मान्यता है कि यदि किसी पर शनि देव की साढे़ साती का प्रभाव हो तो उसे काले कपड़े में थोड़ी काली मिर्च और कुछ पैसे दान करने चाहिए। इस उपाय को अपनाने से शनि देव का प्रकोप जल्द ही शांत हो जाता है। इसी तरह काली मिर्च के कई ओर उपाय हैं।

– घर से किसी जरुरी काम के लिए निकलते समय मुख्य दरवाजे पर काली मिर्च रखें और फिर उस काली मिर्च पर पैर रखकर घर से बाहर कदम रखें। इसके साथ ही इसके बाद घर में दौबारा ना लौटें इससे टोटके का प्रभाव खत्म हो जाता है।

– यदि आप मालामाल होना चाहते हैं तो काली मिर्च के 5 दाने लें और उन्हें अपने सिर पर से 7 बार वार लें। इसके बाद किसी चौराहे या किसी सुनसान स्थान पर खड़े होकर चारों दिशाओं में 4 दाने फेंक दें। इसके बाद 5वें दाने को ऊपर आसमान की ओर फेंक दें। इसके बाद चौराहे से पुन: लौटते वक्त पीछे पलटकर न देंखें। माना जाता है कि इस उपाय से अचानक धन प्राप्ति के योग बनते हैं।

– काली मिर्च के 7-8 दाने लेकर उसे घर के किसी कोने में दिए में रखकर जला दें। इसके अलावा आप यह ‍भी कर सकते हैं कि 5 ग्राम हींग और 5 ग्राम कपूर के साथ 5 ग्राम काली मिर्च को मिलाकर मिश्रण बना लें। फिर इसकी राई के बराबर गोलियां बना लें।
जितनी भी गोलियां बनी हो उसको दो भागों में बराबर बांट लें और फिर इसे सुबह और शाम को चलाएं। यह प्रयोग तीन दिन तक करेंगे तो घर की नकारात्मक ऊर्जा समाप्त हो जाएगी।

– 5 ग्राम हींग, 5 ग्राम कपूर तथा 5 ग्राम काली मिर्च मिलाकर पाउडर बना लें और फिर उस चूर्ण की राई के दाने बराबर गोलियां बना लें। अब इन्हें दो बराबर हिस्सों में बांट दें। एक हिस्से को सुबह और दूसरे हिस्से को शाम के समय घर में जलाएं। इस उपास को लगातार तीन दिनों तक करने से किसी की लगी बुरी नजर उतर जाती है।

शुक्रवार, 20 अक्तूबर 2017

शनिवार के दिन भूल से भी घर में ना लाएं ये चीज़ें

शनिवार के दिन भूल से भी घर में ना लाएं ये चीज़ें


वस्तुएं या संसाधन मानव का जीवन सहज और सरल बनाते हैं। यूं तो किसी भी वस्तु के उपयोग या क्रय करने का समय उसकी आवश्यकता पर ही निर्भर करता है, परंतु ज्योतिष शास्त्र में भी इसके कुछ नियम बताए गए हैं। जानिए ऐसी कौनसी वस्तुएं हैं जो शनिवार को घर नहीं लानी चाहिए या इस दिन इन्हें नहीं खरीदना चाहिए।

लोहे का सामान : भारतीय समाज में यह परंपरा लंबे समय से चली आ रही है कि शनिवार को लोहे का बना सामान नहीं खरीदना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि शनिवार को लोहे का सामान क्रय करने से शनि देव कुपित होते हैं। इस दिन लोहे से बनी चीजों के दान का विशेष महत्व है। लोहे का सामान दान करने से शनि देव की कोप दृष्टि निर्मल होती है और घाटे में चल रहा व्यापार मुनाफा देने लगता है। इसके अतिरिक्त शनि देव यंत्रों से होने वाली दुर्घटना से भी बचाते हैं।

तेल खरीदना : इस दिन तेल खरीदने से भी बचना चाहिए। हालांकि तेल का दान किया जा सकता है। काले श्वान को सरसों के तेल से बना हलुआ खिलाने से शनि की दशा टलती है। ज्योतिष के अनुसार, शनिवार को सरसों या किसी भी पदार्थ का तेल खरीदने से वह रोगकारी होता है।

नमक : नमक हमारे भोजन का सबसे अहम हिस्सा है। अगर नमक खरीदना है तो बेहतर होगा शनिवार के बजाय किसी और दिन ही खरीदें। शनिवार को नमक खरीदने से यह उस घर पर कर्ज लाता है।

कैंची लाती है रिश्तों में तनाव : कैंची ऐसी चीज है जो कपड़े, कागज आदि काटने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। पुराने समय से ही कपड़े के कारोबारी, टेलर आदि शनिवार को नई कैंची नहीं खरीदते।इसके पीछे यह मान्यता है कि इस दिन खरीदी गई कैंची रिश्तों में तनाव लाती है। इसलिए अगर आपको कैंची खरीदनी है तो किसी अन्य दिन खरीदें।

काले तिल बनते हैं बाधा : सर्दियों में काले तिल शरीर को पुष्ट करते हैं। ये शीत से मुकाबला करने के लिए शरीर की गर्मी को बरकरार रखते हैं। पूजन में भी इनका उपयोग किया जाता है। शनि देव की दशा टालने के लिए काले तिल का दान और पीपल के वृक्ष पर भी काले तिल चढ़ाने का नियम है, लेकिन शनिवार को काले तिल कभी न खरीदें। कहा जाता है कि इस दिन काले तिल खरीदने से कार्यों में बाधा आती है।

काले जूते लाते हैं असफलता : शरीर के लिए जितने जरूरी वस्त्र हैं, उतने ही जूते भी। खासतौर से काले रंग के जूते पसंद करने वालों की तादाद आज भी काफी है। अगर आपको काले रंग के जूते खरीदने हैं तो शनिवार को न खरीदें। मान्यता है कि शनिवार को खरीदे गए काले जूते पहनने वाले को कार्य में असफलता दिलाते हैं।

परिवार पर कष्ट : रसोई के लिए ईंधन, माचिस, केरोसीन आदि ज्वलनशील पदार्थ आवश्यक माने जाते हैं। भारतीय संस्कृति में ईंधन अग्नि को देवता माना गया है और ईंधन की पवित्रता पर विशेष जोर दिया गया है लेकिन शनिवार को ईंधन खरीदना वर्जित है। कहा जाता है कि शनिवार को घर लाया गया ईंधन परिवार को कष्ट पहुंचाता है।

झाड़ू लाती है दरिद्रता : झाड़ू घर के विकारों को बुहार कर उसे निर्मल बनाती है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का आगमन होता है। झाड़ू खरीदने के लिए शनिवार को उपयुक्त नहीं माना जाता। शनिवार को झाड़ू घर लाने से दरिद्रता का आगमन होता है।

अनाज पीसने की चक्की : इसी प्रकार अनाज पीसने के लिए चक्की भी शनिवार को नहीं खरीदनी चाहिए। माना जाता है कि यह परिवार में तनाव लाती है और इसके आटे से बना भोजन रोगकारी होता है।

स्याही दिलाती है अपयश : विद्या मनुष्य को यश और प्रसिद्धि दिलाती है और उसे अभिव्यक्त करने का सबसे बड़ा माध्यम है कलम। कलम की ऊर्जा है स्याही। कागज, कलम और दवात आदि खरीदने के लिए सबसे श्रेष्ठ दिन गुरुवार है। शनिवार को स्याही न खरीदें। यह मनुष्य को अपयश का भागी बनाती है।

गुरुवार, 19 अक्तूबर 2017

किन्नर से मांग लें ये चीज़ हमेशा रहेंगे धनवान, जरुर पढ़िए

किन्नर से मांग लें ये चीज़ हमेशा रहेंगे धनवान, जरुर पढ़िए


हर कोई चाहता है कि उसका पर्स हमेशा पैसों से भरा रहे, कभी खाली न हो। लेकिन कई बार ऐसे हालात आ जाते हैं कि आपका पर्स खाली हो जाता है या महीने के आखिरी में आपको पैसों की तंगी का सामना करना पड़ता है। अगर आप चाहते हैं कि आपके साथ ऐसा न हो तो आप इन बातों का जरूर ध्यान रखें। इससे आपका पर्स हमेशा पैसों से भरा रहेगा।

किन्नर से मांगे 
ऐसी मान्यता है कि किन्नर को किया गया दान अक्षय पुण्य प्रदान करता है। इनकी दुआएं व्यक्ति को हर विपत्ति से बचा लेती है। यदि आप पैसों की समस्याओं से मुक्ति चाहते हैं तो किसी किन्नर से एक रुपए का सिक्का वापस ले लें। यदि किन्नर अपनी खुशी से आपको सिक्का दे देता है तो उसे हरे कपड़े में लपेट कर अपने पर्स में रखें या तिजोरी में रखें। ऐसा करने से आपकी धन संबंधी परेशानियां दूर होने लगेंगी।
पीपल में भगवान विष्णु
आप अपने पर्स में पीपल का पत्ता रखें, जिससे आपके पर्स में धन की वर्षा शुरू हो जाती है। धर्म ग्रंथों के अनुसार पीपल में भगवान विष्णु का वास माना जाता है। इसलिए एक पीपल के पत्ते को गंगाजल से धोकर पवित्र कर लें। अब इस पर केसर से श्री लिखें और इसे अपने पर्स में इस प्रकार रखें कि यह किसी को नजर न आए। नियमित अंतराल पर यह पत्ता बदलते रहें। ऐसा करने से काफी फायदा होगा।
लक्ष्मी पूजा के दौरान
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चावल शुक्र ग्रह से संबंधित अनाज है। वहीं किसी भी पूजा-पाठ के दौरान देवी-देवताओं को तिलक करने के बाद चावल भी चढ़ाए जाते हैं। लक्ष्मी पूजा के दौरान चढ़ाए गए चावल बहुत ही विशेष होते हैं। मां लक्ष्मी को चढ़ाए गए चावलों में से 21 दाने लेकर एक कागज की पुड़िया बनाकर रख लें। अब इस कागज की पुड़िया को अपने पर्स में रख लें। इससे आपको काफी फायदा होगा।
पर्स और चाबी को कभी भी टेबल पर नहीं रखना
भारत में ही नहीं विदेशों में कहा गया है कि अपने पर्स और चाबी को कभी भी टेबल पर नहीं रखना चाहिए। ऐसा करने से घर में पैसे की बचत होना कम हो जाती है। इसलिए कभी भी पर्स को टेबल ना रखें। इसे किसी सुरक्षित स्थान पर रखें। ये सुरक्षा की दृष्टि से भी काफी सही होता है। इससे पर्स के चोरी होने का खतरा भी कम हो जाता है।
गुरु की छोटी सी तस्वीर
बहुत से लोगों को मानना है कि अगर आप अपने पर्स में अपने गुरु की छोटी सी तस्वीर रखें तो काफी बरकत होती है। गुरु की तस्वीर पर्स में रखने से इसका सकारात्मक प्रभाव आपके जीवन पर पड़ेगा। गुरु की तस्वीर पर्स में होने से आप खराब समय में भी राहत और आध्यात्मिक शांति महसूस करेंगे। गुरु की तस्वीर पर्स में होने से आपको धन से संबंधित परेशानियां नहीं होंगी।
दीपावली पर दिखने वाले इन अनचाहे मेहमानों का अच्छा बुरा प्रभाव

दीपावली पर दिखने वाले इन अनचाहे मेहमानों का अच्छा बुरा प्रभाव


दीपावली पर अपने घर महालक्ष्मी को बुलाने के लिए व्यक्ति हर संभव प्रयास करता है। प्रकृति तौर पर कुछ ऐसे संकेत हैं जिनके मिलने से माना जाता है की बुरे दिन अच्छे दिनों में जल्दी ही बदल जाते हैं। दीपावली के दिन अथवा रात को आपके घर में ये अनचाहे मेहमान आ जाएं तो समझ जाएं...

* दीपावली की रात ब‌िल्ली अथवा छिपकली घर में आ जाए तो समझ जाएं देवी लक्ष्मी का प्रवेश हो गया है। घर में किसी भी तरह की कोई समस्या शेष नहीं रहेगी।
* घर में दो मुंहा सांप आ जाए अथवा सांप की केंचुली मिले तो कुबेर आप पर मेहरबान होकर खोल देंगे अपने खजाने का द्वार।
* गाय का घर के द्वार पर आकर रंभाना अथवा आस-पास आकर बैठना संकेत है कि घर में सुख-समृद्धि और धन का प्रवेश होने वाला है।
ये भी पढ़िए : चुपचाप अपनाएं लाल किताब के ये सिद्ध टोटके फिर देखें अपने जीवन में चमत्कार

* कौआ उड़ान भरता हुआ अकस्मात आपके आगे आ जाए और चरण स्पर्श करके उड़ जाए, शीघ्र बनेंगे शाही ठाठ-बाट।
* मोर की मीठी ध्वनि तीन बार सुनाई दे तो समझ जाएं जल्दी ही आपकी लॉटरी निकलने वाली है। दैवीय कृपा से आपको वो सब प्राप्त होगा जिसकी चाह बरसों से आपने दिल में छुपा कर रखी थी।
* आवश्यक कार्य के लिए घर से निकलने पर पक्ष‌ियों का झुंड द‌िख जाए तो समझें आपके वारे-न्यारे होने वाले हैं। जिस काम के लिए जा रहे हैं वो तो पूरा होगा साथ में उम्मीद से दोगुना लाभ भी प्राप्त होगा।
* दीपावली की रात छछुंदर घर में आ जाए तो समझें लक्ष्मी कृपा आई है।
ये भी पढ़िए : अपनाएं ये तरीके, घर में टिक नहीं पाएंगे चूहे, जरुर अपनाएं

*  रात्रि को उल्लू के दर्शन हो जाएं तो इसका अर्थ है कि धन का नुक्सान होने वाला है लेकिन प्रात:काल उल्लू की आवाज सुनना मंगलकारी माना गया है। यदि किसी के आंगन में उल्लू मरा हुआ मिले तो यह उस घर में पारिवारिक कलह का सूचक है और यदि किसी विशेष स्थान पर उल्लू नियमित रूप से आने लगे तो इसे किसी भयानक व दुखदायी घटना का सूचक माना जाता है।

ऐसी मान्यता है कि प्रात:काल पूर्व दिशा में वृक्ष पर बैठे उल्लू को देखने अथवा उसकी आवाज सुनने से धन की प्राप्ति होती है। उत्तर दिशा में बैठे उल्लू की आवाज सुनने वाले व्यक्ति को कोई गंभीर बीमारी होने का खतरा है। प्रात:काल दक्षिण दिशा में बैठे उल्लू को देखने या उसकी आवाज सुनने से उस व्यक्ति के शत्रुओं का नाश होता है। सुबह के समय पश्चिम दिशा में बैठे उल्लू की आवाज सुनने वाले व्यक्ति को धन का भारी घाटा होता है। 

यदि उल्लू रात्रि के समय किसी मकान की छत पर बैठ कर बोलता है तो या तो घर में किसी सदस्य की मृत्यु होने वाली है या किसी प्रियजन की मृत्यु का समाचार मिलने वाला है। यदि रात्रि के समय उल्लू चारपाई पर आकर बैठ जाए तो उस परिवार में शीघ्र ही किसी का विवाह होने वाला है।

सोमवार, 9 अक्तूबर 2017

सोने की तरह चमका देगा आपका जीवन कपूर के ये उपाय

सोने की तरह चमका देगा आपका जीवन कपूर के ये उपाय


जिस तरह से कपूर का उपयोग घर में पूजा पाठ के लिए होता है ठीक उसी तरह से कपूर का इस्तेमाल प्राचीन टोटकों के लिए भी किया जाता रहा है। कपूर का इस्तेमाल घरों में पूजा के लिए होता है और ज्यादातर कपूर का इस्तेमाल आरती के समय किया जाता है। इससे भगवान बहुत जल्दी प्रसन्न होते हैं। कपूर से तन मन को शांति भी मिलती है। कपूर आपकी सेहत के लिए भी लाभदयक है साथ ही साथ कपूर आपके बिगड़े हुए कामों, पैसों की कमी और वास्तुदोष को भी ठीक करता है। आइये जानते हैं कैसे करें कपूर का प्रयोग घर की समस्या को दूर करने के लिए।

कपूर के ये उपाय बनाएंगे मालामाल

धनवान बनने के लिए
यदि आपके पास धन की कमी हो या धन की समस्या से झूझ रहे हों तो आप कपूर का इस्तेमाल करें। रात के समय में चांदी की कटोरी में कपूर और लौंग को जलाएं। इस टोटके को कुछ दिनों तक रोज करें। यह उपाय आपको धन से मालामाल कर देगा। पैसों की कमी भी नहीं रहेगी।
किस्मत चमकाने के लिए
जब हजार कोशिशों के बाद भी काम नहीं बनते हैं तो एैसे में कपूर आपकी किस्मत के ताले को खोल सकता है। शनिवार के दिन कपूर के तेल की बूंदों को पानी में डालें और फिर इस पानी से रोज स्नान करें। यह टोटका आपकी बंद किस्मत को खोलता है। और आपको बीमारियों से भी बचाता है।
दुर्घटना से बचाव के लिए टोटका
दुर्घटना कभी भी हो सकती है। एैसे में बचाव बहुत ही जरूरी है। आप रात के समय में कपूर को जलाकर हनुमान चालीसा का पाठ करें। इस अचूक टोटके से इंसान किसी भी तरह की प्राकृतिक व अप्राकृतिक दुर्घटना से बचता रहता है।
ये भी पढ़िए : कपूर तेल के 6 बेमिशाल फायदों से आप अभी तक है अनजान, जरूर पढ़े और शेयर करे

वास्तुदोष दूर करने का टोटका
आपके कई काम इसलिए नहीं बनते हैं क्योंकि इसके पीछे वास्तुदोष होता है। वास्तुदोष को खत्म करने के लिए घर में कपूर की दो गोली रखें। और जब यह गल जाएं फिर दो गोलियां रख दें। एैसा आप समय समय पर करते रहें या बदलते रहें। इससे वास्तुदोष खत्म हो जाएगा।
ये भी पढ़िए : इस तरह रखेंगे कछुआ तो घर में आएगी ख़ुशहाली और पैसा

सुख शांति के लिए कपूर का वैदिक टोटका
यदि आपके घर में परेशानी रहती हो तो कपूर को घी में भिगाएं और सुबह और शाम के समय में इसे जलाएं। इससे निकलने वाली उर्जा से घर के अंदर सकारात्मक उर्जा आती है जिससे घर में शांति बनी रहती है।

विवाह ना हो रहा हो तो
समय पर यदि विवाह ना हो तो फिर विवाह रूकने की समस्या भी हो सकती है। यदि विवाह में किसी भी तरह की समस्या आ रही हो तो आप 6 कपूर के टुकड़े और 36 लौंग के टुकड़े लें। अब इसमें चावल और हल्दी को मिला लें। इसके पश्चात आप देवी दुर्गा को इससे आहुति दें। इस टोटके से शादी जल्दी होती है।
ये भी पढ़िए : यदि आपको शीघ्र विवाह करना है तो करे ये आसान उपाय

यदि इंसान विश्वास से इन उपायों को करता है तो उसे इनका फायदा जरूर होता है। दुनिया समस्याओं से पहले से ही घिरी हुई थी और आज भी एैसा ही है। इसलिए प्राचीन ग्रंथों में इंसान की समस्याओं का निवारण करने के लिए मुनियों ने अनके उपाय बताए जिससे मानव का भला हो सके। वैदिक वाटिका आप तक हर एैसी जानकारी पहुंचाती रहेगी जिससे आपको फायदा मिलेगा।