बुधवार, 21 दिसंबर 2016

आयुर्वेद के अनुसार बालों में कैसे लगाएं तेल, जानिए

आयुर्वेद सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है, बालों की समस्‍याओं के उपचार में यह बहुत कारगर है, क्‍या आप जानते हैं बालों में आयुर्वेद के अनुसार तेल लगाने के कितने फायदे हैं, इस स्‍लाइडशो में हम आपको बता रहे हैं, आयुर्वेद के अनुसार कैसे तेल लगायें और इससे क्‍या फायदे हैं।

रोज तेल लगाएं

सामान्यतः हम छुट्टियों में ही तेल लगाते हैं या फिर जिस दिन सिर धोना है, उसके एक दिन पहले। इस तरह से सप्ताह में महज दो या तीन बार ही सिर में तेल लगता है। हालांकि नहाने के बाद सिर पर तेल लगाना भी नहीं चाहिए क्योंकि उससे धूल मिट्टी बालों मे चिपक सकती है। इससे डैंड्रफ, जूंए आदि समस्याए बढ़ सकती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बालों को हर रोज तेल की आवश्यकता होती है। जरूरी नहीं है कि तेल भर भरकर लगाया जाए और चम्पी की जाए। यदि आप घर पर हैं तो रोजाना महज एक चम्मच तेल लेकर अपने बालों की जड़ों में लगाएं ताकि बालों की सेहत बेहतर हो सके। इससे बाल जल्दी लम्बे होते हैं और जड़ें मजबूत होती हैं।

तेल गर्म करें

हम अकसर बालों में सामान्य तेल ही लगाते हैं। तेल को हल्के गुनगुने पानी के जरिये गर्म किया जा सकता है। गर्म तेल से सिर की मसाज बेहतरीन विकल्प है। आयुर्वेदिक सिद्धांत के मुताबिक यह न सिर्फ बालों की सेहत बेहतर करता है बल्कि सिर को आराम भी देता है और सुकून भी मिलता है। लेकिन यह सिद्धांत सब लोगों के लिए नहीं है। ध्यान रखें कि यदि आपको सिर दर्द की बीमारी है, सिर में लाल दाग है और जिन लोगों को पित्त सम्बंधी बीमारी है उन्हें तेल गर्म करके सिर पर नहीं लगाना चाहिए।

धूप में न जाएं

यदि आप उन लोगों में से हैं जो रोजाना सिर पर तेल लगाते हैं तो ध्यान रखें कि प्रत्यक्ष रूप सूरज की रोशनी के संपर्क में न आएं। साथ ही इस बात का भी ख्याल रखें कि बालों में तेल इस्तेमाल न करें। तेल सीधे सिर पर लगाएं और महज एक चम्मच ही लगाएं। ज्यादा तेल लगाने से सिर कोई विशेष लाभ नहीं होगा। इसके उलट आपको अपना सिर धोना पड़ेगा। आयुर्वेदिक सिद्धांत की मानें तो धूप में कतई न जाएं यह बालों की सेहत के लिए अच्छा नहीं है।

डैंड्रफ की स्थिति

यदि आपके सिर में डैंड्रफ है तो आयुर्वेदिक सिद्धांत के मुताबिक बेहतर होगा कि नहाने के एक या डेढ़ घंटा पहले ही सिर पर तेल लगाएं। तेल अगर गर्म करें तो अच्छा होगा। इसके अलावा यह भी ध्यान रखें कि तेल सीधे बालों की जड़ों में लगाएं। सिर की अच्छे से मसाज करें। इसमें यदि आप सोचते हैं कि बालों पर तेल लगाने से डैंड्रफ खत्म हो जाएंगे तो यह आपकी गलत अवधारणा है। सिर का मसाज करें और बेहतर परिणाम पाएं।

सिरदर्द की समस्या

जिन लोगों को सिरदर्द की बीमारी है, उन लोगों के लिए आयुर्वेदिक सिद्धांत में एक खास किस्म की विधि है। सिरदर्द के मरीजों को चाहिए कि वे शाम के 5-6 बजे सिर में तेल लगाएं। असल में सिरदर्द का सम्बंध वात से होता है। यदि हम दिन को तीन हिस्से में विभाजित करें तो अंतिम हिस्सा वात से प्रभावित होता है। अतः शाम के समय सिर में तेल लगाने से सिर को आराम मिलेगा क्योंकि इस समय वात का प्रभाव अत्यधिक होता है। यदि आपको नींद न आने की बीमारी है तो इसके लिए जरूरी है कि रात को खाना खाने के बाद सिर का तेल से मसाज करें। आयुर्वेद के मुताबिक नींद की समस्या से लड़ने के लिए यह बेहतरीन इलाज है। हल्के से सिर में मसाज भी करें। नींद तो आएगी ही साथ ही सिर को आराम भी मिलेगा। परिणामस्वरूप आपकी सुबह तरोताजा रहेगी।

SHARE THIS
loading...

0 Comments: