क्‍वेरी बालों के लिए की प्रासंगिकता द्वारा क्रमित पोस्‍ट दिखाए जा रहे हैं. तारीख द्वारा क्रमित करें सभी पोस्‍ट दिखाएं
क्‍वेरी बालों के लिए की प्रासंगिकता द्वारा क्रमित पोस्‍ट दिखाए जा रहे हैं. तारीख द्वारा क्रमित करें सभी पोस्‍ट दिखाएं

सोमवार, 19 दिसंबर 2016

10 मास्‍क जो बनायें आपके बालों को मुलायम और चमकदार

10 मास्‍क जो बनायें आपके बालों को मुलायम और चमकदार

बालों की सही देखभाल के लिए हेयर मास्क फायदेमंद है। यह हेयर मास्क बालों की समस्या को दूर करने के साथ ही उन्हें मजबूत और आकर्षक भी बनाते हैं।
बालों के लिए हेयर मास्‍क

किसी को भी सुंदर और आकर्षक बनाने में बाल महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए बालों का स्‍वस्‍थ, मुलाय‍म और चमकदार बनाने के लिए उन्‍हें भरपूर पोषण देना बहुत जरूरी है। वैसे तो बाजार में कई प्रकार के उपचार उपलब्‍ध हैं, लेकिन यह मंहगे होने के साथ-साथ केमिकल युक्त होते हैं। इसलिए बालों की सही देखभाल के लिए घर में मौजूद प्राकृतिक चीजों से बने हेयर मास्‍क का इस्‍तेमाल करना चाहिए। यह मास्‍क आसानी से बनाये जा सकते हैं और इनके कोई दुष्‍परिणाम भी नहीं है।  साथ ही यह आपके बालों को मजबूत और आकर्षक भी बनाते हैं।
केला क्रीम मास्क

केला बालों की कमजोर जड़ों को मजबूत बनाता है। इसमें मौजूद आयरन और विटामिन से बालों को पर्याप्‍त पोषण मिलता है। केले से बने मास्‍क से कमजोर और क्षतिग्रस्‍त बालों में नई जान आ जाती है। इस मास्‍क को बनाने के लिए एक केले को अच्‍छी तरह से पीसकर उसमें एक टी स्पून शहद मिलाएं। और इस मास्‍क को सिर की त्वचा और बालों में अच्छी तरह से लगा लें। 15-20 मिनट बाद बालों को हलके गुनगुने पानी से धो लें। शहद एक प्राकृतिक कंडिशनर है, जो बालों को नर्म-मुलायम और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है।
ओटमील हेयर मास्क

ओटमील हेयर मास्‍क उन लोगों के लिए बहुत अच्‍छा है जिनके बाल बहुत ज्‍यादा तैलीय या रूसी की समस्‍या है। यह  अतिरिक्त तेल को निकालकर बालों को पोषण देता है। इसे बनाने के लिए एक बड़ा चम्‍मच ओटमील में एक बड़ा चम्‍मच ताजा दूध और एक बड़ा चम्‍मच बादाम का तेल मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्‍ट को सिर की त्‍वचा व बालों में लगाये। 15-20 मिनट बाद गुनगुने पानी से धो लें। बेहतर परिणाम पाने के लिए मास्क लगाने के बाद पानी में नीबू का रस मिलाकर लगा सकते हैं।
एवोकैडो हेयर मास्क

एवोकैडो सूखे और बेजान बालों के लिए बहुत अच्छा उपाय है। एवोकैडो में मौजूद प्राकृतिक तेल बेजान बालों के लिए डीप कंडिशनिंग का काम करता है। इस मास्‍क को बनाने के लिए एक एवोकैडो को छीलकर मसल लें। इसमें दो टेबल स्पून ऑलिव ऑयल मिलाकर फेंट लें। चाहें तो इसमें जोजोबा या बादाम का तेल भी मिला सकते हैं। इसे बालों 30 मिनट लगा रहने देने के बाद सिर की मालिश करते हुए धोएं। एवोकैडो बालों को नमी, पोषण व मजबूती देता है। 
हिबिस्कस हेयर मास्क

बालों की जडें कमजोर होने पर हिबिस्कस मास्क बेहतरीन उपचार है। गुडहल के फूल में ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो जडों को मजबूत बनाने के साथ ही यह सिर की त्वचा का रक्त संचार बढाकर खुले हुए छिद्रों को बंद करने में मदद करते है। इस मास्‍क को बनाने के लिए 1-2 हिबिस्कस के फूलों की पंखुडियों को एक कप पानी में रात भर के लिए भिगो दें। सुबह इसे ऑलिव ऑयल और दूध के साथ अच्‍छे से मिक्‍स करके 20-25 मिनट लगा रहने के बाद पानी से धो लें।
करी पत्ते का मास्क

 करी पत्ते से बना मास्‍क बालों के झड़ने की समस्‍या को दूर करने के अलावा असमय सफेद बालों की समस्या भी दूर करता है। इस मास्क से बालों की ग्रोथ भी अच्छी होती है। इसे बनाने के लिए 20 से 25 करी पत्ते, एक टुकड़ा रतनजोत और 1/4 कप नारियल का तेल ऑयल लें। करी पत्ता को एक कप पानी और रजतनजोत को नारियल के तेल में रातभर के लिए भिगो दें।  सुबह रतनजोत को तेल से निकाल दें। फिर तेल और भीगे हुए करी पत्तों को एक साथ मिलाकर पीस लें। इसे सिर की त्वचा और बालों में अच्छी तरह लगाएं। इस मास्क को 1-2 घंटे लगा रहने दें। फिर बालों को अच्‍छे से धो लें।
नारियल क्रीम मास्क

नारियल क्रीम मास्‍क रूखे बालों के लिए बहुत अच्‍छा होता है। इसका मॉयस्चराइजिंग गुण बालों को मुलायम और रेशमी बनाने में मदद करता है। इस मास्‍क को बनाने के लिए 2 बड़े चम्‍मच नारियल तेल में एक बड़ा चम्‍मच ऑलिव ऑयल मिलाकर बालों और जड़ों में अच्‍छे से लगाये। आधा से एक घंटे लगा रहने के बाद इसे माइल्ड हर्बल शैंपू से धो लें।
अंडे का हेयर मास्क

बालों की खोई हुई चमक और नमी लौटाने में अंडे का हेयर मास्‍क बहुत फायदेमंद होता है। अंडे में मौजूद प्रोटीन हेयर फॉलिकल्स को मजबूती प्रदान करता है और बालों को चमकदार बनाता है। इस मास्‍क को बनाने के लिए एक अंडे की जर्दी में क बड़ा चम्‍मच अरंडी का तेल और एक बड़ा चम्‍मच शहद मिलाकर पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को बालों और जड़ों में अच्‍छे से लगा लें। आधे घंटे के बाद इसे धो लें और अंत में सेब वाइन सिरके से बालों को धो लें।
एलोवेरा हेयर मास्‍क

एलोवेरा बालों की कुदरती नमी वापस लौटाकर उन्हें चमकदार व रेशमी बनाये रखता है। इस मास्‍क को बनाने के लिए एक बड़ा चम्‍मच एलोवेरा जेल, एक बड़ा चम्‍मच नीबू का रस और दो बड़े चम्‍मच नारियल या जैतून का तेल बनाकर पेस्‍ट बना लें। इसे बालों में अच्छी तरह से लगाकर 45  मिनट के बाद शैंपू कर लें। 
बीयर हेयर मास्‍क

बीयर सिर्फ पीने के ही काम नहीं आती, बल्की बालों की अच्छी सेहत के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। बीयर, बालों के लिए बेहतरीन शैंपू व कंडिशनर का काम करता है। बीयर में फास्फोरस, मैग्नीशियम, पोटेशियम और मालटोस पाया जाता है जो बालों की देखभाल के लिए अहम सामग्रियां मानी जाती हैं। बीयर हेयर मास्‍क बनाने के लिए 2 बड़े चम्‍मच बीयर में एक बड़ा चम्‍मच कैस्टर ऑयल, एक बड़ा चम्‍मच अंडे की जर्दी और थोड़ा सा शहद मिला लें। इस मास्क को बालों में लगा लें 10 मिनट लगा रहने के बाद बालों की हल्की मालिश करते हुए धो लें।
बेसन हेयर मास्‍क

रूखे बालों के लिए बेसन का पैक काफी मददगार साबित होता है। चने के बेसन का मास्क बनाने के लिए तीन बड़े चम्‍मच काले चने रात को भिगो दें और सुबह इसका पेस्ट बना लें। इसमें एक अंडा, एक बड़ा चम्‍मच नींबू का जूस और एक कप दही मिलाकर बालों में लगाएं। इसे आधे घंटे के लिए छोड़ दे और बाद में पानी से धो लें।

शनिवार, 3 सितंबर 2016

बालों के गिरने की समस्या को दूर करने का इलाज

बालों के गिरने की समस्या को दूर करने का इलाज


अक्सर देखा जाता है कि हमारे घर पर बड़े बुजुर्ग या मां हमेशा हमें ताजी सब्जी और फलों के सेवन को करने के लिए काफी जोर देती है। जिसे हम अनसुना कर जाते है पर ये पौष्टिक आहार ना केवल हमारे स्वास्थ को ठीक रखते है, बल्कि हमारी सुंदरता बनाए रखने के लिए भी फायदेमंद होते हैं। इनका सेवन करने से ये हमारे बालों को हर मौसम में होने वाले दुष्प्रभावों से बचाते है। जिससे बालों के गिरने की समस्या दूर होती है। कुछ लोग बालों पर हो रहे मानसून के प्रभाव को दूर करने के लिए कई तरह के उत्पादों का उपयोग करते है। जिसका असर एक सीमित समय तक के लिए रहता है, लेकिन प्राकृतिक उत्पादों का असर आपके लिए जीवन पर्यन्त बनाये रखने में मदद करता है। तो जाने बालों के गिरने की समस्या से परेशान लोग किस तरह से प्राकृतिक चीजों का प्रयोग कर इस समस्या से छुटकरा पा सकते है।

बालों के गिरने की परेशानी को दूर करने के लिए रसोई में मौजूद इन चीजों का प्रयोग करें। जिसे आप असानी के साथ पा सकते है मजबूत और घने बाल। जाने रसोई में मौजूद बालों के गिरने के प्राकृतिक एवं घरेलू उपाय…

1. केले का सेवन :

केले में विटामिन ए और पोटेशियम के तत्व मौजूद होते है, जो बालों के लिए काफी फायदेमंद साबित होते है। बालों को मजबूत बनाये रखने के लिए आप केलें को अच्छी तरह से मैश कर लें। मसले हुए केले में शहद की कुछ मात्रा मिला दें। बालों की जड़ पर लगाते हुए इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर एक हल्के शैम्पू की सहायता से बालों को धो लें।

2. गाजर का सेवन :

गाजर का उपयोग करने से आपके आंखों की रोशनी ठीक होती है। जिस तरह से गाजर का सेवन रोज करने से ये शरीर के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है, उसी तरह से इसके जूस को बालों में लगाने से यह उसे काफी पौषित करने में विशेष भूमिका निभाता है। बालों में इसका प्रयोग करने के लिए गाजर के रस को निकाल कर 30 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें। इसके बाद बालों की जड़ों पर लगाकर कुछ मिनट के लिए इसे लगे रहने दें। करीब आधे घंटे के बाद बालों को धो लें।

3. प्याज का सेवन :

प्याज का रस भले ही काफी बदबूदार हो पर इसके रस में पाये जाने वाले गुण काफी बेमिसाल है। ये बालों को स्वस्थ रखने के लिए सबसे अच्छा औषधिय उपचार माना जाता है। प्याज का रस बालों की रूसी को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा बालों की जड़ों पर इसके रस से मालिश करते हुए लगाने से रोम छिद्र खुल जाते है। जिससे यह खोपड़ी के रक्त परिसंचरण में सुधार लाकर बालों को स्वस्थ बनाता है, जिससे बाल तीव्र गति विकसित होते है।

4. एवोकैडो का सेवन :

यदि आपके बाल रूखे और बेजान है तो इस परेशानी को दूर करने के लिए आप एवोकैडो को भरपूर मात्रा में उपयोग करें। इसमें पाये जाने वाले विटामिन बी और ई जैसे पौष्टिक तत्व क्षतिग्रस्त बालों की मरम्मत और रूखेपन को दूर कर नमी प्रदान करने में सहायक होते है। इसके उपयोग बालों में करने के लिए आप इसके साथ अंडे की जर्दी का भी उपयोग कर सकती है। इन दोनों के मिश्रण को तैयार करें और बालों पर लगाएं, 20 मिनट तक लगे रहने दें। इसके बाद किसी अच्छे शैम्पू की मदद से बालों को साफ कर लें।

5. नारियल के दूध का सेवन :

नारियल तेल हर भारतीय परिवार की पहली पसंदीदा चीज है। लेकिन नारियल के दूध की उपयोगिता भी कम नहीं है। नारियल का दूध बालों के लिए सबसे अच्छा उपचार माना जाता है। इसका उपयोग करने के लिए नारियल के दूध में कुछ मात्रा में शहद मिलाकर सिर में लगाते हुए मालिश करें। इसे बालों में एक घंटे तक लगा रहने दें। इसके बाद किसी हल्के शैम्पू की सहायता से बालों को धो लें। इसको लगाने से बाल कालें घने मजबूत होते है।

6. दलिया का सेवन :

दलिया में पाये जाने वाले पौष्टिक तत्व हमारी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद साबित होते है। इसके अलावा यह बालों को भी नमी प्रदान कर उसे काला घना सुंदर बनाए रखने में मदद करता है। इसका प्रयोग बालों में करने के लिए आप 1 बड़ा चम्मच ताजा दूध में दलिया को मिलाकर अपने बालों की जड़ो पर लगायें। 30 मिनट के बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें। यह बालों को मजबूती प्रदान कर रूसी की समस्या से निजात दिलाता है। यह बालों की समस्या को दूर करने का सबसे अच्छा प्राकृतिक उपाय साबित हुआ है।

शनिवार, 24 सितंबर 2016

घरेलू हेयर केयर टिप्स

घरेलू हेयर केयर टिप्स

1. ताजे फल और सब्जियां खायें

फल और सब्जियां, जिस तरह आपके स्वास्थ्य के लिए जरूरी है उसी तरह आपके बालों के स्वास्थ्य के लिए भी आपको ताजे फल और सब्जियां रोज खानी होगी |
2. पर्याप्त मात्रा में पानी पीए

पानी पीने से आपकी केवल प्यास ही नहीं बुझती है बल्कि आपके पूरे शरीर को Hydrate करने में भी help करता है | इसके साथ ही यह शरीर के कई functions को भी अच्छा बनाता है | सबसे Important यह है कि यह आपके बालों के लिए भी बहुत अच्छा है | इसलिए आप दिन में कम से कम 10 गिलास पानी पिया करें |
3. कोकोनट आयल
  • Coconut Oil (कोकोनट ऑयल) बालों के लिए बहुत ही अच्छा और उपयोगी होता है |
  • Pure Coconut Oil को गर्म कर लें और उसके बाद हल्का ठण्डा होने पर अपनी Scalp में लगाएं (कम से कम सप्ताह में एक बार अवश्य लगाएं) | इसे लगाने के बाद –
  •     एक towel को गर्म पानी में डुबाकर अच्छे से निचोड़ ले और अपने सिर में पगड़ी की तरह बांध लें |
  •     फिर से लगभग 5 मिनट के लिए ऐसे ही रहने दें | उसके बाद पुनः ऐसे ही आप कम से कम तीन से चार बार करें |
  •     ऐसा करने से आपके सिर और बालों में जो आयल लगा हुआ है वह अच्छे से आपके सिर और बालों में Absorb हो जाएगा |
4. बालों की सफाई

  • हेयर केयर में बालों की अच्छी तरह से सफाई करना बहुत ही जरूरी है |
  •     इसके आप यह भी जान लें कि गर्मियों में और बारिश के मौसम (In Humid Climate) में आपको अपने बाल कुछ ज्यादा हीं धोने चाहिए, जितना कि आप सामान्यतया बालों को धोती हैं | ऐसा करने से आपके बालों में पसीना नहीं होगा Grease नहीं होगी और गंदगी भी साफ रहेगी |
  •     जिनके बाल आयली हैं वे सप्ताह में कम से कम 3-4  बार अपने बालों को धोयें |
  •     जबकि जिनके ड्राई बाल हैं वह सप्ताह में दो बार भी बालों को धोएगी तो उनके लिए ठीक होगा |
  •     बालों से गंदगी के साथ–साथ केमिकल और प्रदूषण को साफ करना भी बहुत जरुरी है |
  •     लेकिन बालों को बहुत ज्यादा साफ़ करने की भी आवश्यकता नहीं है, क्योकि ज्यादा धुलाई करने से आपके बालों की नेचुरल Shining चली जाएगी | इसके साथ ही Natural Elements भी खत्म हो जाएंगे और आपके बाल Lifeless, सूखे और Dull नजर आएंगे |
5. बालों में हर्बल शैंपू कैसे करे

आप अपने बालों में माइल्ड हर्बल शैंपू (Mild Herbal Shampoo) का ही इस्तेमाल करें और केमिकल वाले शैंपू को एकदम ना लगाएं | इसके बाद आपके बालों को Suit करने वाला Conditioner जरूर लगायें |
6. Dry Hair के लिए

  • ड्राई हेयर को मैनेज करना काफी मुश्किल काम होता है |
  •     ड्राई बालों maintain करने के लिए एक चम्मच कैस्टर आयल (Castor Oil) और एक चम्मच कोकोनट आयल (Coconut Oil) को गरम कर लें और इन्हें मिक्स करके अपने बालों और अपनी स्कैल्प में पूरे अच्छी तरह लगाएं और मसाज करे |
  •     गरम तौलिया लेकर अपने सिर के ऊपर पगड़ी की तरह लपेट ले |
  •     कोशिश करें कि इसे पूरी रात ऐसे ही लपेटे रहें, लेकिन यदि ऐसा करना संभव ना हो तो कम से कम तीन-चार घंटे इसको ऐसे ही लपेटे रहे |
  •     उसके बाद हल्के गर्म पानी से धो डालें |
  •     गर्म टावेल का इस तरह से पगड़ी बांध कर लपेटना बालों की चमक के लिए बहुत अच्छा होता है, इससे बाल मजबूत और सुंदर होते हैं |
7. ऑयली बालों के लिए नींबू का इस्तेमाल

जिनके बाल Oily हैं, वे 1 लीटर पानी में एक नींबू का रस मिला लें और इस पानी से अपने बाल धोने के अंत rinse करे | ऐसा करने से आयली बालों को काफी फायदा होगा |
8. नींबू, कॉफी, अंडा, आयल और दही से बना हेना पैक
  • यह हेना हेयर पैक शहनाज हुसैन की बाल बढ़ाने की बढ़िया टिप्स में से एक है |
  •     इसके लिए 4 चम्मच नींबू का रस, 4 चम्मच काफी पाउडर, 2 कच्चे अंडे, 2 चम्मच तेल और थोड़ा दही लेकर आप हिना या मेहंदी पाउडर में मिला लें |
  •     इसे मिक्स करते रहें जब तक इसका पेस्ट न बन जाए और यह पूरी तरह से एक जैसा ना दिखने लगे
  •     इस पेस्ट को अपने बालों में महीने में कम से कम 3 बार लगाएं ऐसा करने से आपके बाल मुलायम और खूबसूरत बनेंगे |
9. बालों को नेचुरली Rinse कैसे करें

  • यह शहनाज हुसैन की बहुत ही effective और popular हेयर टिप्स में से है |
  •     इसके लिए एक मुट्ठी सूखा आंवला, एक मुट्ठी रीठा और एक मुट्ठी शिकाकाई लेकर 1 लीटर पानी में मिलाकर रातभर के लिए रख दें |
  •     दूसरे दिन इसको तब तक उबालें जब तक पानी आधा न रह जाए |
  •     फिर इसे ठंडा होने के लिए रख दें |
  •     इसे छानलें और अपने बालों को Rinse करें और बचा हुआ बाद के लिए फ्रीज में स्टोर कर रख दें |
  •     आप इसी तरह अपने बालों को सप्ताह में एक दिन इस तरह नेचुरल Rinse कर सकती है |
10. बालों की सफेदी से कैसे बचा जाए

  • बालों और स्किन की समस्या के लिए आंवला बहुत ही उपयोगी है और साथ ही यह बालों को सफेद होने से रोकने के लिए भी काफी उपयोगी है |
  •     इसका इस्तेमाल करने के लिए एक कच्चे आंवले का जूस एक गिलास पानी में डाल लें और इसे रोजाना सुबह नास्ते से पहले पिए |
  •     इसके अलावा यदि आप अपने बालों के लिए मेहंदी का प्रयोग करती हैं तो उसमें कुछ आंवले का रस भी मिला लें और उसके बाद उसे बालों में लगाएं |
  •     आप थोड़ा सुखा आंवला लेकर दो कप पानी में रात में भिगोकर रख दें | सुबह पानी को छानकर निकाल लें और इसको इस्तेमाल करने के लिए रखें | अब सूखे आंवले में मेहंदी के पाउडर को मिलाकर grind कर लें और इसमें 4 चम्मच नींबू का रस, काफी पाउडर, दो कच्चे अंडे और पर्याप्त मात्रा में आमले का पानी लेकर इसका एक गाढा पेस्ट बना लें | इस पेस्ट को अपने बालों पर लगाएं और लगभग 2 घंटे तक इसको लगा रहने दें, उसके बाद इसे पानी से धो डालें |
  • यह आपके बालों को सफ़ेद होने से रोकने के साथ ही बालों में चमक भी लायेगा |
11. Dandruff के लिए नीबू का प्रयोग

Dandruff से छुटकारा पाने के लिये आप अपने बालों में Coconut Oil लगायें और रातभर लगा रहने दें|    अगले दिन Scalp में नींबू का रस लगाएं और उसे 30 मिनट तक ऐसे ही लगा रहने दें | उसके बाद हल्के गर्म पानी से इसे धो डालें |
12. बालों के लिए Heat अच्छी नहीं होती है

बालों की ज्यादातर स्टाइलिंग Technique में बालों को ऐसे एक्सपोज किया जाता है जिससे कुछ ना कुछ डैमेज जरूर होता है | इसी में से एक है Heat देना | Heat कभी भी बालों के लिए अच्छी नहीं होती है और जहां तक हो सके इससे बचना चाहिए |
13. बहुत अधिक गर्म पानी से भी बचे

गर्म पानी भी आपके बालों के लिए हीट ट्रीटमेंट की तरह ही नुकसान पहुंचाता है | यह बालों में मौजूद नेचुरल Moisture को खत्म करता है और उन्हें ड्राई बनाता है | इसलिए कभी भी अपने बालों को बहुत गर्म पानी से नहीं धोना चाहिए | अच्छा होगा कि आप नारमल पानी का इस्तेमाल करें |
14. Dry Towel का इस्तेमाल

बालों को Towel से सुखाते समय आप यह ध्यान रखें कि बालों को बहुत तेज रब न करे | इसकी बजाय आप हल्के-हल्के से Pat Dry करें | बहुत तेज बालों को रगड़ने से बाल आपके ब्रेक हो सकते हैं और डैमेज हो सकते हैं
15. बालों को बहुत टाइट न बांधे

बालों को अधिक टाइट बांधने से बाल डैमेज हो सकते हैं और टूट सकते हैं | इसलिए बालों को थोड़ा लूज ही बांधे
यदि आप ऊपर दी गई टिप्स का इस्तेमाल करेंगे तो आपको अपने बालों को अच्छी केयर करने में सहायता मिलेगी | इसके अलावा आप हेल्दी फूड खाएं और कम से कम 8 घंटे की नींद अवश्य लें, साथ ही साथ पर्याप्त मात्रा में पानी पिए | यदि आपको हमारी टिप्स पसंद आई है या आप कोई और आप सुझाव देना चाहती हैं तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपने अनुभव जरूर शेयर करें

गुरुवार, 29 दिसंबर 2016

गिरते बाल ऐसे करें इलाज कुछ साधारण तरीको से, शेयर करें

गिरते बाल ऐसे करें इलाज कुछ साधारण तरीको से, शेयर करें


गिरते हुए बाल किसी भी लड़की के एक तनाव का विषय हो सकता है क्योंकि असल में किसी लड़की के लिए उसके बालों की सेहत उसके लिए सम्पति की तरह होती है और बालों का ख़ूबसूरती में बहुत अहम् योगदान होता है नही तो बड़े बड़े गीतकारों ने यूँ ही थोड़ी न जुल्फों के लिए प्यार भरे गीत लिखे है | ऐसा नही है लड़कियों के लिए ही बाल मायने रखते है लड़कों के लिए भी यदा कदा यह महत्वपूर्ण विषय होता है  चलिए कोई बात नहीं हम बात कर रहे थे गिरते बालों की समस्या के बारे में तो उसी पर चलते है –

कैसे कम करें गिरते बाल :

बालों से जुडी एक खास बात – शायद हम से बहुत कम लोग ही जानते है कि मेडिकल विज्ञानं में बाल और बालों से जुडी त्वचा यानि सिर की त्वचा के बारे में अध्ययन और उसके निदान के लिए एक अलग शाखा है जिसका नाम है ” ट्रिचोलोजी” और ट्रिचोलोजीस्ट आपका वो डॉक्टर होता है तो आपकी बालों और सिर की त्वचा से जुड़े रोगी का निदान करता है |

खानपान की बेकार आदत – सबसे पहले बालों के गिरने का मुख्य कारण जो है वो है आपका खानपान जो अगर सही नहीं तो बेशक आपको दूरगामी दुष्परिणाम देखने को मिल सकते है | हम जो खाते है उसी से हमारे बालों को पोषण भी मिलता है जैसे की अगर हम कम प्रोटीन वाला खाना खाते है और कम पानी पीते है तो हमारे बाल रूखे हो सकते है | और नमी खोने के कारण हमारे बाल गिरने लगते है |

केमिकल ट्रीटमेंट – अगर आप जेल या अन्य बालों के लिए आने वाले केमिकल पदार्थो का इस्तेमाल अपने बालों को अच्छा दिखाने के लिए करते तो बेशक करें लेकिन लम्बे समय के लिए नहीं क्योंकि ये चीज़े आपके बालों को थोड़े देर के लिए तो अच्छा दिखा सकते है लेकिन बाद में ये बहुत नुकसान करते है |

पोषक तत्वों की कमी – हमारे शरीर में अगर जरुरी पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तो भी आपके बाल गिरने लगते है जैसा कि मैंने ऊपर आपको बताया हम जो खाते है उसी से हमारे शरीर के अन्य भागों की तरह बालों को भी पोषण मिलता है इसलिए पोषण की कमी के चलते आपके बाल खराब हो सकते है क्योंकि हम से अधिकतर इस तरफ ध्यान नहीं देते है कि संतुलित भोजन कैसा होना चाहिए | संतुलित भोजन पर जानकारी के लिए आप यंहा क्लिक करे |

हार्मोन की समस्याएं – हार्मोन की समस्याए या उनका बैलेंस नहीं होने पर भी आपको कई तरह की परेशानियों से गुजरना पड़ता है और डायबीटीज जैसी बीमारी के अंदर भी आपके बालों के गिरने की समस्याएं आ सकती है ऐसे में आपको अपने बालों का खास ध्यान रखना होता है इसके लिए आप डॉक्टर से परामर्श कर सकते है जो आपको बेहतर गाइड कर सकता है |

अधिक फैशन अपनाना – बालों को अच्छा दिखने और जल्दी सुखाने के लिए अगर आप ड्रायर और कर्ली बालों के लिए अगर आप आयरन का इस्तेमाल करते है तो वो भी आपके बालों के लिए खतरनाक होता है इस से बाल टूटने की शिकायत हो सकती है इसलिए इनका नियमित प्रयोग करने से बचे और किसी खास अवसर पर ही करें |

सिर की कमजोर त्वचा – सिर की त्वचा पोषण की वजह से कमजोर हो जाती है और सूखी सूखी सी हो जाती जिसकी वजह से बालों की जड़ें कमजोर हो जाती है इसके लिए आपको नियमित रूप से अपने बालों को धोना चाहिए और हफ्ते में कम से कम तीन बार अपने बालों को तेल लगाना चाहिए |

तनाव – यह आजकल की पीढ़ी में बड़ी कॉमन सी चीज़ है और गंभीर होने पर बेहद नुकसानदायक भी है सेहत के लिए भी और आपके बालों के लिए भी तनाव की वजह से हमारे बालों के फोलिकल्स समय से पहले ही केटोजन और टेलोजन के दौर में पहुँच जाते है जिस से बाल गिरना शुरू हो जाते है | तनाव की मुख्य वजह क्या है और कैसे तनाव से दूर रहे जानने के लिए यंहा क्लिक करें |

शनिवार, 24 दिसंबर 2016

पतले बालों को घना बनाने के लिए आजमाएं ये 9 घरेलू नुस्खे

पतले बालों को घना बनाने के लिए आजमाएं ये 9 घरेलू नुस्खे

हर किसी की चाहत होती है कि उसके बाल लंबे, घने और चमकीले हों, लेकिन आहार में पोषक तत्‍वों की कमी और हार्मोंन के असंतुलन के कारण बाल पतले हो जाते हैं, लेकिन घबराएं नहीं, यहां दिये गये घरेलू उपाय आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं।
पतले बालों की समस्‍या

    बालों की झड़ने के साथ-साथ बालों के पतले की समस्‍या भी आजकल बहुत आम हो गई है। पतले बाल की समस्‍या कई कारणों से हो सकती हैं, जैसे बालों की ठीक से देखभाल न करना, हार्मोंन का असंतुलन होना या फिर आहार में पोषण तत्‍वों की कमी आदि। अगर आपके बाल भी पतले हो गए हैं और बालों में किसी भी प्रकार का हेयरस्‍टाइल नहीं जंचता। तो कुछ घरेलू उपाय आपकी इस समस्‍या को दूर करने में मददगार साबित हो सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ घरेलू उपचारों के बारे में जानते हैं जिनकी मदद से आप अपने पतले बालों को लंबा, घना और सुंदर बना सकते हैं।
फायदेमंद है आंवला

    पतले बालों के लिए आंवले से अच्‍छा कुछ और हो ही नहीं सकता। यह बालों को मोटा, घना औार काला बनाता है। आंवला में एन्टीऑक्सीडेंट और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, इसलिए इसको न सिर्फ लगाने से बल्कि खाने से भी बालों के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचते है। अगर आपको बालों को मोटा बनाना है तो नहाने से पहले बालों में आंवले का रस और नींबू का रस मिला कर लगाइये। इसके लिए आप दो चम्मच नींबू के रस में दो चम्मच आंवले का रस मिलाकर मिश्रण बना लें। फिर इस मिश्रण को सिर पर लगायें और सूखने के बाद गुनगुने पानी से धो लें।
छोटे से दाने के बड़े गुण

    मेथी में बड़ी मात्रा में मौज़ूद प्रोटीन, निकोटिनिक एसिड और लेसीथीनरी बालों को जड़ों से मजबूत बनाने और गंभीर समस्याओं के इलाज में बहुत कारगर है। एक चम्मच मेथी के पेस्ट में दो चम्मच नारियल तेल मिलाएं और बालों में 30 मिनट तक लगाकर रखें। फिर इसे शैंपू से साफ कर लें। ऐसा 1 महीने तक लगातार करने से बालों में घनापन आने के साथ-साथ बालों का विकास भी होने लगता है।
बालों की हर समस्‍या का हल प्याज का रस

    प्‍याज का रस पतले बालों की समस्‍या को दूर करने का सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। प्याज के रस में सल्फर अच्छी मात्र में है जो शरीर में कोलाजेन की मात्रा बढ़ाता है जिससे बाल घने होते हैं। प्याज का रस निकालकर इसे बालों पर 15 मिनट तक लगाएं और फिर शैंपू से बाल साफ करें।
नारियल तेल के अद्भुत गुण

    नारियल का तेल बालों में पूरी तरह अवशोषित हो कर हर एक बाल को पोषण देता है। यह प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाकर, बालों को नमी प्रदान करता है। आपने बालों को झड़ने से रोकने और उन्हें घना बनाने के लिए आप नारियल का तेल उपयोग में ला सकते हैं। नारियल के तेल को रोजाना अच्छी तरह अपने बालों में लगाएं। यह बालों के रेशे को मजबूत और चमकदार बनाता है। इसके अलावा 4 चम्‍मच नारियल के तेल में 2 चम्‍मच नींबू का रस मिलाकर लगाना पतले बालों की समस्‍या के लिए बहुत अच्‍छा उपचार है।
बालों के लिए संजीवनी है एलोवेरा

    एलोवेरा बालों के लिए संजीवनी के समान काम करता है। यह ना सिर्फ आपके बालों को खूबसूरत और चमकदार बनाता है बल्कि बालों की जड़ों को मजबूत करता है और बालों में जान डालने के लिए भी कारगर है। पतले बालों की समस्‍या से बचने और बालों को खूबसूरत बनाने के लिए एलोवरा जेल को सिर में लगाएं और आधे घंटे रखने के बाद सिर धो लें। ताजे एलोवेरा जैल को बालों की बनावट में सुधार करने के लिए कंडीशन के रूप में भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है।
मेंहदी के पत्ते भी फायदेमंद

    अगर आप पतले बालों को प्राकृतिक रुप से घने करना चाहते हैं, तो अपने बालों में मेंहदी लगाएं (इसे मेंहदी के पत्तों को पीसकर बनाते है)। मेंहदी को लगाकर अपने बालों को शावर कैप से ढंक लें और लगभग 3 घंटों के बाद अपने बालों को धोएं। या मेंहदी पाउडर में 3 से 4 बड़े चम्मच नीम पाउडर, दही के 2 बड़े चम्मच, कॉफी पाउडर का 1 बड़ा चम्मच, काली चाय और नींबू एक साथ मिलाएं। उन्हें अच्छी तरह से मिलाकर पूरे सिर की त्वचा पर लगायें। 30 मिनट या उससे अधिक के लिए छोड़ दें और फिर बालों को धो लें।
ऑलिव ऑयल

    अगर आपके बालों में पतलेपन की समस्‍या है और कोई उपचार काम नहीं आ रहा है तो बालों में ऑलिव ऑयल से हफ्ते में केवल एक बार मसाज करें। ऑलिव ऑयल आपके डैमेज बालों को दुबारा से मजबूती प्रदान करेगा क्‍योकि यह एक अच्‍छा कंडीशनर है। अगर आप हमेशा ऑलिव ऑयल का प्रयोग करती हैं तो शैम्‍पू के बाद आपको कंडीशनर की जरुरत नहीं पडेगी। ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करने से बालों से गंदगी को दूर करने और बालों की बनावट में सुधार करने में मदद मिलती है।
बालों के लिए जादुई सिरका

    सेब का सिरका बालों के लिए जादू का काम करता है। सिरके को अंडे, पानी और ऐलोवेरा जेल के साथ मिक्‍स कर के लगाएं। यह एक शैंपू के रुप में कार्य करेगा और इससे बाल भी साफ हो जाएगें। साथ ही पतले बालों की समस्‍या से बचने के लिए आप बालों को धोने के बाद सिरके के पानी से धो लें। इसके अलावा हफ्ते में 3 से 4 बार एक गिलास पानी में आधा चम्‍मच सेब का सिरका मिलाकर पीने से भी बालों के विकास में सुधार करने में मदद मिलती है।
गुड़हल के सुंदर फूलों का जादू

    गुड़हल के फूल भी पतले बालों को घना बनाने में बहुत मददगार होते हैं। गुड़हल के फूलों में आयरन, फॉस्फोरस, कैल्शियम, राइबोफ्लोबिन, थियामिन, नियासिन व विटामिन सी पाया जाता है। पतले बालों की समस्‍या होने पर गुड़हल के ताजे फूलों के रस में जैतून का तेल बराबर मिलाकर आग पर पकायें, जब पानी बिल्‍कुल सूख जाये तो इसे शीशी में भरकर रख लें। रोजाना नहाने के बाद इसे बालों की जड़ों में अच्‍छे से मलकर लगाना चाहिए। इससे बाल चमकीले होकर लंबे हो जाते हैं।

रविवार, 28 अगस्त 2016

टूटते बालों के लिए १४ प्रमाणित केश उपचार

टूटते बालों के लिए १४ प्रमाणित केश उपचार

नए हेयर स्टाइलिंग उत्पादों और विधियों के आगमन के साथ ही, लोग हर दिन अपने बालों का अपमान कर रहे हैं | यह हेयर जेल हो, या बालों को घुंघराले या सीधा बनाने के लिए गर्म लोहे का प्रयोग हो, या हेयर क्रीम या हेयर वेक्स हो ,  लोग कुछ घंटे के लिए अद्भुत लगने हेतु इस प्रकार के उत्पादों का प्रयोग करते हैं , लेकिन वे जान नहीं पाते है कि, इस प्रकार के हेयर स्टाइलिंग उत्पादों और मशीनों का नियमित प्रयोग कुछ नहीं करता हैं लेकिन भविष्य में बालों को बहुत क्षति पहुँचाता है |

बाल टूटना आरम्भ हो जाते हैं | अपना जीवन चक्र पूरा करने से पूर्व ही ये बिखरने लगते है, क्योंकि विभिन्न केश उत्पादों के प्रयोग से इनकी जड़ें बेहद कमजोर हो जाती हैं | अल्प भोजन और इसी प्रकार तनाव भी बालों के टूटने का एक कारण हो सकते हैं |

कई प्रकार के उपचारात्मक उपाय है जो बालों की टूटन को रोकने में सहायक हो सकते है | उनमे से कुछ निचे सूचीबद्ध है :-
१.संतुलित भोजन :
असंतुलित आहार भी टूटते बालों का एक मुख्य कारण होता है | स्वस्थ बालों के लिए, हमें प्रोटीन से भरपूर भोजन की जरुरत होती हैं |  इसलिए आपको प्रोटीन से भरपूर भोजन खाना चाहीए | अगर आप अपने टूटते बालों को रोकना चाहते हैं तो अंडा, चिकेन, अंकुरित एवं फल जैसे खाद्य पदार्थ आपके भोजन का हीस्सा होने चाहीए |

सुद्ध पेय जैसे पानी, ताजा फलों का रस, सुप इत्यादि का सेवन कर, अपने शरीर को हाइड्रेट (तरल से भरपूर ) रखने का प्रयास भी करें | आपके शरीर का हाइड्रेट रहना, आपको बालों के हाइड्रेशन को सुनिश्चित करेगा, और इस तरह बालों के टूटने का मौका काफी काम हो जाता हैं |

२.हेयर स्टाइलिंग उत्पादों और मशीनों के प्रयोग से बचें :
 
अपने बालों पर हेयर स्टाइलिंग उत्पादों के प्रयोग से बचना ही उचित हैं | लगातार हेयर जैल या गर्म लोहे का प्रयोग आपके बालों की संरचना को तहस–नहस कर देता हैं |  अगर आप टूटते बालों को रोकना चाहता हैं, तो अपने बालों को प्राकृतिक बनाये रखना ही बेहतर है |

हेयर स्ट्रेटनर (बालों को सीधा करने वाला) और ब्लो ड्रायर (हवा फेंककर सुखाने वाला ) इत्यादि, जैसे हेयर स्टायलिंग मशीन आपके बालों की प्राकृतिक नमी (मोइस्चर) को सूखा कर कमजोर, सूखा और निर्जीव बना देते हैं | इसलिए बालों की टूटन से बचने के लिए ऐसे हेयर स्टाइलिंग उत्पादों से दूर रहना ही बेहतर हैं |

३.अपने बालों की नियमित छटाई करें :

बालों की नियमित छटाई, दो मुंहे बालो से बचने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है | कम से कम दो माह में  एक बार अपने बालों को अवश्य कांटें, यह न सिर्फ टूटते बालों की समस्या को कम करने में सहायक होगा, अपितु  यह बालों को बढ़ने में भी सक्षम बनाएगा | छटाई बालों के सिरों के बिखराव का भी ख्याल रखता है, जो बालों की बनावट को खराब कर देते हैं | इस तरह बालों को बेहतर स्थिति में रखने के लिए नियमित छटाई आवश्यक है |

४.नारियल तेल :

नारियल तेल को, आपके बालों की सभी समस्याओं के समाधान के रूप में जाना जाता है | एक कटोरी  में नारियल का तेल लें, और गुनगुना होने तक उसे गर्म करें | अब इसे अपनी पूरी खोपड़ी पर लगाए और रक्त संचार को बढ़ाने के लिए घूर्णन गति में अच्छी तरह मालिश करें | इसे रात भर रखें, और सुबह में अपने नियमित शैम्पू के प्रयोग से धो लें |

५.जैतून का तेल :

जैतून का तेल विटामिन ई और ए से भरपूर होता हैं , और इसमें मौजूद एंटी–ऑक्सीडेंट भी बालों को मजबूत और स्वस्थ बनने में सहायक होता हैं | जैतून तेल को बालों के लिए एक प्राकृतिक नमी प्रदाता के रूप में जाना जाता है | जैतून के तेल का नियमित मालिश बालों की टूटन को रोकता है, और इसे नमीयुक्त बनाए रखता हैं |

६.अरंडी का तेल :

अरंडी का तेल वसायुक्त अम्ल (Fatty Acid) का एक अच्छा स्रोत है, जिसका प्रयोग आपके बालों को नमी देने  के लिए किया जाता हैं | बालों का टूटना तभी प्रारम्भ होता हैं, जब बालों में नमी की कमी होती हैं | आपके बालों को जरुरी नमी प्रदान  करने के लिए अरंडी का तेल एक बेहतरीन माध्यम हैं |
तेल को अपनी  पूरी खोपड़ी और बालों पर लगाएं, यह सुनिश्चित करें की बालों की जड़ों में तेल पहुंचे |  अपने अंगुलियों की मदद से ५–१० मिनट तक अपने मस्तिष्क की मालिश करें |  रात भर तेल को बालों में ही छोड़ दें, और सुबह में इसे धो लें | अरंडी के तेल का नियमित प्रयोग आपके बालों को मजबूत और स्वास्थ्य बनाता हैं |

७.बादाम का तेल :

बादाम के तेल में आवश्यक वसायुक्त अम्ल, विटामिन्स, और मैग्नीशियम होता हैं, ये सभी तत्व मिलकर बालों को मजबूत बनाते हैं और बालों की टूटन से बचाव में सहायता करते हैं | हल्के गर्म बादाम के तेल को अपनी अँगुलियों की मदद से घूर्णन गति में अपने खोपड़ी पर मालिश करें |  तेल को रात भर बालों में ही रहने  दें और सुबह में अपने नियमित शैम्पू की मदद से धो लें |

८.आर्गन का तेल :

आर्गन के तेल को ‘तरल सोना‘ का नाम दिया गया है, क्योंकि इसमें ऐसे आश्चर्यजनक गुण मौजूद हैं जो बालों को मजबूत और स्वस्थ बनाने के लिए बेहद जरुरी है | यह तेल ओलिक और लिनोलेइक जैसे वसायुक्त अम्ल से भरपूर होता हैं, जो बालों को स्वस्थ और मजबूत बनाये रखने में मदद करते हैं, इसलिए यह बालों की टूटन को कम करता हैं |

पर्याप्त मात्रा में आर्गन के तेल को बालों की जड़ों से लेकर अंतिम छोर तक लगाएं | तेल को मस्तिष्क पर अच्छे से मालिश करें, इससे यह बालों में स्थिर हो जाये | एक हल्का तौलिया अपने मस्तिष्क पर लपेट लें | रात भर इसे छोड़ दें, और सुबह अपने नियमित शैम्पू से इसे धो लें | बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार करें |

९.अरंडी का तेल और जैतून का तेल :

अरंडी का तेल और जैतून तेल दोनों में कई आवश्यक तत्व पाए जाते हैं, जो बालों की टूटन को रोकने में मदद करते हैं | बराबर मात्रा में अरंडी का तेल और जैतून तेल दोनों को मिश्रित करें, और इसे गुनगुना करें |इस तेल को अपनी खोपड़ी और बालों पर अच्छे से लगाएं | आराम से ५–१० मिनट तक अपने मस्तिष्क की मालिश करें, और इसे रात भर रखें और सुबह में धो लें | यह आपके बालों को मजबूत, स्वस्थ, और लंबा बनाने में सहायता करेगा |

१०.नारियल तेल और करी पत्ता का हेयर पैक :

नारियल तेल में आवश्यक वसायुक्त अम्ल होता है, जो क्षतिग्रस्त बालों की मरम्मत करता है, जबकि करी पत्ता में एमिनो अम्ल और एंटी–ऑक्सीडेंट होता हैं, जो बालो के स्वस्थ विकास को सक्षम करता है| एक मुट्ठी कुरी पत्ता लें और उसे नारियल तेल के साथ उबालें | तब तक उबालें जब तक पत्तियां काली न पड़ जाएं, यह बताता है की करी पत्ता के सभी तत्व में नारियल तेल में घुल गए हैं | जरुरत के अनुसार परिणाम पाने के लिए, इस तेल का अपनी खोपड़ी पर नियमित प्रयोग करें |

११.अंडा लेप (पैक) :

बालों को स्वस्थ विकास के लिए प्रोटीन चाहीए,  अंडे से बेहतर प्रोटीन का स्रोत और क्या हो सकता हैं |अंडे की जर्दी प्रोटीन से भरपूर होती है, जो बालों में नमी प्रदान करने का कार्य करता हैं और अंडे की सफेदी में अच्छे जीवाणु होते हैं, जो खोपड़ी की त्वचा को साफ करते हैं | आप दो अंडो को अच्छी तरह से फेंटक अपने बालों में लगा सकती हैं | इसे कम से कम दो घंटे तक रखें और फिर किसी अच्छे शैम्पू की मदद से अच्छी तरह से धो लें, जिससे गंध दूर हो जाये |

१२.अंडा और मेयोनेज़ हेयर लेप (पैक) :

अंडा और मेयोनेज दोनों प्रोटीन के अच्छे माध्यम हैं, जिसकी जरुरत लंबे और मजबूत बालों के लिए होती है |दो अंडा लें, और उसे अच्छी तरह फेंट लें | अब इसमें मेयोनेज मिला दें और तब तक इसे फेंटते रहें, जब तक तक अंडा और मेयोनेज अच्छी तरह मिश्रित न हो जाएं | इस मिश्रण को अपनी खोपड़ी पर बराबर से लगाएं और कम से कम एक घंटे तक इसे रखें और फिर इसे पानी और शैम्पू की मदद से धो लें |

१३.शहद और जैतून के तेल के साथ अंडे का हेयर पैक :

शहद में बालों को मुलायम रखने के गुण होते है, इसे एक प्राकृतिक मृदुकर (मुलायम करने वाला) माना जाता है | इसके अलावे शहद में एंटी–ऑक्सीडेंट भी होते हैं जो कि, आपके बालों को मजबूत और वृद्धि में भी सहायक होता है | एक कटोरी में दो अंडा, दो चम्मच शहद और दो चम्मच जैतून का तेल लें | इन सभी तत्वों को अच्छी तरह फेंट लें, जब तक पूर्णतः मिश्रित न हो जाये | इस मिश्रण को जड़ से लेकर अंतिम छोर तक लगाएं | इसे कम से कम एक घंटे तक सूखने के लिए छोड़ दें, और अपने बालों को नियमित शैम्पू से धो लें |

१४.अंडा और एवोकाडो हेयर पैक :

एवोकाडो आवश्यक विटामिन्स, खनिज, और वसायुक्त अम्ल का अच्छा स्रोत हैं, जिसकी क्षतिग्रस्त बालों की मरम्मत में जरुरत होती हैं | एक पक्का हुआ एवोकाडो लें, इसे अच्छे से धुन लें, अब इसमें एक अंडा डालें और अच्छे से मिलाएं जब तक की अंडा और अवोकेडो दोनों अच्छी तरह मिश्रित न हो जाएँ | इस मिश्रण को अपनी खोपड़ी पर लगाएं, और इसे कम से कम आधे घंटे तक छोड़ दें |

अपने नियमित शैम्पू के प्रयोग से इसे धो लें | बालों की मरम्मत के लिए इस लेप का कम से कम सप्ताह में एक बार नियमित तौर पर इस्तेमाल करें | बालों का टूटना एक ऐसी गंभीर समस्या है, जो आज लगभग हर व्यक्ति को झेलना पड़ रहा है | इसलिए बालों की टूटन के खिलाफ लड़ने और मजबूत, स्वस्थ और लंबे बाल पाने के लिए इन १४ प्रमाणित केश उपचारों को आजमाएं | 

बुधवार, 17 अगस्त 2016

प्राकृतिक उपाय जो बालों को तेजी से बढ़ायें

प्राकृतिक उपाय जो बालों को तेजी से बढ़ायें

बाल व्‍यक्तित्‍व के बारे में काफी कुछ कह देता हैं। इसलिए हम सब सुंदर, घने और लंबे बाल चाहते हैं। कुछ प्राकृतिक उपायों को अपनाकर बालों की ग्रोथ बढ़ायी जा सकती है।

बालों को तेजी से बढ़ाने के उपाय

कौन नहीं चाहता घने, मुलायम, काले बाल। बालों से ही तो आपका स्‍टाइल स्‍टेटमेंट बनता है। हेयर स्‍टाइल उसकी सुंदरता और व्‍यक्तित्‍व में चार चांद लगा देते हैं। लेकिन लाइफस्‍टाइल के कारण बालों की समस्‍या से कोई भी अछूता नहीं है। बालों की समस्‍या के लिए हमारी जीवनशैली काफी हद तक जिम्‍मेदार होती है। आमतौर पर हर महीने बालों की लंबाई लगभग 1.25 सेमी बढ़ती है। लेकिन अगर आपके बाल नहीं बढ़ते हैं तो यहां दिये प्राकृतिक तरीके आपकी मदद कर सकते हैं।

अंडा :

अंडे में मौजूद पोषक तत्‍व शरीर की ही नहीं, बालों के लिए भी लाभप्रद होते हैं। अंडे में प्रचूर मात्रा में प्रोटीन, सेलेनियम, फास्फोरस, जिंक, आयरन, सल्फर और आयोडीन होता है जो बालों को झड़ने से बचाते हैं। ये पोषक तत्‍व बालों को लंबा करने में भी मददगार होते हैं। अंडे की सफेदी में थोड़ा सा जैतून का तेल व शहद को अच्‍छे से मिलाकर इस पेस्ट को अपने बालों में लगाकर एक घंटे के लिए छोड़ दें। फिर इसे शैंपू से अच्‍छे से धो लें। इससे बालों को जरूरी पोषण मिल जाता है जो उनकी ग्रोथ बढ़ाने में मददगार होता है।

आंवला :

बालों के लिए आंवले को कई तरह से इस्‍तेमाल किया जा सकता है। आप इसका सेवन करें या फिर इसे बालों में लगायें। आंवले में कैरोटिनायड जैसे पोषक तत्वों की मौजूदगी बालों के बढ़ने में सहायक होती हैं। अगर आपके बाल काले नहीं है तो आंवला और रीठा का पाउडर लगाएं, बाल काले हो जाएंगे। आंवला के जूस को सप्‍ताह में एक बार बालों में लगाने से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं।

मसाज :

बालों में तेल मसाज बालों को लंबा करने का सबसे अच्‍छा प्राकृतिक उपाय है। मसाज करने से पहले तेल को हल्‍का सा गर्म कर इससे बालों में मसाज करें। मसाज करने से सिर की त्‍वचा में रक्‍त संचार सुधरता है, जिससे बालों को पोषण मिलता है। इसके साथ ही इससे बाल मजबूत और घने होते हैं। इसके लिए सरसों और नारियल के तेल का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। सरसों के तेल को हल्‍का गुनगुना करके नहाने से पहले सिर पर मालिश करें, आधे घंटे तक तेल को लगा रहने दें और बाद में धो लें। सप्‍ताह में एक बार ऑयल मसाज जरूर करें।

एलोवेरा और शहद :

त्‍वचा के साथ-साथ ऐलोवेरा बालों के लिए वरदान है। एलोवेरा में विटामिन, सेलेनियम और दूसरे कई प्रकार के पौष्टिक तत्व बालों के सबसे बड़े दुश्‍मन डैंड्रफ से छुटकारा दिलाते है जिससे बाल स्‍वस्‍थ, मजबूत और लंबे होते हैं। स्‍कैल्‍प पर एलोवेरा जैल को लगाकर रात भर छोड़ दें। अगली सुबह सिर को अच्छी तरह से धो लें। या एलोवेरा जैल और शहद को बराबर मात्रा में मिलाकर, इसका पेस्‍ट बना लें। फिर इस पेस्‍ट को अपने बालों में 30 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें। बाद में इसे पानी से अच्‍छी तरह से धो लें

मेंहदी :

मेंहदी बालों के लिए नैचुरल कंडीशनर है। मेंहदी का पैक लगाने से बाल मजबूत और घने बनते हैं। मेंहदी बालों को जड़़ से मजबूत और घना बनाती है। एक कप मेंहदी पाउडर में आधा कप दही को अच्छे से मिलाकर इसे करीब दो घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद इस पेस्ट को स्‍कैल्‍प पर लगाएं। सूख जाने पर इसे धो लें।

आलू का रस :

आलू सबका मनपसंद भोजन होने के साथ बालों को तेजी से बढ़ाने में भी मदद करता है। हालांकि इसकी जानकारी लोगों को बहुत कम है। नहाने से पहले स्‍कैल्‍प पर आलू का रस लगाकर, 15 मिनट बाद धो लें। आलू में पाया जाने वाला विटामिन आपके बालों को लंबा और मजबूत बनाने में मदद करता है।

शिकाकाई :

शिकाकाई और आंवले के पानी से बालों को धोने से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं। इसके लिए शिकाकाई और सूखे आंवले को 25-25 ग्राम लेकर थोड़ा-सा कूटकर इसके टुकड़े कर लें। इन टुकड़ों को 500 ग्राम पानी में रात को डालकर भिगो दें। सुबह इस पानी को कपड़े के साथ मसलकर छान लें और इससे सिर की मालिश करें। 10-20 मिनट बाद नहा लें। इस तरह शिकाकाई और आंवलों के पानी से सिर को धोकर और बालों के सूखने पर नारियल का तेल लगाने से बाल लंबे, मुलायम और चमकदार बन जाते हैं।

मेथी :

मेथी का अधिक सेवन बालों की सेहत के लिए उत्तम माना जाता है। साथ ही मेथी के बीजों का चूर्ण बना लें। फिर उसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर इसका पेस्‍ट बना लें। इस पेस्ट को सिर पर लेप करके आधे घंटे के लिए छोड़ने के बाद धो लें। ऐसा करने से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं और बालों में डेंड्रफ खत्म हो जाती हैं। ऐसा सप्ताह में कम से कम दो बार अवश्‍य किया जाना चाहिए।

ककड़ी :

ककड़ी में सिलिकन और सल्‍फर की अधिक मात्रा के कारण इसके इस्‍तेमाल से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं। इसके लिए ककड़ी के रस से बालों को धोएं। या फिर ककड़ी, गाजर और पालक सबको मिलाकर रस पीने से बाल बढ़ते हैं।

गुड़हल :

गुड़हल के फूलों में आयरन, फॉस्फोरस, कैल्शियम, राइबोफ्लोबिन, थियामिन, नियासिन व विटामिन सी पाया जाता है। गुड़हल के ताजे फूलों के रस में जैतून का तेल बराबर मिलाकर आग पर पकायें, जब पानी बिल्‍कुल सूख जाये तो इसे शीशी में भरकर रख लें। रोजाना नहाने के बाद इसे बालों की जड़ों में अच्‍छे से मलकर लगाना चाहिए। इससे बाल चमकीले होकर लंबे हो जाते हैं।

नींबू का रस :

नींबू का रस भी सिर की खाल के पीएच को संतुलित करता है और बालों के विकास में बढ़ावा देता है। इसे उपाय को करने के लिए एक मुठ्ठी बादाम को रातभर पानी में फूलने के लिए छोड़ दें। सुबह बादाम को छील कर पीस लें। अब इसमें दो चम्मच नींबू का रस मिला कर सिर में अच्‍छे से मसाज करें। फिर इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें। जब यह सूख जाए तो इसे अच्छे से धो लें।

रविवार, 11 दिसंबर 2016

बालों की मजबूत ग्रोथ का तेल घर पर बनाये । यह बालो का गिरना भी रोके

बालों की मजबूत ग्रोथ का तेल घर पर बनाये । यह बालो का गिरना भी रोके

हर किसी की चाहत होती है कि उसके बाल लंबे, घने और चमकीले हों, लेकिन आहार में पोषक तत्‍वों की कमी और हार्मोंन के असंतुलन के कारण बाल पतले हो जाते हैं, लेकिन घबराएं नहीं, यहां दिये गये घरेलू उपाय आपके लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

1.पतले बालों की समस्‍या

बालों की झड़ने के साथ-साथ बालों के पतले की समस्‍या भी आजकल बहुत आम हो गई है। पतले बाल की समस्‍या कई कारणों से हो सकती हैं, जैसे बालों की ठीक से देखभाल न करना, हार्मोंन का असंतुलन होना या फिर आहार में पोषण तत्‍वों की कमी आदि। अगर आपके बाल भी पतले हो गए हैं और बालों में किसी भी प्रकार का हेयरस्‍टाइल नहीं जंचता। तो कुछ घरेलू उपाय आपकी इस समस्‍या को दूर करने में मददगार साबित हो सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ घरेलू उपचारों के बारे में जानते हैं जिनकी मदद से आप अपने पतले बालों को लंबा, घना और सुंदर बना सकते हैं।

2.फायदेमंद है आंवला

पतले बालों के लिए आंवले से अच्‍छा कुछ और हो ही नहीं सकता। यह बालों को मोटा, घना औार काला बनाता है। आंवला में एन्टीऑक्सीडेंट और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है, इसलिए इसको न सिर्फ लगाने से बल्कि खाने से भी बालों के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचते है। अगर आपको बालों को मोटा बनाना है तो नहाने से पहले बालों में आंवले का रस और नींबू का रस मिला कर लगाइये। इसके लिए आप दो चम्मच नींबू के रस में दो चम्मच आंवले का रस मिलाकर मिश्रण बना लें। फिर इस मिश्रण को सिर पर लगायें और सूखने के बाद गुनगुने पानी से धो लें।

3.छोटे से दाने के बड़े गुण

मेथी में बड़ी मात्रा में मौज़ूद प्रोटीन, निकोटिनिक एसिड और लेसीथीनरी बालों को जड़ों से मजबूत बनाने और गंभीर समस्याओं के इलाज में बहुत कारगर है। एक चम्मच मेथी के पेस्ट में दो चम्मच नारियल तेल मिलाएं और बालों में 30 मिनट तक लगाकर रखें। फिर इसे शैंपू से साफ कर लें। ऐसा 1 महीने तक लगातार करने से बालों में घनापन आने के साथ-साथ बालों का विकास भी होने लगता है।

4.बालों की हर समस्‍या का हल प्याज का रस

प्‍याज का रस पतले बालों की समस्‍या को दूर करने का सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। प्याज के रस में सल्फर अच्छी मात्र में है जो शरीर में कोलाजेन की मात्रा बढ़ाता है जिससे बाल घने होते हैं। प्याज का रस निकालकर इसे बालों पर 15 मिनट तक लगाएं और फिर शैंपू से बाल साफ करें।

5.नारियल तेल के अद्भुत गुण

नारियल का तेल बालों में पूरी तरह अवशोषित हो कर हर एक बाल को पोषण देता है। यह प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाकर, बालों को नमी प्रदान करता है। आपने बालों को झड़ने से रोकने और उन्हें घना बनाने के लिए आप नारियल का तेल उपयोग में ला सकते हैं। नारियल के तेल को रोजाना अच्छी तरह अपने बालों में लगाएं। यह बालों के रेशे को मजबूत और चमकदार बनाता है। इसके अलावा 4 चम्‍मच नारियल के तेल में 2 चम्‍मच नींबू का रस मिलाकर लगाना पतले बालों की समस्‍या के लिए बहुत अच्‍छा उपचार है।

6.बालों के लिए संजीवनी है एलोवेरा

एलोवेरा बालों के लिए संजीवनी के समान काम करता है। यह ना सिर्फ आपके बालों को खूबसूरत और चमकदार बनाता है बल्कि बालों की जड़ों को मजबूत करता है और बालों में जान डालने के लिए भी कारगर है। पतले बालों की समस्‍या से बचने और बालों को खूबसूरत बनाने के लिए एलोवरा जेल को सिर में लगाएं और आधे घंटे रखने के बाद सिर धो लें। ताजे एलोवेरा जैल को बालों की बनावट में सुधार करने के लिए कंडीशन के रूप में भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

7.मेंहदी के पत्ते भी फायदेमंद

अगर आप पतले बालों को प्राकृतिक रुप से घने करना चाहते हैं, तो अपने बालों में मेंहदी लगाएं (इसे मेंहदी के पत्तों को पीसकर बनाते है)। मेंहदी को लगाकर अपने बालों को शावर कैप से ढंक लें और लगभग 3 घंटों के बाद अपने बालों को धोएं। या मेंहदी पाउडर में 3 से 4 बड़े चम्मच नीम पाउडर, दही के 2 बड़े चम्मच, कॉफी पाउडर का 1 बड़ा चम्मच, काली चाय और नींबू एक साथ मिलाएं। उन्हें अच्छी तरह से मिलाकर पूरे सिर की त्वचा पर लगायें। 30 मिनट या उससे अधिक के लिए छोड़ दें और फिर बालों को धो लें।

8.ऑलिव ऑयल

अगर आपके बालों में पतलेपन की समस्‍या है और कोई उपचार काम नहीं आ रहा है तो बालों में ऑलिव ऑयल से हफ्ते में केवल एक बार मसाज करें। ऑलिव ऑयल आपके डैमेज बालों को दुबारा से मजबूती प्रदान करेगा क्‍योकि यह एक अच्‍छा कंडीशनर है। अगर आप हमेशा ऑलिव ऑयल का प्रयोग करती हैं तो शैम्‍पू के बाद आपको कंडीशनर की जरुरत नहीं पडेगी। ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करने से बालों से गंदगी को दूर करने और बालों की बनावट में सुधार करने में मदद मिलती है।

9.बालों के लिए जादुई सिरका

सेब का सिरका बालों के लिए जादू का काम करता है। सिरके को पानी और ऐलोवेरा जेल के साथ मिक्‍स कर के लें और नहाने से आधा पोना घण्टे पहले बालों पर अच्छे से मालिश करें

मंगलवार, 20 सितंबर 2016

लंबे बालों की देखभाल के लिए पुरुष अपनाएं इन खास व असरकारी नुस्खों को

लंबे बालों की देखभाल के लिए पुरुष अपनाएं इन खास व असरकारी नुस्खों को


फैशन के इस बदलते दौर में पुरुषों में भी लंबे बाल रखने का चलन जोरों पर है। लेकिन लंबे बालों के साथ कई तरह की समस्याएं भी साथ आती हैं जिनसे बचने के लिए बालों की उचित देखभाल की जानकारी होना जरूरी है। बालों की नियमित सफाई व कुछ आसान टिप्स के जरिए पुरुष आसानी से लंबे बालों की देखभाल कर सकते हैं। तो अगर आप भी लंबे बाल रखने की सोच रहे हैं? लेकिन उनकी देखभाल के डर से ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो अब बेफिक्र हो जाइए और हमारे साथ जानिए बालों की नियमित सफाई व देखभाल के आसान व असरकारी नुस्खों के बारे में विस्तार से ।

बालों की देखभाल के लिए प्रोटीन ट्रीटमेंट जरूरी है। बालों की प्राकृतिक देखभाल के लिए मेंहदी का प्रयोग कर सकते हैं।  समय-समय पर बालों की ट्रिमिंग करवाना जरूरी है। बालों की सफाई के लिए नियमित शैंपू व कंडीशनिंग करना ना भूलें।

1) ट्रिमिंग करवाएं :- 
पुरुषों को अपने बालों की देखभाल के लिए समय-समय पर ट्रिम करवाते रहें। इससे क्षतिग्रस्त व दोमुंहे बालों में फिर से जान आ जाती है। आप चाहें तो हर छह से आठ हफ्तों में बालों को कटवा सकते हैं।
2) ऐलोवेरा जेल से मालिश :- 
अगर आप अपने बालों को मजबूत और चमकदार बनाना चाहते हैं, तो ऐलोवेरा जेल से अपने सिर की मालिश करें। सप्ताह में दो बार ऐलो वेरा जेल से की गई मालिश बालों का झड़ना कम करता है साथ ही रुखे बालों को पोषण प्रदान कर स्कैल्प को ठीक करता है।
3) प्रोटीन ट्रीटमेंट :- 
बालों के लिए प्रोटीन ट्रीट्मन्ट बहुत जरुरी है। अगर आप घने और मजबूत बाल चाहते हैं, तो हफ्ते में तीन से चार बार अपने बालों को प्रोटीन ट्रीट्मन्ट दें। अपने बालों को प्रोटीन ट्रीटमेंट देने के लिए एक कटोरी में दो अंडों को फेंटे और इसे अपने गीले बालों पर लगाएं। इसे 15 मिनट के लिए रहने दें फिर गुनगुने पानी से अपने बाल धोलें।
4) मेंहदी के पत्ते :- 
अगर आप प्राकृतिक रुप से घने बाल चाहते हैं, तो अपने बालों में मेंहदी लगाएं (इसे मेंहदी के पत्तों को पीसकर बनाते है)। मेंहदी को लगाकर अपने बालों को शावर कैप से ढंक लें और लगभग 3 घंटों के बाद अपने बालों को धोएं।
5) बालों को सूखाने का तरीका :- 
पुरुषों में बालों के डैमेज होने का मुख्य कराण है तौलिए से बालों को सूखाना। पुरुषों की आदत होती है कि वे तौलिए से रगड़ कर बालों को सुखाते है जो बालों को टूटने व झड़ने की मुख्य वजह है। इसके अलावा हेयर ड्रायर की मदद से भी बालों को सूखाना हानिकारक हो सकता है।
6) पौष्टिक आहार लें :- 
आपके द्वारा लिए गए आहार का सीधा असर आपके बालों पर पड़ता है। इसलिए जितना हेल्दी खाना खाएंगे बालों को उतना ही पोषण मिलेगा। अक्सर पुरुषों में तनाव, धूम्रपान व पौष्टिक आहार ना लेने के कारण बाल रुखे व बेजान हो जाते हैं। इसलिए संतुलित आहार लेने के साथ पानी की भरपूर मात्रा भी लें। यह आपके बालों व शरीर दोनों के लिए अच्छा रहेगा।
7) बालों की सफाई :-
अपने बालों के मुताबिक शैंपू व कंडीशनर का चुनाव करें और नियमित रुप से इनका प्रयोग करें। बालों को झाड़ने के लिए हमेशा चौड़े दांत वाले कंघे का प्रयोग करना चाहिए इससे बाल आसानी से सुलझ जाते हैं। बालों को धोने के लिए सामान्या पानी का प्रयोग करें। गर्म पानी का प्रयोग बालों को नुकसान पहुंचाता है।

रविवार, 24 जुलाई 2016

घरेलू उपचारो के ज़रिये पाइए स्वाभाविक रूप से काले बाल

घरेलू उपचारो के ज़रिये पाइए स्वाभाविक रूप से काले बाल

आप क्या करेंगे अगर आपको पता चले की आपके बाल सफ़ेद हो रहे है? आप सीधे दुकान में जाकर एक बालों को रंग करने की सामग्री उठा कर ले आयेंगे जो सही तरह से आपके बालो को सूट होगा, है ना? और तब तक आप शांत नहीं बैठेंगे जब तक यह बालो को कलर करने के लिए पर्याप्त न हो जाये। वास्तव में,  ऐसा  करना हानिकारक है। इसके बजाय, प्राकृतिक तरह से काले बाल करने के उपाय ढूंढे| घरेलू उपचारो का इस्तेमाल कर के आप सफ़ेद बालो को न सिर्फ काला कर लेंगे बल्कि इन्हें एक सुंदर टोन प्राप्त करने में भी मदद कर पाएंगे। निश्चित रूप से काले बाल प्राप्त करने के लिए प्राकृतिक समाधान उपलब्ध है और आप शीर्ष उपचार पढ़ कर इसे प्राप्त कर सकते हैं।

आंवला और मेथी पैक

आंवला में विटामिन सी की भरपूर मात्रा होती है जिससे बालों को समय से पहले सफ़ेद होने से  रोका जा सकता है. एंटीऑक्सीडेंट का एक समृद्ध स्रोत है। विटामिन सी, आयरन, पोटेशियम, लैसिन, एल त्रिप्तोफान और अल्कालॉयड जैसे पोषक तत्व मेथी में मोजूद होते है जिससे बालों को  अद्भुत लाभ होता है। यह समय से पहले सफेदी को  रोकता है और बालो के गिरने एवं खोपड़ी के सूखेपन और रूसी को रोकने के लिए सक्चम माना जाता है.यह बाल विकास को बढ़ावा भी देता है और सौन्दर्यता भी बढ़ता है। एक चम्मच मेथी के बीज का पाउडर बना ले। ½ कप नारियल तेल को गरम करे और 5-6 आंवला के टुकड़े कर के उस गरम तेल में दाल दे फिर 5 से 6 मिनट के लिए उबाल आने दें। उसके बाद मेथी पाउडर को तेल में दाल दे और एक मिनट के लिए उबाल आने दें। इसे ठंडा होने दे और अपनी खोपड़ी और बालों पर सोने से पहले लगा ले। सुबह एक हल्के हर्बल शैम्पू के साथ इसे धो ले।

घी के साथ मुलेठी

आप घी का 1 किलो ग्राम, 1 लीटर आंवला रस और 250 ग्राम मुलेठी को सब के साथ मिलकर मंदी आच में गरम कर दे. इस मिश्रण से पानी को भाप बन कर उड़ जाने दे। अब, आपको वह सामग्री प्राप्त होगी जो आप के लिए सर्वश्रेष्ठ है। अब, मिश्रण को एक कांच के डिब्बे में स्टोर कर ले। आप इस हेयर मास्क को बाल धोने के लिए जाने से पहले हर दिन उपयोग कर सकते हैं। यह मास्क आपके बालों के रंग को वापस लाने में बहुत प्रभावशाली साबित होगा।

ऐमारैंथ रस पैक

2 कप ताजा ऐमारैंथ के पत्ते क्रश कर के पानी के साथ अच्छी तरह से धो ले और रस निकाल ले। बालो को शैम्पू कर ले और तौलिये से सूखा ले। निकले हुए रस को सर और बालों पर समान रूप से लागू करें और 5 मिनट के लिए मालिश करे। 30 मिनट के बाद पानी के साथ अच्छी तरह से धो ले।
ऐमारैंथ एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार के रूप में सफ़ेद बालो पर कार्य करता है। ऐमारैंथ की पत्तियों से निकाला रस बालों का समय से पहले सफ़ेद होना रोकता है और पुनर्स्थापित बालो को सफ़ेद होने से रोकने के साथ मेलेनिन नमक एंजाइम के स्तर में सुधार लाने में मदद करता है। इसके अलावा, यह बाल गिरने को रोकने में भी मदद करता है.

आम और आम का पत्थर 

हरा कच्चा आम छिलके सहित मैश कर के बालो में लगाये और सेफ बालो से निजत पाए। आम के पत्थरों से जो तेल तैयार होता है वह सफ़ेद बालो को कम करने और उन्हें फिर से आने पर रोक लगाता है। यह पोषण एक जादुई तरीका है काले चमचमते बालो को फिर से आपसे मिलाने का। यदि आप इसे अपने २० से ३० सालो की उम्र में लागू करते है तो यह पूरी तरह से सफेद बालो एवं रुसी से बचने का बेजोड़ इलाज है.

संतरे के रस का पैक

संतरे का रस स्वस्थ, मोटे और काले बालो के लिए बहुत प्रभावी है। आप मोटे काले बालों के रूप को  पाने के लिए कुछ आंवला संतरे का रस के साथ मिला सकते हैं। पैक तैयार करने के लिए, आप संतरे की लुगदी बना ले और उससे रस पाने के लिए मैश करदे। रस और आंवला पाउडर मिला कर निरंतरता से एक पैक तैयार कर ले। अपने बाल की जड़ों पर विशेष रूप से ध्यान केंद्रित करे और इस पैक को लगा ले। यह शानदार ढंग से बालो को काले और मोटे बनाने के लिए काम करता है।

नींबू का रस और बादाम के तेल की मालिश

खोपड़ी और बालों पर बादाम का तेल के साथ मालिश करने पर बालो को समय से पहले सफ़ेद होने से रोकता है। नींबू में विटामिन बी, सी और फास्फोरस होने से यह बाल के विकास को बढ़ावा देता है और बालों की जड़ों को पोषण देने में सक्चम रहता है। यह बालो के चमक और उनके बढ़ोतरी के लिए बाल ख़ास उपाय है। 2 चम्मच बादाम का तेल और 3 चम्मच नींबू का रस एक कांच के बाउल में अच्छे से मिश्रण कर ले. इसे अच्छी तरह से खोपड़ी और बालों पर मालिश करे और 30 मिनट के बाद एक हल्के शैम्पू के साथ धो ले।

आंवला

आंवला बालो के लगभग सभी तरह के समस्याओ का नेधन करता है। यदि आप भूरे बालों की समस्या का इलाज ढूंढ रहे है और इसे काले बालो से बदलने की कोशिश कर रहे है है तो आंवला पाउडर सबसे अच्छा समाधान मन जाता है। सूखे आंवला पाउडर के दो चम्मच और आधे नीम्बू का मिश्रण कर के इस मिश्रण को धीरे धीरे अपने बालों की जड़ों पर लागा ले। इसे पर्याप्त रूप से अपने सिर पर मालिश करे और हर हिस्से पर मेल, यह एक बहुत महत्वपूर्ण कार्य सिद्ध होगा बालो के विकास के लिए। आप स्नान के लिए जाने से आधे घंटे पहले ऐसा कर सकते हैं।

प्याज और नींबू का रस पैक

प्याज एक सबसे प्रभावी सफ़ेद बाल उपचार है. समय से पहले बालों को सफ़ेद होने से रोकने में मदद करता है। प्याज का रस पुनर्स्थापित सफ़ेद बाल होने से रोकता है। नींबू का रस बालों के लिए एक स्वस्थ चमक बिदा करता हैं और बालो की अत्यधिक चिपचिपाहट होना रोकता . 3 चम्मच प्याज का रस और 2 चम्मच नींबू का रस एक कांच के बाउल में मिश्रण कर ले और खोपड़ी और बालों पर समान रूप से लागू करें। 30 मिनट के बाद एक हल्के हर्बल शैम्पू के साथ धो ले । यह एक हफ्ते में 4 से 5 बार 2 सप्ताह के लिए दोहराएँ।

शिकाकाई शुद्धि

शिकाकाई बालो के शुद्धि के लिए एक प्राकृतिक शैम्पू के रूप में प्राचीन काल से प्रयोग किया गया है और समय से पहले सफ़ेद हो रहे बालों को रोकने के लिए सबसे प्रभावी प्राकृतिक उपचारो में से एक है। शिकाकाई बालो के विकासको उत्तेजित करता है, बाल गिरने से बचाता है और विटामिन सी से भरपूर होने के नाते खोपड़ी से रूसी और खुजली को कम करने और जलन की अत्यधिक सूखापन से निजात दिलाता है। 4-5 शिकाकाई  फली एक चिकनी पाउडर में दरदरा पीस लें। (खट्टा दही 1/2 कप) दही को मथ लीजिये और पाउडर अच्छी तरह से मिलाएं और बालों पर लागू करे। 20 मिनट के बाद पानी से धो ले।
प्राकृतिक उपचार और युवापन लाने में जड़ी बूटियों का उपयोग सिद्ध किया गया है। महंगे उत्पादों कि बाजार में उपलब्धी हैं पर यह शिकाकाई से तुलना में बहुत पीछे है और उपचार प्रभावी रूप में अच्छी तरह से कम महंगे हैं। आप निश्चित रूप से आपके बालों में चमक और गुणवत्ता में सुधार लाने के साथ साथ जेट काले बाल पाने के लिए प्राकृतिक समाधान का उपयोग कर सकते हैं। अलविदा कहे सफ़ेद बालो को क्यूंकि सभी प्राकृतिक सामग्री का उपयोग इन पौष्टिक घरेलू उपचारो के साथ मुमकिन है

बुधवार, 24 अगस्त 2016

बालों को स्ट्रैट करने के लिए बहुमूल्य घरेलू उपचार

बालों को स्ट्रैट करने के लिए बहुमूल्य घरेलू उपचार

ब्यूटी सैलून न केवल आपकी जेब ढीली करते है अथवा सुंदर बालों पर इनके द्वारा किये गए लगातार उपचार बालों को नीरस और बेजान बना देते है। बाल स्ट्रैट अर्थात सीधे रखने के लिए ब्यूटी सैलून हेयर ड्रायर व कई तेलों का प्रयोग करते है और उन अयाल का प्रबंध नियमित रूप से करना आपके लिए आसान नही होता है जिसके कारण आपके स्ट्रैट उतने खूबसूरत नजर नही आते है जितने पहले दिन आपके नजर आते है। 

अगर आप भी ब्यूटी सैलून में स्ट्रैट बाल करने की योजना बना रही है तो आप अपने पैसों को बर्बाद होने से बचा सकती है। आपकी रसोई में कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ है जिनको हमारे सुझावों के साथ प्रयोग में ला कर बहुत प्रभावी रूप से घुंगराले उलझे बालों को स्ट्रैट अर्थात सीधा कर सकती है और इन घरेलू उपचारों से स्ट्रैट हेयर के साथ-साथ आपको नरम और चमकदार बाल प्राकृतिक रूप से प्राप्त होंगे जो अधिक समय तक कायम रहेगा। 

फ्रूट पैक : 

हर फल आपके स्वास्थ्य को किसी ना किसी रूप से लाभ जरुर पहुंचाता है लेकिन कुछ फल ऐसे होते है जो बालों पर चमत्कारिक रूप से काम करते है। हेयर को स्ट्रेट करने के लिए स्ट्रॉबेरी या केले को क्रश करके उसमे शहद को मिश्रित कर दें। अब बालों के लिए बने इस फ्रूट पैक को अपने हेयर पर अच्छी तरह से लगायें और फिर पेस्ट सूखने तक की प्रतीक्षा करें। जब पेस्ट बालों पर सूख जाएं तो आप इसे साफ़ पानी से धो लें नियमित रूप से इस फ्रूट पेस्ट का उपयोग करने से निश्चित रूप से आपके हेयर को स्ट्रेट और चमकदार हो जायेंगे।

अंडे और ऑलिव ऑयल का लाभ लें : 

बालों की देखभाल में अंडे के रहस्य आज किसी से भी छुपा नही है लेकिन अंडे और ऑलिव ऑयल संयुक्त रूप से क्या कर सकते है यह बहुत कम लोग जानतें है। बालों को स्ट्रेट बनाने के लिए दो अंडे के अंदर ऑलिव ऑयल को शामिल करें और उसके बाद उनको अच्छी तरह से मिला कर एक मिश्रण बना लें। मिश्रण तैयार होने के बाद इसे अपने सुंदर बालों पर लगा कर कम से कम एक घंटे के लिए छोड़ दें और उसके बाद शैम्पू से अच्छी तरह धो लें। बाल धोने के बाद आप इसके परिणाम देखकर बेहद खुश हो जायेंगी।

मुल्तानी मिट्टी : 

अकसर लोग मानतें है मुल्तानी मिट्टी सिर्फ त्वचा पर ही अधिक असरदार है लेकिन अगर बालों पर इसका प्रयोग किया जाएँ तो यह उनको स्ट्रैट करने में भी मदद कर सकती है। बालों पर मुल्तानी मिट्टी का लाभ लेने के लिए चावल आटे के दो बड़े चम्मच,एक सफेद अंडा शामिल करें। पेस्ट को बालों पर स्थिर बनाने के लिए आप इसमें पानी भी मिला सकती है और उसके बाद पैक को 30 मिनट के लिए लगायें। पेस्ट लगाते समय बेहतर परिणाम के लिए बालों पर कंघी चलाते रहे और आप चाहे तो प्रक्रिया को दो बार दोहराया जा सकता है। पैक लगाने के बाद साफ़ पानी से बालों को धो लें। धोने के बाद आप अच्छे लहराते सीधे बाल पाएंगी और इस बात का हमें पूर्ण विश्वास है।

बालों को हर्ब उपचार से दे राहत : 

विभिन्न जड़ी बूटी से बने तेलों और स्पा प्रक्रियाओं में लाभों के बारें में तो आपने अकसर सुना होगा लेकिन अगर इनका उपयोग कच्चे रूप में किया जाएं तो उनके लाभ देकर आप खुद हैरान हो जायेंगी। आप अपने बालों के लिए हर्बल उपचार तैयार करने के लिए कैमोमाइल, लैवेंडर, देवदार की लकड़ी, कैलेंडुला और चंदन जैसी जड़ी बूटियों को चुन सकती है। बस पानी के दो कप में इन जड़ी बूटियों को अच्छी तरह से उबाल ले उसके बाद कम से कम पांच चम्मच जड़ी बूटी का पानी लेकर उसमें सिरके का एक चम्मच जोड़ दें। अब पूर्ण रूप से प्रयोग के लिए तैयार इस मिश्रण को कंडीशनर के स्थान पर प्रयोग कर सकती है। निश्चित रूप से इस हर्ब उपचार से बालों से अच्छी खुशबू तो आयेगी साथ में आपके उलझन वाले बाल स्ट्रैट भी हो जाएगे। इस पैक का उपयोग करते समय आपको ध्यान रखना पड़ेगा कि इस प्रयोग कंडीशनर के साथ ना करें अगर आप कंडीशनर का प्रयोग कर चुकी है तो इसके उपयोग की जरूरत नही है।

अपने बालों को तेल से पोषण दें : 

अकसर बड़े बुर्जग बालों पर तेल इस्तेमाल करने की सलाह देते है लेकिन दुर्भाग्य है उन बालों का जो उनकी सलाह पर ध्यान नही देते है इसलिए अगर आप चाहती है बाल सुंदर चमकदार और स्ट्रैट रहे तो बालों पर नियमित रूप से नारियल जैतून और बादाम के तेल से अच्छी तरह मालिश करें और फिर गर्म तौलिया लपेट लें। 45 मिनट बाद जब आप अपने बाल धो लें। बाल धोने के बाद आप महसूस करेंगी आपके बाल चमकदार स्ट्रैट और सिल्की हो जायेंगे।

स्ट्रैट बालों के लिए कृत्रिम सैलून उपचार की तुलना में घरेलू उपचार काफी बेहतर होता है लेकिन इसमें जो तकलीफ की बात यह है कि एक सैलून की तरह इस का परिणाम तत्काल नही मिलता है लेकिन कम से कम एक महीने की प्रतीक्षा की जाएँ तो और नियमित रूप से इन नियमों का पालन किया जाएं तो अधिक समय के लिए बिना बालों को नुक्सान पहुचाएं सुदंर स्ट्रैट बाल प्राप्त किये जा सकते है।

तो महंगे ब्यूटी सैलून और महंगे प्रोडक्ट को बाय बाय कर दे और घर बैठे अपने बालों को स्ट्रैट शेप दें।

गुरुवार, 29 दिसंबर 2016

बालों की देखभाल के लिए आयुर्वेदिक टिप्स

बालों की देखभाल के लिए आयुर्वेदिक टिप्स

चाहे महिला हो या पुरुष दोनों को ही अपने बालों से बेहद लगाव होता है। बालों की सुंदरता के लिए हम-आप बाजार में उपलब्ध कई तरह के सौंदर्य उत्पादों का इस्तेमाल करते हैं। मगर इन सौंदर्य उत्पादों में मौजूद केमिकल बाल की जड़ों को कमजोर करते हैं।

बालों की सुंदरता यानि बालों का काला, घना, लंबा और रेशमी होना तभी संभव है जब बालों की जड़ मजबूत हो। बालों की जड़ को मजबूती आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों, तेल और औषधियों से मिलती है। बालों की संपूर्ण देखभाल के लिए आयुर्वेद में कारगर उपायों का खजाना है। आइए जानते हैं बालों की देखभाल के लिए आयुर्वेद के कारगर टिप्स।

काले बालों के लिए आयुर्वेदिक टिप्स

शिकाकाई और आंवला

लंबे और रेशमी बालों के लिए शिकाकाई और आंवले से बालों को धोएं। शिकाकाई और सूखा आंवला बराबर मात्रा में लें। रात में दोनों को पानी में भींगने के लिए छोड़ दें। सुबह पानी को कपड़े से छान कर निकाल लें। अब इस पानी को सिर पर मलें और बालों को धोएं। बालों के सूखने के बाद इनमें नारियल तेल लगाएं। इस विधि को आजमाने से बाल काले, घने और लंबे होते हैं।

भृंगराज

भृंगराज को भली-प्रकार काटकर बारीक बनाया हुआ चूर्ण और काले तिल को बराबर मात्रा में मिलाएं। रोज़ सुबह के समय एक चम्मच यह चूर्ण खूब चबाकर खाएं और उपर से ताजा पानी पी लें। लगातार छह महीने इसे आजमाने से समय से पहले बालों का पकने और झड़ने की शिकायत से छुटकारा मिल जाएगा। केश काले, घने और चमकदार होंगे।

दही का शैंपू

साबुन के स्थान पर 100 ग्राम दही में थोड़ी सी काली मिर्च मिलाकर हफ्ते में इससे बालों को धोएं। इससे बाल काले होते हैं, झड़ने बंद होते हैं और बालों का सौंदर्य खिल उठता है।

नींबू का शैंपू 
 
मटमैले बालों को काला बनाने के लिए नींबू का रस निचोड़ कर उसमें दो कप गर्म पानी डालें। बालों को गीला करने के बाद इस नींबू के शैंपू को सिर में डालकर रगड़ें। याद रखें ऐसा करने के बाद बालों को पानी से न धोएं, तौलिए से बाल सुखाएं। कुछ देर बाद सूर्य की धूप में बैठकर कंघी से केश संवारें। हफ्ते में दो-तीन बार ऐसा करने से बाल स्वाभाविक रुप से काले होते हैं।

बालों में निखार के लिए आयुर्वेदिक नैचुरल शैंपू

मुल्तानी मिट्टी शैंपू

मुल्तानी मिट्टी 100 ग्राम एक कटोरी में लेकर पानी में भिगों दें। जब दो घंटे में यह फूलकर लुगदी सी बन जाए तो हाथ से मसल कर गाढ़ा घोल बना लें। इस गाढ़े घोल को सूखे बालों में ही डाल कर मुलायम हाथों से धीरे-धीरे रगड़ें। पांच मिनट बाद सर्दियों में गुनगुने और गर्मी में ठंडे पानी से धो लें। इस प्रकार साबुन की जगह मुल्तानी मिट्टी से बालों को हफ्ते में दो बार धोने से उसमें जबरदस्त निखार आता है और बाल रेशम के समान मुलायम और लंबे हो जाते हैं।

बेसन का शैंपू

साबुन की जगह हफ्ता मे दो बार बेसन को पानी मे घोल कर बालों में लगाए, फिर एक घंटे बाद धोएं। ऐसा करने से बाल काले, घने और लंबे होंगे। बालों की हर तरह की गंदगी साफ होकर चमकीले और मुलायम होंगे। सिर की खाज और फुंसियां भी जल्दी ठीक होंगी।

रीठे की शैंपू

रात में रीठे के छिलके छोटे-छोटे टुकड़े कर पानी में भिंगों दें। सुबह उस पानी को उबाल कर या मसल कर सिर धोने से बाल काले, घने और लंबे होते हैं। याद रहे इससे बालों को पहले थोड़ा गुनगुना पानी डाल कर धोएं। उसके बाल रीठे के पानी की घोल आधी मात्रा सिर पर डालकर बालों को पांच-दस मिनट तक मलें और उसके बाद धो डालें।

सफेद या झड़ते बालों के लिए आयुर्वेदिक टिप्स

आंवला चूर्ण

बालों की सफेदी रोकने के लिए केश में आंवला चूर्ण का लेप लगाएं। सूखे आंवले के चूर्ण को पानी के साथ मिला कर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को लेप की तरह केश में लगा लें। दस मिनट बाद बालों को पानी से धो लें। इससे बालों का सफेद होना बंद हो जाता है। झड़ना-टूटना भी बंद होता है।

विकल्प एक- आंवला चूर्ण को रात भर पानी में भिंगों कर रखें। सुबह इस  आंवले के पानी से बाल धो लें। केश आंवला जल से धोने से पहले रात में केश में आंवला तेल से मालिश कर लें।

विकल्प दो- एक चम्मच आंवला चूर्ण दो घूंट पानी के साथ सोते समय पीना भी बेहतर रहेगा।

विकल्प तीन- नियमित रुप से दोनों हाथ की उंगलियों के नाखूनों को आपस में रोजाना 5-5 मिनट तक रगड़ें। इस प्रयोग के नियमित अभ्यास से बालों का सफेद होना रुक जाता है। केशों का झड़ना भी बंद हो जाता है। बाल काले व घने होने लगते हैं।

बालों में रुसी के लिए आयुर्वेदिक टिप्स
करीब 100 ग्राम नारियल का तेल और 5 ग्राम कपूर मिला कर किसी बोतल में रख लें। दिन में दो बार स्नान करने के बाद जब बाल पूरी तरह सूख जाए तो सिर में इससे मालिश करें। रात में भी सोते समय बालों की मालिश इस तेल से करें। डैंड्रफ झड़ कर गिर जाएंगे।

विकल्प एक- नीम के पत्तों का रस व 100 ग्राम तिल का तेल लेकर दोनों को धीमा आंच पर पकाएं। जब रस जल जाए और तेल शेष रह जाए तो तब तेल को छानकर रख लें। इस तेल को बालों में लगाएं, डैंड्रफ गिरने लगेगा और बालों का झड़ना बंद हो जाएगा।

विकल्प दो- बाल धोने से आधा घंटा पहले एक नींबू काटकर मलने और फिर गुनगने पानी से केश धोने से सिर की रुसी साफ हो जाती है।

शनिवार, 3 सितंबर 2016

कड़ी पत्ता से मिलेंगे लंबे और चमकदार बाल

कड़ी पत्ता से मिलेंगे लंबे और चमकदार बाल


आज हम आपको ज्यादातर हर घर में पाई जाने वाली करी पत्ते के बारे में बताने जा रहे हैं। इसको मीठी नीम के नाम से भी जाना जाता है। जिसे लोग खाने में स्वाद लाने के लिए तड़के में रुप में इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है की इसमे कई प्रकार के औषधिए गुण भी होते हैं। जिनके कई स्वास्थ्य लाभ भी है। इसके अलावा यह बालों में सुधार लाने में कितनी मददगार है। आपने भी देखा होगा की खराब लाइफस्टाइल या फिर सही समय पर खाना ना खाने के कारण हमारे शरीर को पूर्ण पोषण नहीं मिल पाता है। जिस वजह से हमारे बालों की समस्याएं शुरू हो जाती है। लेकिन आज हम आपको करी पत्ते के प्रयोगों के बारे में बताएं। जिनसे आपके बालों में चमक के साथ एक नयी जान आ जाएगी। साथ ही इससे आपके बाल भी बढ़ने लगेंगे।

A. हेयर टॉनिक के रूप में करी पत्तियों का इस्तेमाल :

करी पत्ते का इस्तेमाल बालों के लिए एक प्राकृतिक टॉनिक के रूप में भी किया जा सकता है। यह एक उत्कृष्ट टॉनिक है जो कि बालों को अंदर से आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करके उनके विकास को बढ़ावा देने के रूप में काम करता है। इसके इस्तेमाल से बाल काफी तेजी से बढ़ते हैं। साथ ही बालों से संबंधित कई समस्याओं से भी यह निजात दिलाता है। तो चलिए बताते हैं आपको इसे कैसे इस्तेमाल करना चाहिए।

हेयर टॉनिक के रूप में कैसे इस्तेमाल करें…
• एक कटोरी में सबसे पहले कुछ करी पत्ते लें और उसमें पानी डालकर उबालने के लिए रख दें।
• जब तक पानी हरे रंग का ना हो जाए तब तक उसे उबालते रहें।
• इसके बाद उस हरे पानी को एक एक टॉनिक के रूप में सिर पर मालिश करने के लिए इस्तेमाल करें।
• इस प्रकिया को आप सप्ताह में दो बार दोहरा सकता है।
• आपको दो सप्ताह के अंदर ही अंतर दिखने लगेगा।

B. हेयर मास्क के रूप में करी पत्तियों का इस्तेमाल :

करी पत्ते का इस्तेमाल आप हेयर मास्क के रूप में भी कर सकती हैं। इससे आपके बाल चमकदार होने के साथ-साथ खूबसूरत बनते हैं। इसके अंदर बालों को मॉइस्चराइजिंग करने वाले कई गुण मौजूद होते हैं। जो बालों को गहराई से साफ करते है और बढ़ाने के साथ-साथ मजबूत बनाते हैं।

हेयर मास्क के रूप में कैसे इस्तेमाल करे…

विधि-1
• एक कटोरी में सबसे पहले करी पत्ते लें और उसमे दही और शिकाकाई मिलाएं।
• फिर इसको पीसकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
• उसके बाद इसे बालों पर एक मास्क की तरह लगाएं या फिर मालिश करें।
• 15 मिनट तक फिर इस पेस्ट को बालों पर ऐसा ही लगा छोड़ दें।
• उसके बाद इसे हल्के शैम्पू की मदद से धो लें।
विधि-2
• करी पत्ते के साथ उसमें मेथी के बीजों को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
• फिर इसे हेयर मास्क की तरह अपने बालों पर अप्लाई करें।
• इसे कम से कम 2 घंटे तक अपने बालों पर ऐसा ही लगे रहने दें।
• फिर हल्के शैम्पू की मदद से बालों को धो लें।
• यह हेयर मास्क आपके बालों को सॉफ्ट, हेल्दी और चमकदार बनाने का काम करेगा
विधि -3
• करी पत्ते के साथ दही और नीम मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
• फिर इसे अपने बालों पर हेयर मास्क की तरह लगाएं या मालिश करें।
• उसके बाद कम से कम इसे बालों पर 10 से 15 मिनट के लिए लगा कर छोड़ दें
• जब यह सूख जाए तो इसे हल्के शैम्पू की मदद से धो लें।

C. हेयर ऑयल के रूप में करी पत्ते का इस्तेमाल :

करी पत्ता बालों के लिए कई तरह से लाभदायक है,खासकर के अत्यधिक भूरे रंग के बालों के लिए, रुखे बालों के लिए यह बेहद फायदेमंद है। यह जरूरी पोषक तत्वो है जो बालों के लिए बेदह जरुरी है।

हेयर ऑयल के रूप में कैसे इस्तेमाल करे…
• करी पत्तों को सुखाने के बाद नारियल का आधा कप तेल लें।
• उसके बाद इन दोनों को मिलाकर 2 से 3 मिनट के लिए उबाल लें
• फिर जब यह ठंडा हो जाए तो बालों पर इसकी मालिश करें।
• फिर इसे 30 मिनट तक के लिए अपने बालों पर लगा कर छोड़ दें
• फिर एक हल्के शैम्पू की मदद से धो लें।

मंगलवार, 30 अगस्त 2016

जूंओं से निजात पाने के 8 प्रभावी तरीके

जूंओं से निजात पाने के 8 प्रभावी तरीके

जूं वह छोटे परजीवी होते हैं जो मनुष्य के स्केल्प पर मेजबान होकर उनकी खोपड़ी में से सारा खून फीड कर लेती हैं। आमतौर पर यह समस्या बच्चों में पाई जाती हैं क्योंकि यह संक्रमित होकर पैदा होती हैं। एक ही स्कूल, ऑफिस में ऐसे लोगों से संपर्क करके जिनके सिर पर जूं हैं, ऐसा करने से यह आपके सिर पर भी हो जाती है। एक साथ सोने, बाल ब्रश या कंघी इस्तेमाल करने से भी यह समस्या हो जाती है। जूं के मुख्य लक्षण खुजली और स्केल्प में लाल धब्बे होते हैं।

जुएं बहुत तेजी से बालों में बढ़ती जो आपकी मुश्किले बढ़ा देता हैं। लेकिन हमारे पास आपके लिए कुछ घरेलू उपचार हैं जिसकी मदद से आप जुएं और लीखों को आसानी से सर से निकाल पाएंगे। जानिए इससे जुड़ी 8 घरेलू उपचार…

1 सिरका :

सिरके में होने वाला एसिटिक एसिड जूं को मारने में मदद करता है साथ ही जूंए और लीखों को निकाल कर बालों से अलग करता है। सिरके के इस्तेमाल से जूंए और लीखों से आसानी से छुटकारा मिल जाता है। इसके लिए आपको नारियल तेल और सिरका को बराबर भागों में मिक्स कर लेना चाहिए। इसके बाद इसे आप अपने स्केल्प पर लगाकर रात भर के लिए छोड़ दें। इसके बाद अगले दिन आप अपने बालों को अच्छे से धो लें और एक पतली दांत वाली कंघी से कंघी करके जूओं और लीखों को बालों से अलग कर सकती हैं।

2.  प्याज का रस :

प्याज में सलफर की मात्रा ज्यादा होती हैं जिससे जुएं मर जाते हैं। बालों की लंबाई के अनुसार आप 3 से 4 छिले हुए प्याज लें और पतला पेस्ट बनाने के लिए उसे ग्राइंड कर लें फिर छलनी की मदद से उसका सारा रस निकाल लें। इसके बाद इसमें बराबर मात्रा में सरसों और नारियल का तेल मिला लें फिर रुई की मदद से इसे स्केल्प पर लगा लें और अच्छी तरह से बालों की मसाज कर लें। रात भर बालों को ऐसे ही छोड़ दें और अगले दिन अपना सर धो लें फिर पतली कंगी से सर कॉम्ब करें ताकि आपको जुओं से छुटकारा मिल सकें।

3.  नींबू :

नींबू में सिटरिक एसिड़ मौजूद होने की वजह से एसीडिक होता हैं और इसका एसीडिक नेचर जुओं से छुटकारा दिलाता हैं। बालों की लंबाई के अनुसार 2.3 नींबू का रस निकाल लें और उतना ही सरसों का तेल मिक्स कर लें फिर सर की मसाज करें और रातभर इसे छोड़ दें और जिस शैम्पू का आप इस्तेमाल करती हैं उससे सर धो ले। फिर पतली कंघी के इस्तेमाल से जुएं और लीखे आसानी से निकल जाएंगी।
नींबू को आप कुटी हुई लहसुन के साथ भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 2.3 नींबू का रस निकाल कर कुटी हुई लहसुन को अच्छे से मिला लें। इसके बाद इसे 30 से 40 मिनट के लिए शावर कैप से सर कवर कर लें। फिर हल्के गीले बालों को कंगी से कॉम्ब कर लें।

4.  नारियल का तेल :

नारियल का तेल जुओं और लीखों का मारता नहीं हैं लेकिन इससे जुएं हिल नहीं पाती हैं। रात भर शावर कैप से ढके रहने पर ये घुट कर मर जाती हैं। इसके लिए नारियल का तेल गैस पर गर्म करें और इसमें कपूर का चूरा मिला लें। अगली सुबह आप कंघी से बालों को कॉम्ब करें इससे वो अपने आप निकल जाएंगी।

5. आलिव ऑयल :

आलिव ऑयल में जूं मारने के गुण तो नहीं होते लेकिन जब इसे बालों में लगाकर पूरी रात के लिए रख दिया जाता है तो ऐसे में आलिव ऑयल से जूं खत्म हो जाती है। इसको इस्तेमाल करने के लिए आपको आलिव  ऑयल को अपने बालों में लगाकर अच्छे से मसाज करनी चाहिए और इसके बाद सिर को एक शॉवर बैग से ढग कर रख दें। अगले दिन बालों को शैम्पू करके आप पतली दांत वाली कंघी से अपने बालों पर कंघी करें, ऐसा करने से जूंए बाहर निकल आएंगी।

6.  मेयोनीज :

आलिव ऑयल की तरह आप मेयोनीज का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।  मेयोनीज के इस्तेमाल से आसानी से लीखें और जूं बाहर निकल आती हैं। इसके लिए आपको अपने स्केल्प पर अच्छे से मेयोनीज लगाना चाहिए, इसके बाद रातभर के लिए सिर को ढक कर सो जाएं और अगले दिन सुबह उठते ही बालों को अच्छे से धो लें। इसके बाद गीले बालों में ही पतली दांत वाली कंघी की मदद से बालों को कंघी करें। इससे जूं खत्म हो जाएगी।

7. टी ट्री ऑयल :

टी ट्री ऑयल को उसके माइक्रोबियल, एंटीवायरल और जीवाणुरोधी गुणों के लिए जाना जाता है। यह जूं और लीखों से काफी आसानी से  छुटकारा दिलाता है। इस बात को भी माना गया है कि टी ट्री की कुछ बूंदों के इस्तेमाल से आप जूं और लीखों से निजात पा सकती हैं।

टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर जूंओ से निजात पाने के लिए आपको  कैरियर ऑयल और टी ट्री ऑयल को एक तिहाई के मात्रा में मिक्स कर अपने बालों में मिक्स कर अपने बालों की मसाज कर सकती हैं। इसके बाद इसे 40 मिनट के लिए अपने बालों में ही लगा रहने दें और इसके बाद बालों को अच्छे से धो लें। इसके बाद आप एक मोटी दांत वाली कंघी का इस्तेमाल कर अपने बालों को जूं से छुटकारा पाने के लिए प्रयोग कर सकती हैं।  टी ट्री को इस्तेमाल करने का एक और आसान तरीका यह है कि आप इसे अपने शैम्पू में भी मिक्स करके इस्तेमाल कर सकती हैं। आप या तो टी ट्री को अपने शैम्पू में मिक्स करके इस्तेमाल कर सकती हैं या तो आप शैम्पू के बाद अपने गीले बालों में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें भी जोड़ सकती हैं। इस विधि का नियमित प्रयोग कर आप जूं और लीखों से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।

8. जूं कंघी :

जूं कंघी का इस्तेमाल करने के लिए आप जूं और लीखों से छुटकारा पा सकती हैं। यह कंघी विशेष रूप से केवल जूंओं और लीखों को निकालने के लिए ही बनाई गई है और यह बाजार में भी आसानी से उपलब्ध होती है।

घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करने के लिए रखें इन बातों का ख्याल

• यह फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन से उपचार का इस्तेमाल कर रही हैं लेकिन उसी उपचार को तब तक अपनाएं जब तक आपको यह ना लगे कि आपकी जूंए कम हो गई हैं। इससे आपके बालों में जूं और लीखें खत्म हो जाएंगी।
• एक और बात जो आपको ध्यान देनी चाहिए वह यह है कि आपको इन सभी उपचारों का इस्तेमाल करने के बाद अपने सिर को ढक कर रख दें। इससे ऑक्सीजन की आपूर्ति कम हो जाएगी और केवल सीमित मात्रा में हवा सिर पर रहेगी। इस तरह से जूंओं को घुटन हो जाएगी और उन्हें आसानी से साफ किया जाएगा।
• जूं एक इंसान से दूसरे को फैल जाती हैं। अगर आप किसी ऐसे इंसान के साथ सोते हैं जिसके सिर में जूं हो या फिर आप उसकी कंघी, ब्रश, तौलिए को शेयर करते हैं तो आपको भी जूंए हो सकती हैं। इसलिए आपको किसी की निजी वस्तुओं को नहीं छुना चाहिए।
• आपको यह बात बता दें कि परिवार के एक सदस्य के बालों में जुए पड़ने से परिवार में मौजूद और लोगों को भी अपने बालों के लिए इलाज करना चाहिए। जुए काफी तेजी से फैलती हैं।
• सरसों के तेल, मेयोनीज आदि को मिक्स करके बालों में लगाने से यह आसानी से नहीं निकाल पाते तो इससे बेहतर है कि आप दो चम्मच बर्तन धोने वाला साबून को अपने शैम्पू में मिक्स करके उससे बाल धोए।
• एक अन्य महत्वपूर्ण टिप यह है कि आपको अपने कंघी का इस्तेमाल करने के बाद इसे अच्छी तरह से साफ करना चाहिए। इसी के साथ इसे किसी और के साथ शेयर करने से भी बचना चाहिए।

सोमवार, 7 नवंबर 2016

यदि आप सिर के जुओ से परेशान है तो अपनाये ये घरेलू उपाय

यदि आप सिर के जुओ से परेशान है तो अपनाये ये घरेलू उपाय


जी हाँ हर कोई महिला अपने सिर में पड़ने वाले जुओ से परेशान होती है। यदि आप भी इसी समस्या से गुजर रही है तो अब आपको घबराने की जरुरत नहीं है क्योकि आज हम आपको बता रहे ऐसे कुछ घरेलु उपाय जिन्हें अपनाकर आप आसानी से जुओ की छुट्टी कर सकती है।

जूं वह छोटे परजीवी होते हैं जो मनुष्य के स्केल्प पर मेजबान होकर उनकी खोपड़ी में से सारा खून फीड कर लेती हैं। आमतौर पर यह समस्या बच्चों में पाई जाती हैं क्योंकि यह संक्रमित होकर पैदा होती हैं। एक ही स्कूल, ऑफिस में ऐसे लोगों से संपर्क करके जिनके सिर पर जूं हैं, ऐसा करने से यह आपके सिर पर भी हो जाती है। एक साथ सोने, बाल ब्रश या कंघी इस्तेमाल करने से भी यह समस्या हो जाती है। जूं के मुख्य लक्षण खुजली और स्केल्प में लाल धब्बे होते हैं।

जुएं बहुत तेजी से बालों में बढ़ती जो आपकी मुश्किले बढ़ा देता हैं। लेकिन हमारे पास आपके लिए कुछ घरेलू उपचार हैं जिसकी मदद से आप जुएं और लीखों को आसानी से सर से निकाल पाएंगे। जानिए इससे जुड़ी 8 घरेलू उपचार…
1 सिरका :
सिरके में होने वाला एसिटिक एसिड जूं को मारने में मदद करता है साथ ही जूंए और लीखों को निकाल कर बालों से अलग करता है। सिरके के इस्तेमाल से जूंए और लीखों से आसानी से छुटकारा मिल जाता है। इसके लिए आपको नारियल तेल और सिरका को बराबर भागों में मिक्स कर लेना चाहिए। इसके बाद इसे आप अपने स्केल्प पर लगाकर रात भर के लिए छोड़ दें। इसके बाद अगले दिन आप अपने बालों को अच्छे से धो लें और एक पतली दांत वाली कंघी से कंघी करके जूओं और लीखों को बालों से अलग कर सकती हैं।
2.  प्याज का रस :
प्याज में सलफर की मात्रा ज्यादा होती हैं जिससे जुएं मर जाते हैं। बालों की लंबाई के अनुसार आप 3 से 4 छिले हुए प्याज लें और पतला पेस्ट बनाने के लिए उसे ग्राइंड कर लें फिर छलनी की मदद से उसका सारा रस निकाल लें। इसके बाद इसमें बराबर मात्रा में सरसों और नारियल का तेल मिला लें फिर रुई की मदद से इसे स्केल्प पर लगा लें और अच्छी तरह से बालों की मसाज कर लें। रात भर बालों को ऐसे ही छोड़ दें और अगले दिन अपना सर धो लें फिर पतली कंगी से सर कॉम्ब करें ताकि आपको जुओं से छुटकारा मिल सकें।
3.  नींबू :
नींबू में सिटरिक एसिड़ मौजूद होने की वजह से एसीडिक होता हैं और इसका एसीडिक नेचर जुओं से छुटकारा दिलाता हैं। बालों की लंबाई के अनुसार 2.3 नींबू का रस निकाल लें और उतना ही सरसों का तेल मिक्स कर लें फिर सर की मसाज करें और रातभर इसे छोड़ दें और जिस शैम्पू का आप इस्तेमाल करती हैं उससे सर धो ले। फिर पतली कंघी के इस्तेमाल से जुएं और लीखे आसानी से निकल जाएंगी।
नींबू को आप कुटी हुई लहसुन के साथ भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 2.3 नींबू का रस निकाल कर कुटी हुई लहसुन को अच्छे से मिला लें। इसके बाद इसे 30 से 40 मिनट के लिए शावर कैप से सर कवर कर लें। फिर हल्के गीले बालों को कंगी से कॉम्ब कर लें।
4.  नारियल का तेल :
नारियल का तेल जुओं और लीखों का मारता नहीं हैं लेकिन इससे जुएं हिल नहीं पाती हैं। रात भर शावर कैप से ढके रहने पर ये घुट कर मर जाती हैं। इसके लिए नारियल का तेल गैस पर गर्म करें और इसमें कपूर का चूरा मिला लें। अगली सुबह आप कंघी से बालों को कॉम्ब करें इससे वो अपने आप निकल जाएंगी।
5. आलिव ऑयल :
आलिव ऑयल में जूं मारने के गुण तो नहीं होते लेकिन जब इसे बालों में लगाकर पूरी रात के लिए रख दिया जाता है तो ऐसे में आलिव ऑयल से जूं खत्म हो जाती है। इसको इस्तेमाल करने के लिए आपको आलिव  ऑयल को अपने बालों में लगाकर अच्छे से मसाज करनी चाहिए और इसके बाद सिर को एक शॉवर बैग से ढग कर रख दें। अगले दिन बालों को शैम्पू करके आप पतली दांत वाली कंघी से अपने बालों पर कंघी करें, ऐसा करने से जूंए बाहर निकल आएंगी।
6.  मेयोनीज :
आलिव ऑयल की तरह आप मेयोनीज का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।  मेयोनीज के इस्तेमाल से आसानी से लीखें और जूं बाहर निकल आती हैं। इसके लिए आपको अपने स्केल्प पर अच्छे से मेयोनीज लगाना चाहिए, इसके बाद रातभर के लिए सिर को ढक कर सो जाएं और अगले दिन सुबह उठते ही बालों को अच्छे से धो लें। इसके बाद गीले बालों में ही पतली दांत वाली कंघी की मदद से बालों को कंघी करें। इससे जूं खत्म हो जाएगी।
7. टी ट्री ऑयल :
टी ट्री ऑयल को उसके माइक्रोबियल, एंटीवायरल और जीवाणुरोधी गुणों के लिए जाना जाता है। यह जूं और लीखों से काफी आसानी से  छुटकारा दिलाता है। इस बात को भी माना गया है कि टी ट्री की कुछ बूंदों के इस्तेमाल से आप जूं और लीखों से निजात पा सकती हैं।

टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर जूंओ से निजात पाने के लिए आपको  कैरियर ऑयल और टी ट्री ऑयल को एक तिहाई के मात्रा में मिक्स कर अपने बालों में मिक्स कर अपने बालों की मसाज कर सकती हैं। इसके बाद इसे 40 मिनट के लिए अपने बालों में ही लगा रहने दें और इसके बाद बालों को अच्छे से धो लें। इसके बाद आप एक मोटी दांत वाली कंघी का इस्तेमाल कर अपने बालों को जूं से छुटकारा पाने के लिए प्रयोग कर सकती हैं।  टी ट्री को इस्तेमाल करने का एक और आसान तरीका यह है कि आप इसे अपने शैम्पू में भी मिक्स करके इस्तेमाल कर सकती हैं। आप या तो टी ट्री को अपने शैम्पू में मिक्स करके इस्तेमाल कर सकती हैं या तो आप शैम्पू के बाद अपने गीले बालों में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें भी जोड़ सकती हैं। इस विधि का नियमित प्रयोग कर आप जूं और लीखों से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।
8. जूं कंघी :
जूं कंघी का इस्तेमाल करने के लिए आप जूं और लीखों से छुटकारा पा सकती हैं। यह कंघी विशेष रूप से केवल जूंओं और लीखों को निकालने के लिए ही बनाई गई है और यह बाजार में भी आसानी से उपलब्ध होती है।

घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करने के लिए रखें इन बातों का ख्याल

• यह फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन से उपचार का इस्तेमाल कर रही हैं लेकिन उसी उपचार को तब तक अपनाएं जब तक आपको यह ना लगे कि आपकी जूंए कम हो गई हैं। इससे आपके बालों में जूं और लीखें खत्म हो जाएंगी।
• एक और बात जो आपको ध्यान देनी चाहिए वह यह है कि आपको इन सभी उपचारों का इस्तेमाल करने के बाद अपने सिर को ढक कर रख दें। इससे ऑक्सीजन की आपूर्ति कम हो जाएगी और केवल सीमित मात्रा में हवा सिर पर रहेगी। इस तरह से जूंओं को घुटन हो जाएगी और उन्हें आसानी से साफ किया जाएगा।
• जूं एक इंसान से दूसरे को फैल जाती हैं। अगर आप किसी ऐसे इंसान के साथ सोते हैं जिसके सिर में जूं हो या फिर आप उसकी कंघी, ब्रश, तौलिए को शेयर करते हैं तो आपको भी जूंए हो सकती हैं। इसलिए आपको किसी की निजी वस्तुओं को नहीं छुना चाहिए।
• आपको यह बात बता दें कि परिवार के एक सदस्य के बालों में जुए पड़ने से परिवार में मौजूद और लोगों को भी अपने बालों के लिए इलाज करना चाहिए। जुए काफी तेजी से फैलती हैं।
• सरसों के तेल, मेयोनीज आदि को मिक्स करके बालों में लगाने से यह आसानी से नहीं निकाल पाते तो इससे बेहतर है कि आप दो चम्मच बर्तन धोने वाला साबून को अपने शैम्पू में मिक्स करके उससे बाल धोए।
• एक अन्य महत्वपूर्ण टिप यह है कि आपको अपने कंघी का इस्तेमाल करने के बाद इसे अच्छी तरह से साफ करना चाहिए। इसी के साथ इसे किसी और के साथ शेयर करने से भी बचना चाहिए।

तो आइये जानते है वे घरेलू उपचार

1. अमरूद के पत्ते
अमरुद के पत्तों को पीसकर हल्दी के साथ मिलाकर मिश्रण बना लें और नहाने से दो घंटे पहले सिर पर अच्छे से लगाएं। इससे जुएं मर जाएगी।
2. नीम
नीम के पत्तों को पीसकर नहाने से पहले सिर पर 2 घंटे के लिए लगाने से भी जुओं से छुटकारा मिलता है।
3. तुलसी के पत्ते
तुलसी के पत्तों कोे पीसकर बालों में लगाकर सिर पर कपड़ा बांध लें। इससे सारी जुएं मर जाएगी और कपड़े पर चिपक जाएगी। इस 2-3 बार लगातार लगाएं।
4. काली मिर्च और दही
आधा चम्मच काली मिर्च का पाऊडर,एक कप दही दो चम्मच नींबू के रस मिलाकर नहाने से 20 मिनट पहले सिर पर लगाएं और धो लें। इस बात का पूरा ध्यान रखें कि नहाते वक्त आंखें बंद रखें।
5. नींबू
नींबू का रस नारियल का तेल मिलाकर सिर पर लगाने से भी जुएं मर जाती हैं।
6. नीम और तुलसी के पत्ते
इन पत्तों को तकीए के नीचे रख कर सोने से भी यह परेशानी कॉफी हद तक हल हो सकती है।
7. लहसून
नहाने से पहले लहसून की कुछ कलियों को नींबू के रस के साथ मिलाकर सिर पर लगाने से जुएं मर जाएगी।

सोमवार, 1 अगस्त 2016

स्थायी रूप से कैसे दूर करे पैरों के बाल

स्थायी रूप से कैसे दूर करे पैरों के बाल

महिलाओं को अपने लंबे खूबसूरत पैरों को जितना संभव हो सके उतना और अधिक आकर्षक बनाना चाहती हैं। गर्मियों के मौसम में शॉर्ट्स पहनना हो या किसी खूबसूरत ड्रेस को के साथ किसी पार्टी में शिरकत करनी हो, आकर्षक और साफ पैरों की चाहत हम सभी को होती है। इस आर्टिकल में आपको अपने पैरों को बालों को स्थाई रूप से निकालने के लिए कुछ उपाय मिलते हैं। अनचाहे बाल हटाना (anchahe baal hatana) आसान नहीं होता पर पैरों से बाल हटाने के नुस्खे पूरी तरह से प्राकृतिक और घरेलू हैं, जिसे आप घर पर ही कर सकते हैं।

महिलाओं को शरीर में बालों का ज़्यादा बढ़ना पसंद नहीं होता। और आज की व्यस्त जीवनशैली में इन बालों को नियमित रूप से साफ करना भी संभव नहीं होता। आप इन अनचाहे बालों को कम करने के लिए कुछ प्राकृतिक उपायों की मदद ले सकते हैं जो सुरक्षित और असरदार है।

पैरों से बाल हटाने के प्राकृतिक उपाय (Natural way for Remove hairs from legs)
कच्चे पपीते से हटाएँ पैरों के बाल (Homemade hair remover Crude Papaya)


पपीते में मौजूद तत्व पपैन (papain) होता है जो त्वचा के रोम और बालों को तोड़ कर इनके विकास को कम करता है। खासकर पपीता संवेदनशील त्वचा के लिए बहुत अच्छा होता है।

इसके लिए आपको इन चीजों की आवश्यकता होती है, ¼ चम्मच पपीते का चूर्ण या 1 चम्मच पपीते के गोंद (पपीते से निकलने वाला लसलसा पदार्थ), ¼ चम्मच बेसन, ¼ चम्मच सरसों, 2 चम्मच सरसों का तेल और 2 बूंद एसेंशियल ऑइल (Essential oil).

पपीते का गोंद निकालने के लिए कच्चे पपीते को छिलकर टुकड़े कर लें। अब इन टुकड़ों से गोंद की तरह का पदार्थ निकल कर आता है, इस गोंद में आप ऊपर दी गई सभी चीजों को मिलाकर मिश्रण बना लें। और इसे अपने पैरों पर लगाए। इस मिश्रण को अपने बालों के बढ़ने की विपरीत दिशा की ओर ले जाते हुये लगाएँ और 15 मिनट तक लगा रहने दें और सूखने के लिए छोड़ दें। मसलीन का एक कपड़ा या वेक्स स्ट्रिप की मदद से इसे पैरों पर लगा लें। जब ये मिश्रण सूखने लगे तब आप बालों के बढ़ने की विपरीत दिशा की ओर खींच कर कपड़े को निकाल लें। पानी से पैरों को धो लें और अंत में किसी अच्छे बेबी ऑइल (Baby oil) या जैतून के तेल (Olive oil) से हल्की मसाज करें।

अनचाहे बालों को हटाने के लिए हल्दी (Turmeric is a Home remedy to remove hair)
हल्दी भारतीय और चाइनीज़ मसालों में से एक है जो त्वचा और शरीर के लिए बहुत ही लाभकारी है। इसकी थोड़ी सी मात्रा के उपयोग से ही त्वचा में चमक लाई जा सकती है। स्किन का ग्लो (skin glow) का बढ़ाने के लिए हल्दी का प्रयोग बहुत ही प्रभावकारी होता है। ¼ चम्मच बेसन में ¼ चम्मच चाँवल का आटा और 2 चम्मच हल्दी मिलाकर दूध की सहायता से पेस्ट बना लीजिये। अब इस पेस्ट को अपने शरीर के उन हिस्सों पर लगाइए जहां से बालों को हटाना हो। पैर के बाल हटाने के लिए इस पेस्ट को पैरो में लगा लें और किसी साफ कपड़े से ढ़क दें। हमेशा बालों के बढ़ने की विपरीत दिशा की ओर खींच कर ही बालों को निकालना चाहिए।

शहद चीनी और नींबू के मिश्रण से बाल हटाएँ (Use of honey sugar and lemon to get rid of excess body hair)
शरीर के अनचाहे बालों को हटाने के लिए बड़े स्तर पर शहद, चीनी और नींबू के मिश्रण का प्रयोग किया जाता है। 1 चम्मच शहद, एक चम्मच नींबू का रस और एक चम्मच चीनी के साथ थोड़ा कॉर्न स्टार्च (corn starch) लें। एक बर्तन में शहद और नींबू के रस को गरम करने रख दें। अब इसे चिपचिपा बनाने के लिए चीनी मिलाएँ और जब ये गरम होकर ज़्यादा गाढ़ा हो जाए तो थोड़ा पानी मिला लें।
अपने पैरों पर कॉर्न स्टार्च लगा कर और इस मिश्रण को लगा लें। इसे अपने पैरों पर थोड़े थोड़े हिस्से में लगाएँ और  वेक्सिंग स्ट्रिप की सहायता से खींच कर निकाल लें । शहद, चीनी और नींबू से पैरों के अनचाहे बालों को हटाना आसान होता है। इस विधि का प्रयोग करें और अपने पैरों से अनचाहे बाल हटाएँ। (anchahe baal hataye)

तुलसी और प्याज़ के पेस्ट से अनचाहे बालों को हटायें (Basil and onion hair remover paste)
10 से 12 तुलसी की पत्तियां (basil leaves)और 2 प्याज़ लें। प्याज़ (onion) को छिलकर उसके परतों के नीचे झिल्ली की तरह के आवरण को निकाल लें। इस झिल्लिनुमा आवरण को तुलसी के पत्तों के साथ मिलाकर पीस लें और पेस्ट बनाएँ। इसे पैरों पर लगा कर 20 मिनट के लिए सूखने छोड़ दें। इस प्रयोग को सप्ताह में 3 से 4 बार करें। अगर आप अनचाहे बाल हटाना (anchahe baal hatana) चाहती हैं तो यह उपाय बहुत कारगर होता है। ये अनचाहे बाल हटाने के घरेलू नुस्खे (anchahe baal hatane ke gharelu nuskhe)  हैं जिनका प्रयोग कर आप सुरक्षित तरीके से अनचाहे बालों से आज़ादी पा सकती हैं।