सर्दी जुकाम लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
सर्दी जुकाम लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 21 दिसंबर 2017

इन चीजों के साथ शहद का सेवन करना बन सकता है ज़हर

इन चीजों के साथ शहद का सेवन करना बन सकता है ज़हर


ये बात तो सभी को अच्छे से पता है कि शहद में बहुत सारे गुण पाए जाते हैं. इसके अलावा लड़कियां चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए भी चेहरे पर शहद लगाती हैं. पहले के समय में शहद का इस्तेमाल आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने के लिए भी किया जाता था, लेकिन अगर शहद को सही तरह से इस्तेमाल ना किया जाए तो ये जहर बन जाता है. आज हम आपको बताने जा रहे हैं, शहद का इस्तेमाल किन चीजों के साथ करना चाहिए और किन चीजों के साथ नहीं.

गर्म चीजों के साथ
शहद की तासीर गर्म होती हैं, इसलिए शहद को कभी भी गर्म चीजों के साथ नहीं लेना चाहिए. अगर आप गर्म चीजों के साथ शहद खाते हैं, तो आपका पेट खराब हो सकता है. इसके अलावा आपको बहुत सी हेल्थ प्रॉब्लम भी हो सकती हैं. इसलिए शहद को कभी भी गर्म चीजों के साथ नहीं लेना चाहिए, क्योंकि वो उस समय जहर बन जाता है.
चाय या कॉफी
आपको ये बात जानकार जरुर हैरानी होगी कि चाय और कॉफी के साथ शहद लेने से हमारे शरीर का तापमान बढ़ जाता और हमें घबराहट होनी शुरू हो जाती हैं. कई लोग खांसी-जुखाम होने पर चाय के साथ शहद का सेवन करते हैं, उन्हें ऐसा लगता है कि ऐसा करने से उन्हें फायदा होगा, लेकिन उन्हें फायदा होने के बजाए नुकसान होता है.
मूली और शहद
मूली और शहद दोनों एक दूसरे से बिलकुल अलग होते हैं. शहद के साथ मूली खाने से इंसान के शरीर में टॉक्सिन्स बनने लगते हैं, जिसकी वजह से हमारे शरीर के कई हिस्सों को नुक्सान पहुंच सकता है.
ये भी पढ़िए : शहद खाएं तो इन बातों का रखें ध्यान वरना ये जहर बन जाएगा

गुरुवार, 14 दिसंबर 2017

गर्म पानी से नहाने वाले सावधान, सिर्फ 1 फायदे के लिए कर बैठते हैं ये नुकसान

गर्म पानी से नहाने वाले सावधान, सिर्फ 1 फायदे के लिए कर बैठते हैं ये नुकसान


जैसा कि हम सब जानते ही हैं कि आयुर्वेद में बहुत ही स्पष्ट लिखा गया है कि गर्म पानी से कभी स्नान नहीं करना चाहिए. नहाने के लिए हमेशा ठन्डे पानी का इस्तेमाल करें. क्योकि ठन्डे पानी का तापमान सामान्य रहता है जिससे शरीर को किसी प्रकार की कोई हानि नही पहुँचती. मान लीजिये कि आपको तेज़ बुखार है और आप नहाने के लिए असमर्थ है, इस स्थिति में आप गर्म पानी का इस्तेमाल कर सकते है.

गर्म पानी वेसे तो बेहद फायदेमंद है लेकिन अगर वह केवल पीने के लिए उपयोग किया जाये. लेकिन अगर आपका शरीर एकदम स्वस्थ है तो कभी भी गर्म पानी से न नहाये, वरना आपको कई तरह की बीमारियाँ घेर सकती है. आयुर्वेद में पक्के तौर पर एक सूत्र लिखा गया है कि अगर आप सिर के उपर गरम पानी डालते है तो, आपको 123 प्रकार की खतरनाक बीमारियाँ जकड सकती हैं. ये रोग मानसिक भी हो सकते है और शारीरिक भी.
बहुत सारे भारतीयों को सर्दियों में गरम पानी से नहाने की अदात है खास कर “महाराष्ट्र” के लोग सर्दी में गर्म पानी के बिना नही नहा सकते. अगर आपको भी गरम पानी से नहाने की लत लग चुकी है तो, घबराईये मत आपको डरने की जरूरत नही है बल्कि एक साधारण से उपाए से आप बीमारियों को दूर रख सकते है. और वो उपाए है कि जब भी आप गर्म पानी से नहाये तो, पानी को बेशक सारे अंगो पर डाल लीजिये परन्तु कभी भी सिर पर मत डालिए. क्योकि सिर और आंख में कफ होने के आसार ज्यादा है, इसलिए इन दोनों अंगों पर गरम पानी मत रहने दें.
आँखों और सिर के लिए ठंडा पानी बेहद लाभदायक सिद्ध हो सकता है. इसलिए कोशिश करें कि आप जब भी मुह धोएं तो ठन्डे पानी से ही धोये. हो सके तो सर्दियो में भी गरम पानी की जगह हल्का गुनगुना पानी इस्तेमाल करें. बहुत सारे लोग ऐसा सोचते है कि सर्दी में ठन्डे पानी से नहाने से आपको सर्दी लग जाएगी. जबकि ऐसा कुछ भी नही है. सर्दी का ठन्डे पानी से दूर दूर तक कोई भी लेना-देना नही है. सर्दी उन्ही लोगो को होती है, जिनका पेट साफ़ नही रहता. अगर आपको मसल्स पैन है यानि हड्डियो में या मांसपेशियों में दर्द है तो, आप ठन्डे पानी के बाद गरम पानी डाले. जैसे एक बार शरीर पर ठंडा पानी डालिए, फिर गर्म डालिए, इससे आपके दर्द को काफ़ी राहत मिलेगी.

गर्म पानी से नहाने के नुकसान >>

गर्म पानी से नहाने पर स्किन में रेडनेस, रेशेज और एलर्जी की प्रॉब्लम हो सकती है, स्किन को ड्राई करता है. इससे स्किन इन्फेक्शन का खतरा बढ़ सकता है. गर्म पानी का बालों पर बुरा असर पड़ता है. इससे बालों का मोईसचर कम हो जाता है जिससे बाल रफ और ड्राई हो सकते हैं. गर्म पानी के कारण स्किन की ड्राईनेस बढती है. इससे खुजली की प्रॉब्लम हो सकती है.

गर्म पानी से नहाने पर ऑंखें ड्राई हो जाती है. इसके कारण आँखों में रेडनेस, खुजली और बार-बार पानी आने की प्रॉब्लम हो सकती है. गर्म पानी स्कल्प को ड्राई करता है. ऐसे में डेडरफ बढ़ सकती है. गर्म पानी का हाथ और पैर के नेल्स पर बुरा असर पड़ता है. नेल्स टूटने, इन्फेक्शन और आसपास की स्किन फटने की प्रॉब्लम हो सकती है.

गर्म पानी के कारण स्किन के टिश्यूज डैमेज होने लगते है. ऐसे में स्किन पर समय से पहले झुरियां आ सकती है. गर्म पानी के कारण बालों में डेडरफ की प्रॉब्लम बढ़ने लगती है. ड्राई हो चुके बाल टूटते भी ज्यादा है. इससे बाल झड़ने की प्रॉब्लम बढ़ सकती है. गर्म पानी के कारण स्किन का मोईसचर कम हो जाता है. इसे स्किन का ग्लो कम हो सकता है.

बुधवार, 29 नवंबर 2017

इन आसान घरेलू उपायों से पाएं निमोनिया से निजात

इन आसान घरेलू उपायों से पाएं निमोनिया से निजात


निमोनिया एक बहुत ही गंभीर बीमारी है जो ज्यादातर सर्दी के मौसम में होती है लेकिन आजकल बारिश के दिनों में भी इसके रोगी देखने को मिलते हैं। बारिश में भिगने के बाद व्यक्ति को ठंड लग जाती है जिस वजह से खांसी-जुकाम और कफ की समस्या हो जाती है। धीरे-धीरे यह बढ़कर निमोनिया का रूप धारण कर लेता है। इसके अलावा यह फेफड़ों में इंफैक्शन की वजह से भी हो जाता है। अगर इसका सही समय पर इलाज न किया जाए तो इससे फेफड़ों में पानी भर जाता है और सूजन आ जाती है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय करके इस बीमारी से निजात पाई जा सकती है। आइए जानिए इसके लक्षण और उपचार के बारे में

लक्षण

  • बलगम वाली खांसी
  • सांस लेने में तकलीफ
  • बुखार
  • सीने में दर्द
  • भूख कम लगना

घरेलू उपाय

1. हल्दी और काली मिर्च
निमोेनिया बुखार होने पर छाती में रेशा जमा हो जाता है और सांस लेने में काफी तकलीफ होती है। ऐसे में हल्दी, काली मिर्च, मेथी दाना और अदरक का पानी में उबाल कर काढ़ा बना लें और रोजाना इसका सेवन करें। इससे फेफड़ों की सूजन कम होगी और बुखार में भी आराम मिलेगा।
2. तिल के बीज 
इसके लिए 300 मिलीलीटर पानी में 15 तिल के बीज, 1 चुटकी नमक, 1 चम्मच अलसी और 1 चम्मच शहद मिलाकर नियमित रूप से सेवन करें। इससे छाती में जमा कफ बाहर निकल जाएगा।
3. अदरक
रोजाना अदरक के रस का सेवन करने से भी फायदा होता है। इसके अलावा आप अदरक के टुकड़े को चूस भी सकते हैं।

4. शहद
खांसी होने पर शहद चाटने से आराम मिलता है। ऐसे में निमोेनिया होने पर गुनगुने पानी में शहद मिलाकर पीने से फायदा होता है।
बलगम की समस्या से पाना चाहते हैं छुटकारा, तो अपनाइए ये घरेलु उपाय

बलगम की समस्या से पाना चाहते हैं छुटकारा, तो अपनाइए ये घरेलु उपाय


मौसम के कारण आए बदलाव का असर सेहत पर भी पड़ता है। खांसी,जुकाम, छींको के कारण बॉडी में बलगन जमा होनी शुरू हो जाती है। बलगम को शरीर से निकालना जरूरी है, इससे सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है। बलगन जमने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे ज्यादा देर तक जुकाम रहना,वायरल इंफैक्शन,साइनस आदि। बलगम से समस्या रहती है तो इससे छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय अपना कर राहत पा सकते हैं।

बलगम से समस्या के लिए अदरक और शहद :-
बलगम दूर करने के लिए 50 ग्राम अदरक को पीस कर इसमें 2 चम्मच शहद मिला लें। इस पेस्ट का 1-1 चम्मच दिन में दो बार लें। इससे बहुत राहत मिलेगी। इसके सेवन के बाद गुनगुना गरम पानी घूँट घूँट कर पीना बहुत लाभकारी रहता है ।
बलगम से समस्या के लिए सफेद-मिर्च :-
काली, लाल और हरी मिर्च का प्रयोग तो हम अक्सर करते हैं कभी सफेद मिर्च का प्रयोग करके देखिये । एक चम्मच शहद में आधा चम्मच सफेद काली पीसी मिर्च डालकर मिक्स कर लें। इसे 10-15 सैकेंड के लिए माइक्रोवेव में गर्म करें और पी लीजिए। लगातार एक हफ्ते तक इसका सेवन करने से बलगम से पूरी तरह से छुटकारा मिल जाएगा।
बलगम से समस्या के लिए लेमन टी :-
एक कप ब्लैक टी में 1 चम्मच ताजे नींबू का रस और शहद डाल कर मिक्स कर लें और चुस्की के साथ पी लें। इससे बलगम से राहत मिलेगी। इस चाय में शहद तभी डालें जब चाय अधिक तेज गरम ना हो अन्यथा शहद खराब हो जाता है और लाभ की जगह हानि कर सकता है ।
बलगम से समस्या हो तो प्रयोग करें गाजर :-
गाजर खाने से प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट तत्वों से भरपूर इसका जूस बलगम दूर करने में लाभकारी है। एक गिलास गाजर के जूस में थोड़ा पानी और 1-2 चम्मच शहद मिलाकर पीएं। इससे बलगम की परेशानी दूर हो जाएगी।

बलगम से समस्या हो तो सेवन करें लहसुन और नींबू :-
एक कम पानी में 1 नींबू का रस और थोडा- सा अदरक, आधा टी स्पून काली मिर्च और एक चुटकी नमक डालकर उबालें। इसे पी लें, इससे बलगम साफ हो जाएगी। लहसुन संक्रमण को समाप्त करता है और नींबू बलगम को बाहर निकालकर बलगम से समस्या से राहत देता है ।

बलगम से समस्या हो तो सेवन करें हल्दी :-
रोजाना एक गिलास गर्म दूध में थोड़ी सी हल्दी और आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर डालकर पी लें। आप इसमें शहद भी मिक्स कर सकते। हल्दी बलगम को पिघलाकर बाहर निकालती है और संक्रमण को भी खत्म करती है ।

सोमवार, 27 नवंबर 2017

लौंग के यह इस्तेमाल करेंगे आपकी सेहत संबंधी परेशानियाँ को दूर

लौंग के यह इस्तेमाल करेंगे आपकी सेहत संबंधी परेशानियाँ को दूर


अधिकतर घरों में लोग कई चीजों के लिए लौंग का इस्तेमाल करते हैं। यह खाने के स्वाद और महक दोनों को बढ़ाता हैं। मगर क्या आप लोग जानते है कि लॉन्ग हमारी सेहत के लिए भी बहुत लाभकारी होता हैं। इसका सेवन करने से सेहत से जुड़ी छोटी – मोटी परेशानियाँ दूर होती हैं। आइए जानते हैं लौंग का अलग – अलग तरह से इस्तेमाल करने से होने वाले फायदों के बारे में।

1. खांसी से राहत पाएं 
अगर आप खांसी की समस्या से परेशान हैं तो ऐसे में आप अपने मुँह में लौंग रखकर चूसें। इससे खांसी आना बंद हो जाएगा और आपको खांसी की समस्या से राहत मिलेगी।
2. जुकाम से राहत पाएं
सर्दी – जुकाम की समस्या से राहत पाने के लिए लौंग का इस्तेमाल बेहद फायदेमंद होता हैं। इसे इस्तेमाल करने के लिए आप एक सूती रूमाल पर लौंग के तेल की कुछ बुँदे डालकर उसे सूंघ लें। इससे सर्दी – जुकाम से राहत मिलेगी और इससे बंद नाक भी खुल जाएगी।
3. जोड़ों के दर्द से राहत पाएं 
बढ़ती उम्र के साथ जोड़ों के दर्द की समस्या आम तौर पर देखी जाती हैं। इस परेशानी से छुटकरा पाने के लिए लौंग के तेल से मालिश करें। इससे जोड़ों का दर्द और सूजन ठीक हो जाती हैं।

4. सीने की जलन से राहत पाएं
लौंग के इस्तेमाल से आप सीने की जलन से राहत पा सकती हैं। इसे इस्तेमाल करने के लिए आप एक ग्लास पानी में दो – तीन लौंग को डालकर उबाल लें और फिर इसमें मिश्री मिलाएं। इस पानी का सेवन करने से सीने की जलन दूर हो जाती हैं।